खुलासा! पैगंबर का कार्टून दिखाने वाले टीचर की पहचान के लिए हत्यारे ने बच्चों को दिए थे पैसे

फ्रांस टीचर की हत्या के मामले में कई खुलासे
फ्रांस टीचर की हत्या के मामले में कई खुलासे

Samuel Paty mudrder: फ़्रांस की जांच एजेंसियों ने बताया है कि कट्टरपंथी हत्यारे 18 वर्षीय अब्दोलाख अंजोरोव ने फ्रांसीसी शिक्षक सैमुअल पैटी को पहचानने के लिए उन्हीं के स्कूल के कुछ बच्चों को 300 यूरो दिए थे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 22, 2020, 8:39 AM IST
  • Share this:
पेरिस. फ्रांस (France) की जांच एजेंसियों ने खुलासा किया है कि पैगंबर के कैरीकेचर दिखाने वाले इतिहास के फ्रांसीसी शिक्षक सैमुअल पैटी (Samuel Paty) की पहचान के लिए कट्टरपंथी हत्यारे ने स्कूल के बच्चों को पैसे दिए थे. जांच में कई बच्चों ने कबूल किया है कि इस शख्स ने उन्हें टीचर का नाम बताकर उसे पहचानने के लिए पैसे दिए थे. पैटी की पिछले हफ्ते पेरिस के पास 18 वर्षीय कट्टरपंथी ने सिर काटकर हत्या कर दी गई थी.

फ्रांस के आतंकवाद अभियोजक जीन फ्रेंको रिचर्ड ने एक संवाददाता सम्मेलन में बताया कि एक 14 वर्षीय और एक 15 वर्षीय छात्र उन सात लोगों में शामिल हैं जो जांच मजिस्ट्रेट के समक्ष पेश हुए हैं. इन बच्चों ने टीचर को पहचानने के लिए पैसे लेने की बात कबूल की है. जीन फ्रेंको रिचर्ड ने बताया, जांच में पता चला कि हत्यारोपी शिक्षक का नाम, स्कूल का नाम और उसका पता जानता था. इसके बावजूद वह शिक्षक को शक्ल से नहीं पहचानता था. यह सिर्फ उसी स्कूल के छात्रों की मदद से संभव था. लिहाजा पैटी की पहचान करने के लिए उसने स्कूली छात्रों को 300-350 यूरो दिए थे. अधिकारियों ने हत्यारोपित की पहचान 18 वर्षीय अब्दोलाख अंजोरोव के रूप में की है.

फ्रांस में सख्त कार्रवाई जारी
इस बीच फ्रांस सरकार ने शेख यासीन इस्लामी एसोसिएशन को भंग करने का आदेश दिया है. इस एसोसिएशन का संस्थापक अब्देलहाकिम सैफरियोई फ्रांसीसी शिक्षक की हत्या के मामले में संदिग्ध के तौर पर हिरासत में है. इस बीच, दक्षिण-पश्चिम फ्रांस के बोर्डिआक्स और बेजियर्स शहरों की मस्जिदों में हिंसा की धमकी मिलने के बाद सुरक्षा व्यवस्था को बढ़ा दिया गया है. गृह मंत्री गेराल्ड डर्मानिन ने बुधवार को इसकी जानकारी देते हुए ट्वीट किया कि इस तरह के हिंक कृत्य को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा.
फ्रांस ब्ल्यू रेडियो ने मंगलवार देर रात अपनी वेबसाइट पर सूचना दी थी कि बेजियर्स में अर-रहमा मस्जिद के लोगों ने पुलिस से शिकायत की है कि उन्हें फेसबुक पर नफरत भरे संदेशों के साथ ही मस्जिद में आग लगाने की धमकी मिली है. यह धमकी उस घटना के बाद मिली है जिसमें एक युवक ने पैगंबर मुहम्मद के कैरिकेचर दिखाने के लिए एक फ्रांसीसी इतिहास के शिक्षक की पेरिस में हत्या कर दी थी. प्रधानमंत्री जीन कैस्टेक्स ने मंगलवार को संसद में कहा था कि फ्रांस के भविष्य को खतरे में डालने वालों से निबटने के लिए एक कड़े कानून की जरूरत है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज