व्हाइट हाउस में घुसने की कोशिश, सीक्रेट सर्विस ने गोली से उड़ाया

अमेरिकी सीक्रेट सेवा ने व्हाइट हाउस के बाहर एक हथियार बंद को गोली मारी जिससे वह गंभीर रूप से घायल हो गया। इस घटना के बाद सुरक्षा बलों ने अमेरिकी राष्ट्रपति के आधिकारिक आवास की एक घंटे से अधिक समय तक घेरेबंदी की।
अमेरिकी सीक्रेट सेवा ने व्हाइट हाउस के बाहर एक हथियार बंद को गोली मारी जिससे वह गंभीर रूप से घायल हो गया। इस घटना के बाद सुरक्षा बलों ने अमेरिकी राष्ट्रपति के आधिकारिक आवास की एक घंटे से अधिक समय तक घेरेबंदी की।

अमेरिकी सीक्रेट सेवा ने व्हाइट हाउस के बाहर एक हथियार बंद को गोली मारी जिससे वह गंभीर रूप से घायल हो गया। इस घटना के बाद सुरक्षा बलों ने अमेरिकी राष्ट्रपति के आधिकारिक आवास की एक घंटे से अधिक समय तक घेरेबंदी की।

  • Share this:
वॉशिंगटन। अमेरिकी सीक्रेट सेवा ने व्हाइट हाउस के बाहर एक हथियार बंद को गोली मारी जिससे वह गंभीर रूप से घायल हो गया। इस घटना के बाद सुरक्षा बलों ने अमेरिकी राष्ट्रपति के आधिकारिक आवास की एक घंटे से अधिक समय तक घेरेबंदी की। सीक्रेट सर्विस ने बताया कि यह घटना शुक्रवार दोपहर तीन बजकर छह मिनट पर (स्थानीय समयानुसार) उस समय हुई जब हथियार लिए एक व्यक्ति व्हाइट हाउस के निकट ई स्ट्रीट में एक जांच चौकी पर पहुंचा। इस स्थान पर आम लोगों को जाने की अनुमति है।

सीक्रेट सर्विस के एजेंटों ने व्यक्ति को रकने और हथियार गिराने संबंधी कई बार चेतावनी दी। अमेरिकी सीक्रेट सर्विस में ऑफिस ऑफ गवर्नमेंट एंड पब्लिक अफेयर्स के सहायक उप निदेशक डेविड ए लैकोवेट्टी ने कहा कि जब उसने मौखिक आदेश मानने से इनकार कर दिया तो सीक्रेट सर्विस के एक एजेंट ने उसे गोली मारी और हिरासत में ले लिया। उन्होंने बताया कि उसे निकटवर्ती अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

लैकोवेट्टी ने कहा कि सीक्रेट सर्विस ने घटनास्थल से हथियार बरामद किया है। व्हाइट हाउस को एहतियातन तत्काल घेर लिया गया। अमेरिका के राष्ट्रपति बराक ओबामा इस घटना के समय परिसर में नहीं थे। वह उस समय एंड्रयूज एयरफोर्स बेस में गोल्फ खेलने गए हुए थे। सीक्रेट सर्विस एजेंटों ने उपराष्ट्रपति जो बाइडेन की भी अतिरिक्त सुरक्षा के तत्काल प्रबंधन किए।



व्यक्ति का वाहन सेवेंटीन्थ स्ट्रीट एंड कांस्टीट्यूशन एवेन्यू में पार्क किया गया था। संघीय एजेंटों को तलाश के दौरान वाहन के निकट से एक अन्य हथियार मिला। इस घटना में कानून प्रवर्तन कर्मी या निकट खड़ा कोई व्यक्ति हताहत नहीं हुआ।
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज