पाकिस्तान की पहली हिन्दू महिला सांसद बन सकती हैं कृष्णा कुमारी

अगर कृष्णा कुमारी चुनाव जीत जाती हैं तो पाकिस्तान में सीनेटर बनने वाली पहली हिन्दू महिला होंगी.

AP
Updated: February 13, 2018, 12:15 PM IST
पाकिस्तान की पहली हिन्दू महिला सांसद बन सकती हैं कृष्णा कुमारी
कृष्णा कुमारी
AP
Updated: February 13, 2018, 12:15 PM IST
पाकिस्तान में पहली बार कोई हिन्दू महिला सांसद बनने वाली है. 39 साल की कृष्णा कुमारी को पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी (PPP) ने सीनेट चुनाव के लिए उम्मीदवार बनाया है. अगर वो चुनाव जीत जाती हैं तो पाकिस्तान में सीनेटर बनने वाली पहली हिन्दू महिला होंगी.

पाकिस्तान में आमतौर पर अमीर लोगों को चुनाव में उम्मीदवार बनाया जाता है. लेकिन पहली बार पाकिस्तान ने एक गरीब महिला को टिकट दिया है. कृष्णा कुमारी ने कहा कि उन्होंने कभी नहीं सोचा था कि वो सांसद बन पाएंगी. उन्होंने कहा "मैं पूर्व प्रधानमंत्री बेनज़ीर भुट्टो की आभारी हूं. मैं दबे कुचले लोगों के लिए काम करुंगी."

कौन हैं कृष्णा कुमारी ?
कृष्णा का जन्म 1979 में सिंध के नगरपारकर जिले के एक दूरदराज गांव में हुआ था. कृष्णा स्वतंत्रता सेनानी रूपलो कोहली के परिवार से ताल्लुक रखती हैं. कृष्‍णा एक सामाजिक कार्यकर्ता हैं. कृष्णा अपने भाई के साथ एक सामाजिक कार्यकर्ता के रूप में पीपीपी से जुड़ी थीं. बाद में उनके भाई को यूनियन काउंसिल बेरानो का चेयरमैन चुना गया.

बेहद गरीबी में बीता जीवन
साल 1979 में कृष्णा का जन्म एक बेहद गरीब किसान परिवार में हुआ था. उनके परिवार के लोगों को एक जमींदार ने एक निजी जेल में करीब तीन साल तक बंद कर के रखा था. 16 साल की उम्र में ही कृष्णा की शादी हो गई थी, तब वो नौवीं क्लास में पढ़ रही थी. हालांकि शादी के बाद भी कृष्णा अपनी पढ़ाई जारी रखी और साल 2013 में उन्होंने सिंध विश्वविद्यालय से समाजशास्त्र में मास्टर्स की डिग्री हासिल की.

समाज सेवा
सामाजिक कार्यकर्ता के तौर पर भी कृष्णा ने अब तक पहचतान बनाई है. उन्होंने थार और अन्‍य इलाकों में हाशिये पर जी रहे समाज के दबे-कुचले और शोषित वर्गों के लिए काम किया.

और भी देखें

Updated: August 20, 2018 11:10 AM ISTVIDEO- अमन पाकिस्तान की जरूरत, आतंकवाद से लड़ेगी सरकार: PM इमरान
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर