विदेश मंत्री जयशंकर ने कहा-अफगानिस्तान में भारत के 400 प्रोजेक्ट, कोने-कोने में है निवेश, जल्द हो सीजफायर

विदेश मंत्री एस. जयशंकर मंगलवार को तीन देशों की छह दिवसीय यात्रा पर रवाना होंगे.

Afghanistan2020 Conference में विदेश मंत्री एस. जयशंकर (Foreign Minister S. Jaishankar) ने कहा कि भारत ने अफगानिस्तान के विकास के लिए सभी 34 प्रांतों में निवेश किया है.

  • Share this:
    नई दिल्ली. विदेश मंत्री एस. जयशंकर (Foreign Minister S. Jaishankar) ने अफगानिस्तान 2020 कॉन्फ्रेंस (Afghanistan2020 Conference) को संबोधित करते हुए कहा कि शांति प्रक्रिया अफगानिस्तान की अगुआई में होनी चाहिए. साथ ही पड़ोसी देश में हिंसा रोकने के लिए तत्काल और व्यापक स्तर पर सीजफायर होना चाहिए. विदेश मंत्रालय (MEA) के प्रवक्ता अनुराग श्रीवास्तव ने बताया कि कॉन्फ्रेंस में विदेश मंत्री ने कहा कि शांति प्रक्रिया पर अफगानिस्तान की पकड़ होना बहुत जरूरी है.

    विदेश मंत्री ने कहा कि भारत ने अफगानिस्तान में बहुत ज्यादा निवेश किया है. अफगानिस्तान का कोई भी हिस्सा भारत के 400 से ज्यादा प्रोजेक्ट्स से अछूता नहीं है. सभी 34 प्रांतों में भारत विकास से जुड़े प्रोजेक्ट्स पर काम कर रहा है.

    बता दें कि विदेश मंत्री मंगलवार को तीन देशों की यात्रा पर रवाना हुए. एस. जयशंकर बहरीन, संयुक्त अरब अमीरात और सेशेल्स की छह दिवसीय यात्रा पर जाएंगे. कोरोना संकट के समय हो रही ये यात्रा काफी महत्वपूर्ण है.

    पढ़ेंः भारत-चीन संबंधों पर जयशंकर बोले- LAC पर यथास्थिति में परिवर्तन अस्वीकार्य

    विदेश मंत्री सबसे पहले बहरीन जाएंगे और इसके बाद उनका संयुक्त अरब अमीरात जाने का कार्यक्रम है. दौरे के आखिर में विदेश मंत्री सेशेल्स जाएंगे. बता दें कि बहरीन के प्रधानमंत्री प्रिंस अल खलीफा बिन सलमान का हाल ही में निधन हो गया था.

    ये भी पढ़ेंः आक्रामकता दिखाकर अब 'स्वीट डील' करना चाहता चीन लेकिन भारत झुकेगा नहीं

    इस दौरान बहरीन के नेताओं के साथ द्विपक्षीय, क्षेत्रीय और अंतरराष्ट्रीय मुद्दों पर भी बातचीत होगी. बहरीन में प्रवासी भारतीयों की संख्या काफी ज्यादा है. तकरीबन 3 लाख से ज्यादा भारतीय बहरीन में रहते हैं.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.