4 अक्टूबर से मुस्लिमों की सबसे पाक जगह मक्का का दर इबादत के लिए खुलेगा

एक नवंबर से सऊदी अरब के बाहर रहने वाले लोगों को भी उमरा के लिए आने की इजाजत मिलेगी.  (Photo: AP)
एक नवंबर से सऊदी अरब के बाहर रहने वाले लोगों को भी उमरा के लिए आने की इजाजत मिलेगी. (Photo: AP)

मुस्लिमों की मान्यता में उनके सबसे पाक जगह यानी मक्का (Mecca) का दर उनकी इबादत (Worship) के लिए खोल दिया जाएगा. ग्रैंड मस्जिद में अब श्रद्धालुओं को उमरा के लिए आने की इजाजत दे दी गई है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 23, 2020, 3:57 PM IST
  • Share this:
सऊदी अरब. मुस्लिमों की मान्यता में उनके सबसे पाक जगह यानी मक्का (Mecca) का दर उनकी इबादत (Worship) के लिए खोल दिया जाएगा. ग्रैंड मस्जिद में अब श्रद्धालुओं को उमरा के लिए आने की इजाजत दे दी गई है. कोरोना वायरस महामारी (Coronavirus Pandemic) की वजह से बीते 6 महीने से यहां पर पाबंदियां लगा दी गई थीं.

6 हजार लोगों को एक दिन में यहां आने की होगी इजाजत

सऊदी अरब सरकार ने अब इसे कई चरण में खोलने का फैसला किया है. पहले चरण के दौरान 4 अक्टूबर से सिर्फ सऊदी अरब के लोगों को मस्जिद में आने की इजाजत मिलेगी. एक दिन में आने वाले लोगों की संख्या 6 हजार होगी. 18 अक्टूबर से दूसरा फेज शुरू होगा. दूसरे फेज के दौरान भी सिर्फ सऊदी अरब के लोगों को मस्जिद में एंट्री मिलेगी लेकिन इस दौरान कुल 65 हजार लोगों को मस्जिद में आने की इजाजत मिलेगी.



एक नवंबर से सऊदी अरब से बाहर रहने वालों को उमरा की होगी इजाजत
सऊदी अरब के आंतरिक मंत्रालय का कहना है कि तीसरे फेज में एक नवंबर से सऊदी अरब के बाहर रहने वाले लोगों को भी उमरा के लिए आने की इजाजत मिलेगी. इस दौरान एक दिन में कुल 80 हजार लोगों को यहां आने की इजाजत मिल सकती है.

इस साल यहां हज के लिए सिर्फ एक हजार लोग आए

सऊदी अरब की सरकार का यह भी कहना है कि वह लगातार अपनी गाइडलाइंस और कोरोना से जुड़े घटनाक्रम का मूल्यांकन करती रहेगी. जुलाई में सऊदी अरब ने काफी कम लोगों के साथ हज आयोजित किया था. आमतौर पर जहां 20 लाख लोग हर साल हज में हिस्सा लेते थे, इस बार सिर्फ 1000 लोग यहां पहुंचे.

ये भी पढ़ें: मलेशिया में विपक्ष के नेता ने कहा-हम बनाएंगे सरकार, हमारे पास है बहुमत 

युद्ध से बर्बाद हुए यमन को मिला गधों का सहारा, एक लाख रियाल तक मिल रही है कीमत 

चीनी राष्ट्रपति जिनपिंग को बिजनेसमैन ने 'जोकर' बताया, हुई 18 साल जेल की सजा 

हाल ही में सऊदी अरब ने अंतरराष्ट्रीय फ्लाइट्स की भी इजाजत दी थी. मार्च में कोरोना वायरस की वजह से सऊदी अरब ने फ्लाइट्स पर रोक लगा दी गईं थीं. अब तक सऊदी अरब में 3.3 लाख से अधिक कोरोना के केस आ चुके हैं और 4500 से अधिक लोगों की वायरस से मौत भी हो चुकी है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज