काबुल में तालिबान के आत्मघाती हमले में 5 की मौत, अमेरिका के शांति प्रयासों को झटका

मले वाले इलाके में खुफिया एजेंसी राष्ट्रीय सुरक्षा निदेशालय (एनडीएस) के दफ्तर समेत कई अहम इमारते स्थित हैं. यह पूरा इलाका ग्रीन जोन के निकट होने के कारण भारी सुरक्षा व्यवस्था रहती है.

News18Hindi
Updated: September 5, 2019, 5:35 PM IST
काबुल में तालिबान के आत्मघाती हमले में 5 की मौत, अमेरिका के शांति प्रयासों को झटका
काबुल में तालिबान के जबरदस्त आत्मघाती हमले में 5 लोगों की मौत.
News18Hindi
Updated: September 5, 2019, 5:35 PM IST
काबुल. तालिबान और अमेरिका के बीच शांति समझौते की अटकलों के बावजूद अफगानिस्तान में तालिबान का हमला लगातार जारी है. बृहस्पतिवार को अफगानिस्तान की राजधानी काबुल में एक बार फिर तालिबान के आत्मघाती विस्फोट से हमला किया है. तालिबान के इस हमले में पांच लोगों की मौत हो गई है. यह विस्फोट शस दरक इलाके में हुआ. जहां काफी सुरक्षा व्यवस्था रहती है.

दरअसल हमले वाले इलाके में खुफिया एजेंसी राष्ट्रीय सुरक्षा निदेशालय (एनडीएस) के दफ्तर समेत कई अहम इमारते स्थित हैं. यह पूरा इलाका ग्रीन जोन के निकट होने के कारण भारी सुरक्षा व्यवस्था रहती है.  बृहस्पतिवार की सुबह यह विस्फोट उस जगह के नजदीक हुआ है, जहां पिछले साल अप्रैल में इस्लामिक स्टेट समूह ने विस्फोट कर नौ पत्रकारों की जान ले ली थी. इनमें एएफपी का मुख्य फोटोग्राफर शाह मरई भी शामिल था.

, Afghanistan, Taliban, suicide attack, death, US peace effort
बृहस्पतिवार को अफगानिस्तान की राजधानी काबुल में एक बार फिर तालिबान के आत्मघाती विस्फोट से हमला किया है.


तालिबान ने ली हमले की जिम्मेदारी

घटनास्थल के पास स्थित वजीर अकबर खान अस्पताल के महाप्रबंधक फरीद अहमद करीमी ने बताया कि अस्पताल में पांच शव और 25 घायलों को लाया गया है. करीमी ने बताया कि मृतकों और घायलों में असैन्य लोग और सुरक्षा कर्मी शामिल हैं. घायलों में पांच महिलाएं भी हैं. तालिबान के प्रवक्ता जबीहुल्ला मुजाहिद ने ट्विटर पर हमले की जिम्मेदारी ली और कहा एक फिदायीन हमलावर ने कार बम से विस्फोट किया.

जबरदस्त हमले में कई असैन्य लोग भी हताहत
घटनास्थल के सामने वाली सड़क पर एक फोटो स्टूडियो के मालिक मसूद ज़जई ने बताया कि धमाका इतना जोरदार था कि वह कुर्सी से गिर पड़े और दुकान में धुल और धुएं का गुबार छा गया. गौरतलब है कि सोमवार को पूर्वी काबुल के एक रिहायशी इलाके में तालिबान ने एक विस्फोट कर कम से कम 16 लोगों की जान ले ली थी.
Loading...

तालिबान और अमेरिका के एक समझौते पर ‘सैद्धांतिक तौर पर’ सहमत होने के बाद से राजधानी में घातक हमले बढ़ गए हैं. इस समझौते के तहत अमेरिका अफगानिस्तान में से अपने हज़ारों सैनिकों को वापस बुलाएगा. इसके बदले में तालिबान ने सुरक्षा का वादा किया है.

ये भी पढ़ें: 

भारत से टकराने की सोच रहे पाकिस्‍तान ने मिस्र से मंगाए रिटायर हो चुके मिराज

पाकिस्तान ने LoC की तरफ भेजे 2000 सैनिक, भारतीय सेना की पैनी नजर: सूत्र

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दुनिया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 5, 2019, 5:35 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...