Home /News /world /

घटाया जा रहा है क्वारंटीन पीरियड, पहले 10 फिर 7 और अब सिर्फ 5 दिन का, जानिए आखिर क्यों

घटाया जा रहा है क्वारंटीन पीरियड, पहले 10 फिर 7 और अब सिर्फ 5 दिन का, जानिए आखिर क्यों

कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच कई देशों ने क्वारंटीन नियमों में बदलाव किए हैं.(फाइल फोटो)

कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच कई देशों ने क्वारंटीन नियमों में बदलाव किए हैं.(फाइल फोटो)

Coronavirus, Covid-19, Home Quarantine: स्वास्थ्य सुरक्षा एजेंसी ने क्वारंटीन पीरियड को लेकर एक स्टडी भी की जिसमें यह सामने आया कि आठ प्रतिशत लोग अभी भी पांचवे दिन संक्रामक होगें जबकि सातवे दिन यह सिर्प 6.2 प्रतिशत रह जाता है. इसी के साथ ही एक अन्य अध्ययन में यह भी पता चलता है कि ओमिक्रॉन कोविड के दूसरे वेरिएंट की तुलना में काफी हल्का है और रिपोर्ट में यह सामने आया है कि अस्पताल में भर्ती होने का जोखिम भी डेल्टा की तुलना में 50 प्रतिशत तक कम है.

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्ली: दुनिया भर के देशों की अर्थव्यवस्था पर कोरोना महामारी (Corona Pandemic) का बड़ा गहरा और बुरा प्रभाव पड़ा है. तमाम देश अब आर्थिक गतिविधियों को तेज करने के लिए कोरोना प्रोटोकॉल पर भी बदलाव कर रहे हैं. गुरुवार को यूके सरकार (UK Government) ने एक बड़ा फैसला लेते हुए क्वारंटीन पीरियड (Quarantine period) की समय सीमा को एक बार फिर से घटा दिया है. सरकार ने कहा कि आर्थिक गतिविधी में तेजी लाने के लिए अब कोरोना संक्रमित लोगों के क्वारंटीन पीरियड को सात दिन से घटाकर सिर्फ पांच दिनों का करने का फैसला लिया गया है.

परिवर्तनों की घोषणा करते हुए स्वास्थ्य सचिव साजिद जाविद ने कहा कि सरकार इस नीति की समीक्षा करेगी कि संक्रामक लोगों के क्वारंटीन से बाहर आने से जोखिम न हो और साथ ही आर्थिक गतिविधि को भी बढ़ाया जा सके. जाविद ने कहा कि जहां तक संभव हो हमारी स्वतंत्रता में एक दिन का भी प्रतिबंध नहीं होना चाहिए.

स्वास्थ्य सचिव ने कहा कि जो लोग क्वारंटीन से बाहर आएंगे उन्हें कोरोना टेस्ट अनिवार्य होगा और रिपोर्ट नेगेटिव आने पर ही क्वारंटीन खत्म किया जा सकेगा. गौरतलब है कि इससे पहले इंग्लैंड सरकार ने क्रिसमस से ठीक पहले क्वारंटीन पीरियड को 10 दिन से घटा कर पांचदिन कर दिया था और एक बार सरकार ने फिर से क्वरंटीन नियमों में संशोधन किया है.

यूके की एक स्वास्थ्य सुरक्षा एजेंसी ने क्वारंटीन पीरियड को लेकर एक स्टडी भी की जिसमें यह सामने आया कि आठ प्रतिशत लोग अभी भी पांचवे दिन संक्रामक होगें जबकि सातवे दिन यह सिर्प 6.2 प्रतिशत रह जाता है. इसी के साथ ही एक अन्य अध्ययन में यह भी पता चलता है कि ओमिक्रॉन कोविड के दूसरे वेरिएंट की तुलना में काफी हल्का है और रिपोर्ट में यह सामने आया है कि अस्पताल में भर्ती होने का जोखिम भी डेल्टा की तुलना में 50 प्रतिशत तक कम है.

स्वास्थ्य सचिव जाविद ने कहा कि यूके की स्वास्थ्य सुरक्षा एजेंसी के आंकड़ों से पता चला है कि लगभग दो-तिहाई सकारात्मक कोविड मामले घर पर रहने के पांच दिन के अंत तक संक्रामक नहीं थे.

आपको बता दें कि यूरोप में कोरोना महारामारी का जमकर कहर टूटा है और इसका सबसे ज्यादा प्रकोप ब्रिटेन में देखने को मिला है. यहां कोविड -19 वायरस से 1.5 लाख से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है. कोरोना के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन की भी यहां एक विशाल लहर देखी गई है जो कि पिछले महीने में शुरू हुई थी लेकिन अब कुछ हद तक कम हुई है.

Tags: Coronavirus, Home Quarantine

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर