• Home
  • »
  • News
  • »
  • world
  • »
  • रूस ने हमला करके यूक्रेन के जहाज़ों पर किया कब्जा, युद्ध का बढ़ा खतरा

रूस ने हमला करके यूक्रेन के जहाज़ों पर किया कब्जा, युद्ध का बढ़ा खतरा

 क्रीमियाई प्रायद्वीप के पास यूक्रेन के नौसैनिक जहाज

क्रीमियाई प्रायद्वीप के पास यूक्रेन के नौसैनिक जहाज

रूस का कहना है कि यूक्रेन के तीन नौसैनिक जहाज़ गैरकानूनी तरीके उसकी जल सीमा में से घुस आए थे.

  • Share this:
    रूस ने यूक्रेन के तीन नौसैनिक जहाज़ों पर हमला करके उन्हें अपने क़ब्ज़े में ले लिया है. ये घटना क्रीमियाई प्रायद्वीप के पास की है. रूस की तरफ से फायरिंग की गई जिसमें यूक्रेन के कई नाविक घायल हो गए. इस घटना से रूस और यूक्रेन के बीच तनाव काफी बढ़ गया है.

    रूस का कहना है कि यूक्रेन के तीन नौसैनिक जहाज़ गैरकानूनी तरीके उसकी जल सीमा में से घुस आए थे. दोनों देश इन हालात के लिए एक-दूसरे को ज़िम्मेदार ठहरा रहे हैं. क्रीमियाई प्रायद्वीप काला सागर और आज़ोव सागर (Azov sea) को एक दूसरे से अलग करता है. साल 2014 तक यूक्रेन और रूस दोनों को इस हिस्से का इस्तेमाल करने का हक़ था. लेकिन पिछले चार से इस इलाके पर रूसी सेना का कब्जा है.



    यूक्रेन के जहाज आज़ोव सागर में स्थित मैरीयूपॉल शहर जाते हैं.  इस शहर पर कब्जा करने वालों को रूस का समर्थन हासिल है. यहां साल 2014 से लेकर अब तक करीब 10 हज़ार लोग मारे गए हैं.

    लेकिन रूस ने एक पुल के नीचे टैंकर तैनात करके आज़ोव सागर की ओर जाने वाला रास्ता बंद कर दिया है. ट्विटर पर पोस्ट किए गए वीडियो में साफ देखा जा सकता है कि क्रीमियाई प्रायद्वीप के पास बने पुल के नजदीक कई रूसी जहाज इलाके पर नजर रखने के लिए उड़ान भर रहे हैं.



    यूक्रेन के राष्ट्रपति पेट्रो पोरोशेंको ने देश की नेशनल सिक्यॉरिटी एंड डिफ़ेंस काउंसिल की मीटिंग में रूस के कार्रवाई को 'सनक' भरा क़दम बताया है. इस बीच यूरोपीय संघ ने रूस से कहा है कि "यूक्रेन को कर्च से आज़ोव सागर में अपने हिस्से में जाने से न रोका जाए." नैटो ने भी इस मामले में यूक्रेन का समर्थन किया है.

    इस बीच संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (यूएनएससी) ने यूक्रेन के तीन नौसैनिक पोतों को जब्त कर लेने की रूस के पुष्टि करने के बाद एक आपात बैठक बुलाई है. संयुक्त राष्ट्र में अमेरिकी राजदूत निक्की हेली ने ये जानकारी दी.

    (एजेंसी इनपुट के साथ)

    ये भी पढ़ें:

    26/11 मुंबई हमला: 10 साल बाद अमेरिका का ऐलान- दोषियों को पकड़वाने पर 50 लाख डॉलर का इनाम
    'मुंबई हमले के 10 साल बाद भी बेबी मोशे को लगता है अंधेरे से डर'

     

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज