Home /News /world /

लॉकडाउन का असर : पाकिस्‍तान के केपी में महिलाओं के साथ घरेलू हिंसा बढ़ी, मुफलिसी बनी वजह

लॉकडाउन का असर : पाकिस्‍तान के केपी में महिलाओं के साथ घरेलू हिंसा बढ़ी, मुफलिसी बनी वजह

बिहार के मुजफ्फरपुर में 3 महिलाओं के साथ पंचायत में अमानवीय व्यवहार. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

बिहार के मुजफ्फरपुर में 3 महिलाओं के साथ पंचायत में अमानवीय व्यवहार. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

खैबर पख्तूनख्वा में सरकार की ओर से जारी आंकड़ों के हवाले से बताया गया है कि यहां लॉकडाउन के दौरान 390 महिलाओं को घरेलू हिंसा का निशाना बनाया गया. वहीं इस रिपोर्ट में यह खासतौर पर कहा गया है कि खैबर पख्तूनख्वा में हिंसा में वृद्धि आर्थिक संकट की वजह से हुई है.

अधिक पढ़ें ...
    पेशावर. दुनिया भर में फैले कोरोना वायरस (Corona virus) के संक्रमण के मद्देनजर लगाए गए लॉकडाउन (Lockdown) का असर अब लोगों के पारिवारिक जीवन पर पड़ने लगा है. जहां दुनिया के कई देशों में इस दौरान घरेलू हिंसा के बढ़ने की खबरें आई हैं, वहीं पाकिस्‍तान के खैबर पख्तूनख्वा (Khyber Pakhtunkhwa) में भी घरेलू हिंसा के मामले बढ़ने लगे हैं. पहले से ही कई समस्‍याओं से जूझ रहे प्रांत में आर्थिक संकट ने घरेलू हिंसा के मामलों को बढ़ाया हे.

    लॉकडाउन के दौरान 390 महिलाओं को घरेलू हिंसा का निशाना बनाया
    खैबर पख्तूनख्वा में सरकार की ओर से जारी आंकड़ों के हवाले से बताया गया है कि यहां लॉकडाउन के दौरान 390 महिलाओं को घरेलू हिंसा का निशाना बनाया गया. वहीं इस रिपोर्ट में यह खासतौर पर कहा गया है कि खैबर पख्तूनख्वा में हिंसा में वृद्धि आर्थिक संकट की वजह से हुई है. गौरतलब है कि पाकिस्तान के अन्‍य इलाकों में भी इस तरह के मामलों में इजाफा हुआ है. इसके मद्देनजर मानवाधिकार मंत्रालय ने हाल में एक हेल्पलाइन की शुरुआत की है. इस पर पहले ही दिन 34 शिकायतें दर्ज कराई गईं. आम दिनों में हेल्पलाइन दिन में 16 घंटे काम करती थी. हालांकि मौजूदा स्थिति में यह सुबह 10 से रात 10 बजे तक काम कर रही है. कोरोना वायरस की वजह से दुनिया भर के अधिकांश देशों में लॉकडाउन लगाया गया है. हालांकि इससे लोग कोरोना के संक्रमण से तो महफूज हैं, लेकिन इस दौरान घरेलू हिंसा की घटनाओं में वृद्धि होती जा रही है.

    कोरोना से जूझ रहे लोगों के बद्तर आर्थिक हालात घरेलू हिंसा की अहम वजह
    एक विदेशी समाचार एजेंसी की रिपोर्ट के मुताबिक कोरोना वायरस के बाद से दुनिया भर में घरेलू हिंसा की घटनाओं में भारी वृद्धि हुई है. मगर इस ओर किसी का भी ध्‍यान नहीं है. घरेलू हिंसा की घटनाएं ब्राजील से जर्मनी और इटली से चीन तक बढ़ गई हैं. गौरतलब है कि जब से कोरोना वायरस का संक्रमण फैला है, तब से इसकी रोकथाम के लिए लॉकडाउन लगाया गया है. मगर कोरोना की वजह से आर्थिक संकट से जूझ रहे लोगों के लिए बद्तर होते आर्थिक हालात घरेलू हिंसा की अहम वजह बन रहे हैं.

    ये भी पढ़ें - लॉकडाउन के नियम नहीं मान रहे पाकिस्तानी, 13000 पहुंचे जेल

                     गाली-गलौज पर उतरे इमरान के मंत्री, कहा- 'चोर को चोर ही कहेंगे'


    Tags: Corona, Lockdown, Pakistan

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर