लाइव टीवी

विदेशी मीडिया में भी छाया हैदराबाद एनकाउंटर, भारत में बढ़ रहे महिला अपराध पर जताई चिंता

News18Hindi
Updated: December 7, 2019, 9:06 AM IST
विदेशी मीडिया में भी छाया हैदराबाद एनकाउंटर, भारत में बढ़ रहे महिला अपराध पर जताई चिंता
इस एनकाउंटर के लिए हैदराबाद पुलिस की तारीफ हो रही है.

विदेशी मीडिया (Foreign Media) ने भारत के हैदराबाद (Hyderabad) में हुए एनकाउंटर (Encounter) के बाद जिस तरह से लोगों में खुशी की लहर दौड़ी है, उस पर ध्यान केंद्रित करने के साथ गैर न्यायिक मृत्युदंड की बढ़ती घटनाओं पर भी चिंता जताई है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 7, 2019, 9:06 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. तेलंगाना (Telangana) की राजधानी हैदराबाद (Hyderabad) में महिला वेटनरी डॉक्टर से गैंगरेप (Gangrape) के बाद हत्या और शव जलाने के मामले के सभी चारों आरोपियों को शुक्रवार सुबह पुलिस ने एनकाउंटर (Encounter) में मार गिराया. इस खबर ने भले ही देशभर में खुशी का माहौल दिखाई दिया लेकिन काफी लोगों ने इस घटना की आलोचना भी की. तेलंगाना पुलिस के एनकाउंटर को विदेशी मीडिया में भी खासी तवज्जो दी गई है. विदेशी मीडिया (Foreign Media) ने भारत में हुए इस एनकाउंटर के बाद जिस तरह से लोगों में खुशी की लहर दौड़ी है उस पर ध्यान केंद्रित करने के साथ गैर न्यायिक मृत्युदंड की बढ़ती घटनाओं पर भी चिंता जताई है.

वॉशिंगटन पोस्ट की रिपोर्ट के मुताबिक भारत के कुछ वर्ग ने तेलंगाना पुलिस ने जिस तरह से एनकाउंटर किया है उस पर खुशी जताई है. भारत में जिस तरह से महिलाओं और बच्चों के खिलाफ जघन्य अपराध बढ़े हैं उसके बाद काफी बड़ा वर्ग इसी तरह का समाधान चाहता है. हालांकि कुछ सामाजिक कार्यकर्ता और वकील कह रहे हैं कि मुठभेड़ न्यायेत्तर हत्या है. रिपोर्ट में कहा गया है कि संदिग्ध अपराधियों की पुलिस द्वारा हत्या किया जाना भारत में इतना व्यापक है कि उनकी अपनी शब्दावली है. इस तरह की घटनाओं को एनकाउंटर कहा जाता है और इसमें शामिल अधिकारी कहते हैं कि उन्होंने आत्मरक्षा में यह कार्रवाई की है. लेकिन कार्यकर्ता कहते हैं कि पुलिस को काफी छूट हासिल है और हत्याओं की उचित जांच नहीं होती.

न्यूयॉर्क टाइम्स ने इसे हाल के महीने में भारत के सर्वाधिक घृणित अपराध मामलों में से एक बताया और कहा कि शुक्रवार को इस घटना का अचानक एवं स्तब्धकारी अंत हो गया. न्यूयॉर्क टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक इस एनकाउंटर में शामिल पुलिसकर्मियों को नायक बताया जा रहा है और हैदराबाद की सड़कों पर लोगों ने पुलिस अधिकारियों पर गुलाब के फूल बरसाए. वे इसे जघन्य अपराध के त्वरित न्याय का जश्न मना रहे हैं. शुक्रवार को इतने लोग सड़कों पर जश्न मनाने निकल गए कि यातायात बाधित हो गया.

इसे भी पढ़ें :- हैदराबाद गैंगरेप : आरोपियों ने घटनास्थल से 1 किमी दूर दफनाया था महिला डॉक्टर का फोन

बीबीसी ने लिखा कि पुलिस कार्रवाई का सोशल मीडिया पर व्यापक समर्थन मिला. कई लोगों ने ट्विटर और फेसबुक पर पुलिस की कार्रवाई की प्रशंसा की. बीबीसी ने दिल्ली में दिसंबर 2012 के सामूहिक बलात्कार और हत्या के मामले ने भारत में महिलाओं के खिलाफ बलात्कार और हिंसा की घटनाओं की तरफ ध्यान खींचा है. रिपोर्ट में ये भी कहा गया है कि भारत में इतना सब होने के बावजूद महिलाओं के खिलाफ अपराध में कमी नहीं आ रही है.

इसे भी पढ़ें :- हैदराबाद गैंगरेप: घटना की रात पीड़िता के पिता से पुलिस ने कहा था- तुम्‍हारी बेटी किसी के साथ भाग गई होगी

द गार्जियन ने लिखा है कि बलात्कार और हत्या के मामलों से भारत में लोगों के बीच गुस्सा है, जहां हजारों लोगों ने सड़क पर प्रदर्शन किया और नेताओं तथा लोगों ने ऐसे अपराधियों की पीट-पीटकर हत्या करने की अपील की. वहीं द टेलीग्राफ ने लिखा है कि महिलाओं के खिलाफ हिंसा के हाई प्रोफाइल मामलों से भारत में गुस्सा बढ़ा है. हैदराबाद की जघन्य घटना के खिलाफ सोमवार को हजारों लोगों ने देश भर में सड़कों पर प्रदर्शन किया. कार्यकर्ताओं ने बलात्कार के मामलों को अदालतों के माध्यम से तेजी से निपटाने और कड़े दंड देने की अपील की है. द टाइम्स ने खबर दी है कि न्याय की मांग को लेकर देश भर में सैकड़ों लोगों ने सड़कों पर प्रदर्शन किया. लोगों ने आरोपियों को सौंपने की मांग करते हुए थाने का घेराव किया ताकि उन्हें पीट-पीट कर मार दिया जाए.इसे भी पढ़ें :- हैदराबाद गैंगरेप: एनकाउंटर साइट पर भीड़ ने पुलिसवालों को गोद में उठाया, बरसाए फूल, देखें VIDEO

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दुनिया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 7, 2019, 8:06 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर