पाकिस्तान में फलस्तीन के समर्थन में रैली के दौरान विस्फोट, 6 लोगों की मौत; 14 घायल

बलूचिस्तान प्रांत की सरकार के प्रवक्ता लियाकत शाहवानी ने कहा कि यह विस्फोट उस समय हुआ जब रैली चमन शहर के एक बाजार से होकर गुजर रही थी.

बलूचिस्तान प्रांत की सरकार के प्रवक्ता लियाकत शाहवानी ने कहा कि यह विस्फोट उस समय हुआ जब रैली चमन शहर के एक बाजार से होकर गुजर रही थी.

Pakistan News: इजराइल और फलस्तीन के बीच पिछले 11 दिनों से संघर्ष चल रहा है जिसमें अब तक 240 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है. विस्फोट वाली जगह को सुरक्षाकर्मियों ने घेर दिया है.

  • Share this:

इस्लामाबाद. पाकिस्तान (Pakistan) के दक्षिण-पश्चिमी बलूचिस्तान प्रांत में शुक्रवार को फलस्तीन (Palestine) के समर्थन में एक रैली के दौरान हुए बम विस्फोट में कम से कम छह लोगों की मौत हो गई और 14 अन्य घायल हो गए.

बलूचिस्तान प्रांत की सरकार के प्रवक्ता लियाकत शाहवानी ने कहा कि यह विस्फोट उस समय हुआ जब रैली चमन शहर के एक बाजार से होकर गुजर रही थी.

धमाके में 6 लोगों की मौत की पुष्टि

शाहवानी ने बताया कि इस धमाके में छह लोगों की मौत हो गयी जबकि 14 अन्य घायल हो गए. घायलों में से 10 लोगों को स्थानीय अस्पतालों में भर्ती कराया गया है जबकि शेष लोगों को क्वेटा के अस्पतालों में भेजा गया है. यह रैली फलस्तीन के लोगों के प्रति एकजुटता प्रकट करने के लिए निकाली जा रही थी. इस रैली में पश्चिम एशिया में अस्थिरता पैदा करने की धमकी भी दी गयी.
इजराइल और फलस्तीन के बीच 11 दिनों से जारी है संघर्ष

दरअसल, इजराइल और फलस्तीन के बीच पिछले 11 दिनों से संघर्ष चल रहा है जिसमें अब तक 240 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है. विस्फोट वाली जगह को सुरक्षाकर्मियों ने घेर दिया है.

इस रैली का आयोजन इस्लामिक राजनीतिक संगठन जमीयत उलेमा-ए-इस्लाम-नजरयाती (जेयूआई-एन) ने किया था. रैली में पार्टी के वरिष्ठ नेता अब्दुल कादिर लुनी और कारी महरुल्ला भी मौजूद थे. दोनों नेता सुरक्षित हैं.



ये भी पढ़ेंः- VIDEO: पुलिस ने काटा चालान; फोड़ी दी बाइक की लाइट, गुस्साई महिला SDM को मारने दौड़ी चप्पल


ब्लूचिस्तान के मुख्यमंत्री ने की हमले की निंदा

शाहवानी ने कहा, ‘‘हमला करने वाले लोग फलस्तीन के प्रति एकजुटता के खिलाफ हैं और वे इजराइल का समर्थन करते हैं.’’ बलूचिस्तान के मुख्यमंत्री जाम कमाल खान ने इस हमले की निंदा की है. इस हमले की जिम्मेदारी अब तक किसी भी संगठन ने नहीं ली है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज