लाइव टीवी

गम्‍स से निकल रहे बालों से परेशान है ये महिला, जानें क्‍यों हो रही है ये दिक्कत?

News18Hindi
Updated: February 6, 2020, 1:55 PM IST
गम्‍स से निकल रहे बालों से परेशान है ये महिला, जानें क्‍यों हो रही है ये दिक्कत?
इटली में गम्‍स से बालों के निकलने का मामला सामने आया है.

इटली की 25 वर्षीय महिला (Italian Woman) पहली बार 2009 में इस समस्‍या से परेशान होकर डॉक्‍टर्स के पास गई थी. डॉक्‍टर्स का मानना है कि महिला को ये समस्‍या पॉलीसिस्टिक ओवरी सिंड्रोम (PCOS) के कारण हुई है. हार्मोनल ट्रीटमेंट के जरिये अनचाहे बालों का बढ़ना रोका जा सका.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 6, 2020, 1:55 PM IST
  • Share this:
लंदन. इटली की एक महिला के मुंह में गम्‍स से आईलैश की तरह के बाल (Eyelash Like Hairs) निकलने का मामला सामने आया है. यह अपनी तरह का दुनिया का छठा मामला है. डॉक्‍टर्स भी इस रेयर केस को देखकर हैरान हैं. उनका मानना है कि 25 वर्षीय इस महिला को पॉलीसिस्टिक ओवरी सिंड्रोम (PCOS) के कारण ये समस्‍या हुई है. बताया जा रहा है कि इस महिला ने 10 साल पहले इस समस्‍या से परेशान होकर डॉक्‍टर्स से मदद मांगी थी.

बहुत ज्‍यादा है महिला के टेस्‍टोस्‍टेरॉन का स्‍तर
मेडिकल जांच में पता चला कि महिला के टेस्‍टोस्‍टेरॉन (Testosterone) का स्‍तर बहुत ज्‍यादा है. ये PCOS के लक्षण हैं और इससे अनचाहे बाल बढ़ने की समस्‍या होने लगती है. हार्मोनल ट्रीटमेंट के जरिये इन आईलैश का बढ़ना बंद हो पाया. इटली की इस महिला ने छह साल बाद PCOS की दवाइयां लेनी बंद कर दीं. इसके बाद उसकी समस्‍या बदतर हो गई. डॉक्‍टर्स ने उसके गम्‍स टिश्‍यू की भी जांच की, लेकिन उन्‍हें उससे परेशानी का कारण समझने में मदद नहीं मिली. महिला का इटली में कैंपेनिया यूनिवर्सिटी में इलाज किया गया. सबसे पहली बार ये महिला 15 साल की उम्र में 2009 में डॉक्‍टर्स के पास अपनी समस्‍या से छुटकारा पाने के लिए गई थी.

मेडिकल जांच में ओवरी पर मिलीं कई गांठ भी

महिला के मुंह के अंदर, ठुड्डी और गले पर भी बहुत ज्‍यादा बाल हैं. मेडिकल जांच में टेस्‍टोस्‍टेरॉन का स्‍तर बढ़ा होने के साथ ही ओवरी पर कई गांठ (Cysts) भी मिलीं. इसके बाद PCOS को लेकर जांच की गई. अनचाहे बालों के अलावा महिला का वजन भी बढ़ने लगा. इस समस्‍या के कारण बांझपन की समस्‍या भी हो सकती है. बर्थ कंट्रोल पिल्‍स इसके लक्षणों को कम करने में मददगार हो सकती हैं. छह साल तक इटली की इस महिला ने इन्‍हीं गोलियों के सहारे अपनी समस्‍या को काबू में रखा.

इस समस्‍या से परेशान दुनिया की पहली महिला
इटली की इस महिला ने किसी वजह से PCOS की दवाई लेना बंद कर दिया. इसके बाद अनचाहे बालों की समस्‍या ज्‍यादा गंभीर रूप में उभर आई. इस बार मेडिकल टीम ने ना सिर्फ उसके गम्‍स से बाल हटाए, बल्कि कुछ टिश्‍यू भी निकाल लिए. गम्‍स और नाक समेत शरीर के कुछ हिस्‍सों के टिश्‍यू में एपिथेलियल सेल्‍स होते हैं. शोधों के मुताबिक, मुंह के अंदर के मसल टिश्‍यू हमारी त्‍वचा को बनाने वाले टिश्‍यू से काफी मिलते-जुलते होते हैं. मुंह के अंदर बालों और तैलीय टिश्‍यू होते हैं. तैलीय टिश्‍यू बहुत ही कॉमन हैं, लेकिन मुंह के अंदर बालों का होना रेयर होता है. ये दुनिया की पहली महिला हैं, जिनके मुंह में गम्‍स से बाल निकलने की समस्‍या है.दुनिया में पांच पुरुष भी इस समस्‍या से हैं परेशान
दुनिया में पांच अन्‍य पुरुष इस समस्‍या से ग्रस्‍त हैं. मंडिकल जांच के दौरान पुरुषों में PCOS नहीं पाया गया. इससे इस समस्‍या की गंभीरता और भी बढ़ जाती है. एक साल के भीतर इटली की इस महिला की स्थिति और भी गंभीर हो गई. उसके ऊपर और नीचे के गम्‍स में ज्‍यादातर दातों के बीच बाल निकलने लगे. अभी यह स्‍पष्‍ट नहीं हो पाया है कि महिला रिकवर हो गई है या उसका ट्रीटमेंट किया गया है. पॉलीसिस्टिक ओवरी सिंड्रोम (PCOS) हार्मोनल डिस्‍ऑर्डर है. इससे ओवरीज का आकार बढ़ जाता है और बाहरी किनारों पर कई छोटी-छोटी गांठें बन जाती हैं.
ये भी पढ़ें:

उम्मीदों पर खरे उतरेंगे लेकिन विपक्ष की बेरोजगारी खत्म नहीं होने देंगे: PM

RBI ने ब्याज दरों में नहीं किया कोई बदलाव, रियल एस्टेट के लिए राहत का ऐलान

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दुनिया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 6, 2020, 1:38 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर