क्या ग्रे लिस्ट में बना रहेगा पाकिस्तान, या होगा ब्लैक लिस्ट, FATF आज करेगा फैसला

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान. फाइल फोटो: AFP

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान. फाइल फोटो: AFP

फ्रांस स्थिति वित्तीय कार्रवाई कार्यदल (FATF) की आज खत्‍म हो रही बैठक में पाकिस्‍तान के भविष्‍य पर फैसला होगा. इसमें यह ऐलान होगा क‍ि पाकिस्‍तान (Pakistan) ब्‍लैक ल‍िस्‍ट होगा या ग्रे ल‍िस्‍ट में बना रहेगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 25, 2021, 3:42 PM IST
  • Share this:
इस्‍लामाबाद. आतंकियों को पनाह देने वाला पाकिस्‍तान (Pakistan) पेरिस स्थित वित्तीय कार्रवाई कार्यदल (FATF) की ग्रे लिस्‍ट में बना रहेगा या ब्‍लैक लिस्‍ट होगा, आज इसका फैसला हो जाएगा. एफएटीएफ की प्‍लेनरी मीटिंग चल रही है और आज रात भारतीय समयानुसार करीब नौ बजे पाकिस्‍तान के भविष्‍य पर फैसला हो जाएगा. बताया जा रहा है कि इस बैठक में पाकिस्‍तान के जून तक ग्रे लिस्‍ट में बने रहने का ऐलान हो सकता है.

सूत्रों के मुताबिक एफएटीएफ की इस बैठक में पाकिस्‍तान को ब्‍लैक लिस्‍ट करने पर भी चर्चा हो रही है. हालांकि उसकी संभावना कम है. इसी खतरे को देखते हुए अब पाकिस्‍तानी पीएम इमरान खान चीन, तुर्की और मलेशिया की ओर टकटकी लगाए देख रहे हैं जो उसे ब्‍लैक लिस्‍ट होने से रोक सकते हैं. पाकिस्‍तानी अखबार डॉन की रिपोर्ट के मुताबिक पाकिस्‍तान एफएटीएफ की ग्रे लिस्‍ट में बना रह सकता है.

एफएटीएफ की बैठक से पहले पाकिस्‍तान ने दावा किया है कि उसने आतंकियों के वित्‍तपोषण को रोकने की दिशा में काफी प्र‍गति की है लेकिन एफएटीएफ के सदस्‍य देश उसकी राय से सहमत नहीं हैं. यही नहीं खुद अब पाकिस्‍तानी अधिकारियों का कहना है कि अगर पाकिस्‍तान के साथ बहुत अच्‍छा हुआ तो भी वह जून तक तो ग्रे लिस्‍ट में बना रहेगा.



ये भी पढ़ें:-  अर्जुन मार्क 1ए टैंक और एंटी टैंक गाइडेड मिसाइल नाग से डरा पाकिस्‍तान कर रहा ये काम
ब्लैक लिस्ट के बारे में भी किया जाएगा विचार
पाकिस्‍तान के भविष्‍य पर फैसला 25 फरवरी को एफएटीएफ के अध्‍यक्ष 4 दिन तक चलने वाली वर्चुअल बैठक के बाद सुनाएंगे. एफएटीएफ के ताजा अपडेट के मुताबिक पाकिस्‍तान ने धनशोधन को रोकने के लिए कुछ प्रयास किए हैं. हालांकि विशेषज्ञों का कहना है कि ये पाकिस्‍तानी प्रयास नाकाफी हैं. बताया जा रहा है कि इस बैठक पाकिस्‍तान को ब्‍लैक लिस्‍ट करने के बारे में भी विचार किया जाएगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज