फिजी के पीएम ने अरबपतियों को COVID-19 से बचाने के लिए दिया ये अनोखा आमंत्रण

फिजी के पीएम ने अरबपतियों को COVID-19 से बचाने के लिए दिया ये अनोखा आमंत्रण
फिजी के प्रधानमंत्री जोसिया "फ्रैंक" वोर्के बैनिमारामा

फिजी के प्रधानमंत्री जोसिया ने कहा कि आप अरबपति हैं और अपना जेट खुद उड़ा सकते हैं तो फिर लाखों डॉलर खर्च कर अपना खुद का द्वीप किराए पर ले सकते हैं. इस तरह महामारी से बचने के लिए आप जन्नत (फिजी) में एक नया घर ले सकते हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: June 29, 2020, 12:34 PM IST
  • Share this:
सूवा. दुनिया भर में पर्यटन उद्योग धीरे-धीरे फिर से खुलने लगा है. ऐसे में फ़िजी ने भी कोरोना महामारी के दौरान एकांत और सुकून देने वाली जगह की तलाश कर रहे पूरी दुनिया के अरबपतियों (Billionaire) से फिजी में अपना आशियाना बनाने की एक असामान्य अपील की है. फिजी के प्रधानमंत्री जोसिया "फ्रैंक" वोर्के बैनिमारामा ने दुनिया के अरबपतियों को फिजी घूमने का निमंत्रण (Invitation To Come Fiji) दिया है. दक्षिण प्रशांत देश फिजी में लगभग 300 द्वीप हैं. फिजी की अर्थव्यवस्था पर्यटन पर आश्रित है. अर्थव्यवस्था में पर्यटन का 40 फीसदी योगदान है.

फिजी प्रधानमंत्री ने अरबपतियों से की ये अपील...

पिछले हफ्ते प्रधानमंत्री ने फ़िज़ी संसद को यह बताया कि कोविड संक्रमण शुरू होने के बाद के समाज के लिए बनी उनकी कल्पना में पर्यटन क्षेत्र को लोगों के लिए खोलना भी शामिल है. यह विचार प्रकट करने के बाद प्रधान मंत्री जोसिया ने फिजी की यात्रा करने के इच्छुक अरबपतियों को खुला निमंत्रण दिया. इस हफ्ते की शुरुआत में उन्होंने ट्विटर पर स्पष्ट शब्दों में लिखा कि मान लीजिए कि आप एक अरबपति हैं जो अपना जेट खुद उड़ा सकते हैं, अपना खुद का द्वीप किराए पर ले सकते हैं और इस प्रक्रिया में फिजी में लाखों डॉलर का निवेश कर सकते हैं और यदि आप स्वास्थ्य संबंधी सभी सावधानियां बरतें और सभी संबद्ध लागतों को वहन करें तो आपके पास महामारी से बचने के लिए जन्नत (फिजी) में एक नया घर हो सकता है.



30 लोगों का एक दल तीन महीनों के लिए यहां आ रहा है



देश के अटॉर्नी जनरल एयाज सैयद-खैयूम ने गुरुवार को इस बात की पुष्टि करते हुए कहा कि केवल अत्यधिक पूँजी वाले व्यक्तियों के एक समूह को फिजी की यात्रा करने की अनुमति दी गई है. राष्ट्रीय बजट पर विमर्श के दौरान सईद-खैयूम ने कहा कि एक बहुत मशहूर कंपनी के लगभग 30 व्यक्ति निजी विमान से जल्द ही देश में पहुंचेंगे, जहाँ से उन्हें एक समुद्री जहाज से उन्हें उनके अंतिम गंतव्य पर ले जाया जाएगा. ये लोग वहां तीन महीने तक आराम करेंगे.

निजी जहाजों पर 14 दिन क्वारंटाइन करना होगा

अटॉर्नी जनरल ने कहा कि ऐसा करना बहुत महत्वपूर्ण है और हमारे दृष्टिकोण से यह हमारे स्वास्थ्य संबंधी जोखिमों को कम से कम करने और आर्थिक रास्ते खोलने के बीच एक संतुलन है. नौका द्वारा आने वाले पर्यटकों के स्वागत के लिए फिजी ने "ब्लू लेन" नामक एक पहल भी शुरू की है. सईद-खैयूम ने कहा कि यात्रियों को फिजी में आने से पहले अपने निजी जहाजों पर 14 दिन की क्वारंटाइन अवधि पूरी करनी होगी इसके बाद कोविड-19 के टेस्ट परिणाम के नेगेटिव आने के बाद देश में घूमने के लिए स्वतंत्र होंगे. उन्होंने कहा कि फिजी अपने देश में आने वाले फिल्म और टेलीविजन क्रू का भी स्वागत करता है. बशर्तें वे क्वारंटाइन उपायों का ठीक से पालन करें.

ये भी पढ़ें: अच्छी खबर: वैज्ञानिकों ने खेतों में उगा लिए रंगीन कपास, त्वचा और पर्यावरण के लिए अनुकूल

यहां क्रूज में 90 दिनों से फंसे 1500 भारतीयों ने मोदी सरकार से लगाई गुहार

पिछले हफ्ते फिजियन प्रधानमंत्री ने घोषणा की कि देश अपने न्यूजीलैंड और ऑस्ट्रेलिया के बीच 'बुला बबल' नामक एक यात्री व्यवस्था पर काम कर रहा था. ऑस्ट्रेलियाई और न्यूजीलैंड के प्रधानमंत्रियों ने इस प्रस्ताव पर अभी तक कोई टिप्पणी नहीं की है.
विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार फिजी ने अपने देश में कुल 18 कोरोना वायरस संक्रमणों की पुष्टि की है और वहां वायरस से किसी की मौत नहीं हुई है और अप्रैल के मध्य से किसी भी नए मामले की जानकारी नहीं मिली है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading