लाइव टीवी

कुवैत में टिड्डियों से बनी डिशेज़ की धूम, कुछ को सिके टिड्डे पसंद तो कुछ को भाता है करारा

News18Hindi
Updated: February 3, 2020, 9:25 AM IST
कुवैत में टिड्डियों से बनी डिशेज़ की धूम, कुछ को सिके टिड्डे पसंद तो कुछ को भाता है करारा
कुवैत में टिड्डे के सूखे हुए व्यंजन (ड्राई) बहुत अधिक पसंद हैं

कुवैत में लोगों के बीच टिड्डी से बने व्यंजनों ने धूम मचा रखी है. कुछ लोग सिंके हुए टिड्डे का लुत्फ उठाना पसंद करते हैं तो कुछ को टिड्डे के सूखे हुए व्यंजन (ड्राई) बहुत अधिक पसंद हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 3, 2020, 9:25 AM IST
  • Share this:
कुवैत सिटी. पाकिस्तान (Pakistan) टिड्डियों के आतंक से बहुत परेशान है, टिड्डियों (Grasshopper) का एक दल पिछले साल जून में ईरान के रास्ते पाकिस्तान पहुंचा गया था. इन टिड्डियों के कारण इमरान सरकार (Imran Khan) सरकार को राष्ट्रीय आपदा (National Emergency) का ऐलान करना पड़ा. वहीं कुवैत में लोगों के बीच टिड्डी से बने व्यंजनों ने धूम मचा रखी है. कुछ लोग सिके हुए टिड्डे का लुत्फ उठाना पसंद करते हैं तो कुछ को टिड्डे के सूखे हुए व्यंजन (ड्राई) बहुत अधिक पसंद हैं.

पत्रकार ने कहा टिड्डे का व्यंजन बहुत पसंद
अबू महमूद ने कहा कि मैं जनवरी से अप्रैल के बीच चलने वाले सीजन में टिड्डियों की लगभग 500 थैलियां बेच देता हूं. एक थैली का वजन आमतौर पर 250 ग्राम होता है. वहीं पेशे से पत्रकार मूदी अल मिफ्ताह (64) ने कहा, 'मुझे टिड्डे से बने व्यंजन बेहद पसंद हैं. यह मेरी बचपन की यादों से जुड़े हैं और मुझे मेरे दादा-दादी और पिता की याद दिलाते हैं.'

मिफ्ताह हर साल टिड्डों के बाजार में आने का इंतजार करती हैं और खुद ही उन्हें पकाती हैं. उनको टिड्डियों के करारा व्यंजन पसंद हैं. उन्होंने बताया कि उनके कई परिचित काफी पहले ही टिड्डे या अन्य कीट खाने छोड़ चुके हैं इसी कारण कुवैत में टिड्डी की खपत घट रही है, खासकर युवा पीढ़ी के बीच.

सऊदी अरब से आयात की जाती हैं टड्डियां
विशेषज्ञों का कहना है कि वे प्रोटीन का एक उत्कृष्ट स्रोत है. कुवैत में बुजुर्ग लोगों के बीच अब भी यह व्यंजन खासे लोकप्रिय हैं. अबू महमूद (63) आमतौर पर मछलियां बेचते हैं, लेकिन जब सीजन आता है तो वह टिड्डी और कवक बेचना शुरू कर देते हैं. महमूद ने कहा कि "सर्दियों की रातों के दौरान टिड्डियों को पकड़ा जाता है (जब वे उड़ नहीं रहे होते हैं) और हम उन्हें सऊदी अरब से आयात करते हैं."

कुछ को इसलिए नहीं पसंद टड्डियांकिराने का सामान खरीदने आए अली साद (20) भी टिड्डी या अन्य कीट खाना पसंद नहीं करते. वह कहते हैं, 'मैंने कभी भी टिड्डी खाने के बारे में नहीं सोचा. जब हमारे पास खाने के लिये हर तरह का मांस है, तो मैं कीट क्यों खाऊं?' टिड्डियां दुनिया के कई हिस्सों में खाई जाती हैं और यह कुछ व्यंजनों का एक मुख्य स्रोत भी हैं.

ये भी पढ़ें: पाकिस्‍तान को अब टिड्डियों ने किया परेशान, इमरान ने किया इमरजेंसी का ऐलान

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दुनिया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 3, 2020, 9:08 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर