Home /News /world /

अमेरिका में दिए जा सकते हैं मॉडर्ना और J&J टीकों के मिक्स एंड मैच बूस्टर डोज, FDA की मंजूरी

अमेरिका में दिए जा सकते हैं मॉडर्ना और J&J टीकों के मिक्स एंड मैच बूस्टर डोज, FDA की मंजूरी

इसका फायदा उन लोगों को होगा जिन्हें एक ब्रांड की वैक्सीन से साइड इफेक्ट हो रहे हैं.

इसका फायदा उन लोगों को होगा जिन्हें एक ब्रांड की वैक्सीन से साइड इफेक्ट हो रहे हैं.

फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन का बूस्टर डोज देने का फैसला अमेरिका में वैक्सीनेशन अभियान की नई दिशा में एक बड़ा कदम साबित हो सकता है. हालांकि लोगों को बूस्टर डोज कैसे और कब दिया जाना चाहिए इस पर एक विशेषज्ञों का पैनल विचार करेगा, जिसके बाद ही कोई फैसला लिया जाएगा.

अधिक पढ़ें ...

    वॉशिंगटन. अमेरिकी फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन (FDA) ने कोरोना वैक्सीन की बूस्टर डोज के लिए मिक्स एंड मैच स्ट्रैटजी को मंजूरी दे दी है. एफडीए की ओर से जारी किए गए आधिकारिक बयान में कहा गया है कि मिक्स एंड मैच स्ट्रैटजी का उपयोग उन लोगों के लिए किया जाए, जिन्होंने अपनी कोविड वैक्सीन ले ली है और उन्हें बूस्टर शॉट की आवश्यकता है. FDA के नए फैसले के अनुसार, जिन लोगों को शुरू में मॉडर्ना वैक्सीन की दो खुराक मिल चुकी है और वह 65 या उससे अधिक उम्र के हैं, या 18 वर्ष से अधिक के हैं और उच्च जोखिम की श्रेणी में आते हैं तो उन्हें अब बूस्टर डोज दी जा सकती है. ऐसे ही वयस्क जिन्हें पहले J&J वैक्सीन की एक खुराक मिल चुकी है, वे भी बूस्टर डोज के लिए पात्र माने जाएंगे.

    फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन का बूस्टर डोज देने का फैसला अमेरिका में वैक्सीनेशन अभियान की नई दिशा में एक बड़ा कदम साबित हो सकता है. हालांकि लोगों को बूस्टर डोज कैसे और कब दिया जाना चाहिए इस पर एक विशेषज्ञों का पैनल विचार करेगा, जिसके बाद ही कोई फैसला लिया जाएगा. रिपोर्ट्स के मुताबिक, इस फैसले से कोरोना वैक्सीन की दो अलग-अलग कंपनियों के डोज को मिक्स एंड मैच करने की इजाजत होगी, ताकि लोगों को आसानी से वैक्सीन की खुराक मिल सके. वैक्सीन मिक्स एंड मैच स्ट्रैटजी का फायदा उन लोगों को मिलने की उम्मीद लगाई जा रही है जिन्हें किसी एक ब्रांड से साइड इफेक्ट हो रहा है.

    एफडीए ने कहा कि बूस्टर डोज के लिए किसी भी ब्रांड का उपयोग करना ठीक है. इस तरह शॉट्स की अदला-बदली से बूस्टर अभियान को गति मिलने की उम्मीद है, विशेष रूप से नर्सिंग होम और अन्य संस्थाओं में जहां निवासियों को समय के साथ अलग-अलग शॉट मिले हैं. एफडीए के अधिकारियों का कहना है कि वे बूस्टर डोज को फ्लेक्सिबल बनाना चाहते हैं क्योंकि देश के ज्यादातर लोगों को यह याद ही नहीं है कि उन्हें वैक्सीन का कौन सा ब्रांड लिया है.

    एफडीए के डॉ पीटर मार्क्स ने कहा, ऐसा करना एक अच्छा कदम साबित हो सकता है. हम फ्लू की वैक्सीन के साथ भी तो ऐसा ही करते हैं क्योंकि ज्यादातर लोगों को इस बात की जानकारी ही नहीं होती है उन्हें कौन सी फ्लू वैक्सीन दी गई है. उन्होंने कहा कि इस कदम के बाद बहुत से लोग उसी कंपनी से बूस्टर लेने का फैसला लेंगे, जिसका टीका उन्होंने लिया है.

    Tags: Corona vaccine, Corona Virus Vaccine, Corona Virus Vaccine Updates, Coronavirus vaccine, Johnson and Johnson

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर