लाइव टीवी

पिता की मौत के चार साल बाद तक बेटी करती रही मैसेज, फिर एक दिन आया रिप्लाई...

News18Hindi
Updated: October 31, 2019, 3:17 PM IST
पिता की मौत के चार साल बाद तक बेटी करती रही मैसेज, फिर एक दिन आया रिप्लाई...
अमेरिका की रहने वाली 23 साल की चैस्टटी पैटरसन के पिता की चार साल पहले मौत हो गई थी.

अमेरिका की रहने वाली 23 साल की चैस्टटी पैटरसन के पिता की चार साल पहले मौत हो गई थी. पिता की मौत के गम में चैस्टटी पूरी तरह से टूट गई थी. चैस्टटी अपने पिता को हमेशा अपने करीब रखना चाहती थी, इसीलिए उसने अपने पिता को रोज मैसेज करना शुरू कर दिया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 31, 2019, 3:17 PM IST
  • Share this:
पिता की मौत के चार साल बाद भी बेटी उन्हें हर रोज मैसेज किया करती थी. उसे लगा था कि इस तरह वह अपने पिता की यादों के साथ जुड़ी रहेगी. पिता की बरसी से ठीक एक दिन पहले भी उसने एक भावुक मैसेज किया था लेकिन इस बार मैसेज एक तरफा नहीं था, इसका जवाब भी आया था. मोबाइल पर आए जवाब को देखने के बाद बेटी की खुशी का ठिकाना ही नहीं रहा.

अमेरिका की रहने वाली 23 साल की चैस्टटी पैटरसन के पिता की चार साल पहले मौत हो गई थी. पिता की मौत के गम में चैस्टटी पूरी तरह से टूट गई थी. चैस्टटी अपने पिता को हमेशा अपने करीब रखना चाहती थी, इसीलिए उसने अपने पिता को रोज मैसेज करना शुरू कर दिया. चैस्टटी अपनी हर छोटी-बड़ी बात को अपने पिता को मैसेज के जरिए बताया करती थी. उसे पता था कि उसके पिता अब दुनिया में नहीं हैं और उसके किसी भी मैसेज का कोई जवाब भी नहीं आएगा. इसके बावजूद चैस्टटी हर रोज सुबह और शाम को अपने पिता के मोबाइल पर मैसेज भेजा करती थी.

चैस्टटी ने पिता की बरसी से महज एक दिन पहले उन्हें मैसेज करते हुए लिखा था कि हैलो पापा कल का दिन मेरे लिए काफी मुश्किल भरा होने वाला है. कल आपको दुनिया से गए एक चार साल हो जाएंगे. इन चार सालों में ऐसा एक भी दिन नहीं गया होगा, जब मैंने आपको मिस नहीं किया होगा. इन चार सालों में बहुत कुछ हुआ है और मैं अपने हर एक पल को आपके साथ साझा करती रही हूं. मैंने अब कैंसर को मात दे दी है और जब से आप गए हैं तब से मैं बीमार भी नहीं पड़ी हूं. मैंने आपसे वादा किया था कि मैं अपनी देखभाल अच्छे से करूंगी. मैंने अब कॉलेज खत्म कर लिया है. मुझे किसी से प्यार भी हुआ था और मेरा दिल भी टूटा. आप होते तो उसे मार ही डालते. मुझे लगता था कि आपके जाने के बाद सबकुछ खत्म हो गया है, मगर मैं हारी नहीं हूं. लेकिन मेरे जीवन में फिर कोई आया और उसने मेरा जीवन बचा लिया.

America, Mobile, Mobile Message
चैस्टटी पैटरसन पिछले चार साल से अपने मृत पिता को मैसेज भेजती थी, तभी एक दिन मैसेज का रिप्लाई भी आया.


अपने दूसरे मैसेज में चैस्टटी ने लिखा कि मैं अभी भी मां को हर दिन तंग करती रहती हूं. मुझे माफ कर दीजिएगा लेकिन जब मुझे आपकी सबसे ज्यादा जरूरत है तब आप हमारे बीच नहीं हैं. मुझे शादी से बहुत डर लगता है क्योंकि शादी में आप नहीं होंगे. मैं अकेली रहूंगी तो आप नहीं होंगे. मैं बस इतना कहूंगी कि मैं आपसे बेइंतहा प्यार करती हूं और आपकी कमी हमेशा खलती है.

America, Mobile, Mobile Message
चैस्टटी पैटरसन मोबाइल मैसेज से हर छोटी-बड़ी बात अपने पिता से किया करती हैं.


चैस्टटी ने सोचा भी नहीं था कि चार साल बाद उसके इस मैसेज का जवाब आ जाएगा. चैस्टटी के मैसेज पर जवाब में लिखा गया कि हाय स्वीटहार्ट, मैं तुम्हारा पिता नहीं हूं लेकिन मुझे पिछले चार सालों से आपके सारे संदेश मिल रहे हैं. मैं हर दिन तुम्हारे मैसेज का इंतजार करता हूं. मेरा नाम ब्रैड है और मेरी बेटी की अगस्त 2014 में एक कार हादसे में मौत हो गई थी. आपके संदेशों ने मुझे जिंदा रखा है. जब भी आपका मैसेज आता है तो मुझे लगता है कि यह भगवान का मैसेज है. चेस्टटी का यह मैसेज सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल होने लगा है. चैस्टटी के पोस्ट पर अभी तक 22 हजार कमेंट्स आ चुके हैं और 3 लाख से ज्यादा शेयर हो चुके हैं.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दुनिया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 31, 2019, 3:17 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...