अपना शहर चुनें

States

मसूद अजहर को पाकिस्तान से भी झटका, संपत्ति जब्त करने का आदेश, यात्रा पर भी लगाया बैन

गुरुवार को पाकिस्तान ने भी अजह मसूद की संपत्ति को जब्त और देश के अंदर-बाहर यात्रा करने पर प्रतिबंध लगाने का आधिकारिक एलान कर दिया है.
गुरुवार को पाकिस्तान ने भी अजह मसूद की संपत्ति को जब्त और देश के अंदर-बाहर यात्रा करने पर प्रतिबंध लगाने का आधिकारिक एलान कर दिया है.

गुरुवार को पाकिस्तान ने भी अजह मसूद की संपत्ति को जब्त और देश के अंदर-बाहर यात्रा करने पर प्रतिबंध लगाने का आधिकारिक एलान कर दिया है.

  • Share this:
संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (यूएनएससी) द्वारा बुधवार को जैश-ए-मोहम्मद प्रमुख मसूद अजहर को ‘वैश्विक आतंकवादी’ घषित किए जाने के एक दिन बाद ही पाकिस्तान ने भी उस पर प्रतिबंध लगा दिया है. पाकिस्तान ने मसूद अजहर की चल और अचल संपत्ति को जब्त करने और देश के अंदर-बाहर यात्रा करने पर प्रतिबंध लगाने का आधिकारिक ऐलान कर दिया है.

बुधवार को जारी एक अधिसूचना में पाकिस्तान की विदेश मंत्रालय ने कहा, ‘संघीय सरकार यह आदेश देकर प्रसन्न है कि अजहर के खिलाफ संकल्प 2368 (2017) को पूरी तरह से लागू किया जाए.’

पाकिस्तान सरकार ने अधिकारियों को निर्देश दिया कि अधिसूचना के अनुसार मसूद अजहर के खिलाफ प्रतिबंधों के कार्यान्वयन के लिए उपयुक्त कार्रवाई की जाए. पाकिस्तान के विदेश कार्यालय के प्रवक्ता मोहम्मद फैसल ने बुधवार को कहा था कि पाकिस्तान अजहर पर लगाए गए प्रतिबंधों को तुरंत लागू करेगा.



अब पाक में नजरबंद रहेगा अजहर
पाकिस्तान ने अजहर पर जो प्रतिबंध लगाए हैं उनमें संपत्ति, यात्रा पर रोक के साथ हथियारों की खरीद पर भी रोक शामिल है. आदेश में कहा गया है कि मसूद अजहर से जुड़ी हुई सभी संपत्तियों, आर्थिक और वित्तीय संसाधनों पर तत्काल प्रभाव से रोक लगा दी जाए. यह रोक व्यक्तिगत, सामूहिक और अंडरटेकिंग्स पर एक साथ लागू होगी. इस आदेश में किसी दूसरे देश में मसूद को शरण देने पर रोक लागू होगी. मसूद अजहर को कोर्ट की कार्रवाई के लिए पाकिस्तान में आने-जाने पर रोक नहीं लगेगी.

बता दें कि जैश-ए-मोहम्मद संगठन के सरगना मसूद अज़हर को संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने बुधवार को वैश्विक आतंकी घोषित कर दिया है. इससे पहले चीन मसूद अजहर को वैश्विक आतंकवादी घोषित कराने के प्रयास में कई बार रोड़ा अटका चुका था. गौरतलब है कि मसूद अज़हर के संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने इसी साल 14 फरवरी को पुलवामा में सेना के काफिले पर हुए हमले की जिम्मेदारी ली थी. इस हमले में CRPF के 40 सुरक्षाकर्मियों की मौत हो गई थीं.

ये भी पढ़ें: मसूद अजहर मामले के हीरो का खुलासा- धोनी की इस बात ने उन्‍हें दिलाई कामयाबी!

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज