हिजबुल्ला ने इजराइल को दी धमकी, कहा- आज की रात तैयार रहना...

News18Hindi
Updated: August 26, 2019, 10:09 AM IST
हिजबुल्ला ने इजराइल को दी धमकी, कहा- आज की रात तैयार रहना...
हिजबुल्ला (Hezbollah) के प्रमुख हसन नसरल्लाह.

हिजबुल्ला (Hezbollah) प्रमुख हसन नसरल्ला ने अपने हजारों समर्थकों को दिए अपने भाषण में कहा कि इजराइल (Israel) की ओर से 2006 के युद्ध के बाद से ये पहली ऐसी दुश्मनी बढ़ाने वाली कार्रवाई है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 26, 2019, 10:09 AM IST
  • Share this:
ईरान समर्थित शिया संगठन हिजबुल्ला (Hezbollah) के प्रमुख हसन नसरल्ला ने रविवार को बेरूत में हिजबुल्ला के दबदबे वाले इलाके पर हुए ड्रोन हमले के बाद इजराइल (Israel) को धमकी दी है. उन्होंने इस हमले के बदले हर तरह के कदम उठाने की बात कही है. हिजबुल्ला को इजराइल और अमेरिका ने आतंकी संगठन घोषित कर रखा है. हिजबुल्ला लेबनान में एक प्रभावशाली राजनीतिक संगठन की हैसियत रखता है और युद्धग्रस्त सीरिया में वहां की सरकार का प्रमुख समर्थक है. हिजबुल्ला और इज़राइल के बीच कई बार संघर्ष होता रहा है. हाल के महीनों में दोनों ही ओर से खूब बयानबाजी देखी गई है.

नसरल्ला ने इजराइल को धमकाया
नसरल्ला ने कहा कि इजराइल के हमले से हिजबुल्ला के दो सदस्यों की मौत हो चुकी है. हिजबुल्ला प्रमुख हसन नसरल्लाह ने अपने हजारों समर्थकों को दिए अपने भाषण में कहा कि इज़राइल की ओर से 2006 के युद्ध के बाद से ये पहली ऐसी दुश्मनी बढ़ाने वाली कार्रवाई है. उन्होंने कहा कि 33 दिनों के युद्ध के बाद हुए संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के समझौते का उल्लंघन है, 33 दिनों के युद्ध के दौरान लेबनान में 1,200 लोग मारे गए थे, जिनमें ज्यादातर आम नागरिक थे. इस युद्ध में 160 लोग इजरायल में मारे गए थे. नसरल्ला ने कहा कि हिजबुल्ला इसी तरह के हमलों को रोकने के लिए सब कुछ करने को तैयार है. उन्होंने कहा, 'वो समय खत्म हो चुका है जब इजरायल के विमान लेबनान आते थे और बमबारी करके वापस चले जाते थे.' उन्होंने कहा, 'मैं इजराइली सेना से कहता हूं कि आज रात तैयार रहो और हमारा इंतजार करो.'

इजराइल ने ईरानी समर्थित समूहों को बताया अपना निशाना

इजराइल के सैन्य प्रवक्ता जोनाथन कॉनरिकस ने कहा कि दमिश्क के दक्षिण-पूर्व में अकरबा में हुए इजराइल हमले का लक्ष्य ईरान समर्थित आतंकियों और ईरान समर्थित कुद्स फोर्स को निशाना बनाना था. उन्होंने कहा, "हम पिछले कुछ समय सेकुद्स फोर्स को ट्रैक कर रहे हैं." समाचार एजेंसी साना के हवाले से एक सीरियाई सैन्य स्रोत ने कहा कि विमान-रोधी सुरक्षा ने शनिवार देर रात दुश्मनों का पता लगाया और जवाबी कार्रवाई की. ब्रिटेन स्थित एक निगरानी समूह सीरियन ऑब्जर्वेटरी फॉर ह्यूमन राइट्स ने कहा कि हिजबुल्ला के पांच लड़ाके मारे गए, लेकिन तेहरान में एक बड़े अधिकारी ने इससे इनकार किया कि ईरानी समर्थित ठिकानों पर हमला हुआ है.

बेरूत के आस-पास दो इजराइली ड्रोन गिरे
वहीं दूसरी ओर भाषा की खबर के मुताबिक लेबनान की राजधानी बेरूत के आस-पास इजराइल के दो ड्रोनों को नष्ट हो गए. लेबनान और हिजबुल्ला के अधिकारियों ने बताया कि पहला ड्रोन संगठन के मीडिया कार्यालय भवन की छत पर, दूसरा इसके पीछे के एक भूखंड पर गिरा. हिजबुल्ला के प्रवक्ता ने कहा कि उसने किसी भी ड्रोन को निशाना नहीं बनाया. ये सारी घटनाएं ऐसे वक्त हुई है, जब इजराइल और ईरान के बीच तनाव चरम पर है. कुछ वक्त पहले ही इजराइली जंगी जहाजों ने सीरिया की राजधानी दमिश्क के पास हमले किए थे. इजराइली विमानों ने लेबनान के हवाई क्षेत्र का उल्लंघन करते हुए रविवार को भी उड़ानें जारी रखी. ड्रोन नष्ट किए जाने के बाद कई विमान बेरूत में बहुत नीचे से उड़ान भर रहे थे. इन घटनाओं की वजह बड़े टकराव की आशंका है.
Loading...

हिजबुल्ला का इजराइली ड्रोन पर हमले से इनकार

हिजबुल्ला के प्रवक्ता मोहम्मद आफिफ ने कहा कि दक्षिण बेरूत में संगठन के मजबूत गढ़ दाहया में उसके मीडिया कार्यालय भवन की छत पर एक ड्रोन गिरा. उन्होंने कहा कि इसके 45 मिनट बाद दूसरे ड्रोन में हवा में ही विस्फोट हुआ और वह पास के खाली भूखंड पर गिरा. दूसरा ड्रोन हथियार से लैस था, ऐसे में नुकसान का आकलन किया जा रहा है. उन्होंने कहा कि इजराइल ने टोह लेने के लिए यह ड्रोन भेजा था. बाशिंदों ने कहा कि ड्रोन के विस्फोट की जोरदार आवाजें उन्होंने सुनी. आफिफ ने कहा, "हमने किसी भी ड्रोन को ना तो गिराया, ना उसपर निशाना साधा."

ड्रोन से जुड़ी इन घटनाओं और हिजबुल्ला की टिप्पणी पर फिलहाल इजराइल का बयान नहीं आया है. लेबनान की सेना ने एक बयान में कहा कि इजराइल का एक विमान बेरूत में नीचे गिरा जबकि दूसरे में हवा में विस्फोट हुआ. इसके कारण संपत्ति को नुकसान हुआ है. लेबनान के प्रधानमंत्री साद हारिरी ने दोनों ड्रोनों से जुड़ी घटना को लेबनान की संप्रभुता का उल्लंघन बताया है. उन्होंने कहा कि यह घटना क्षेत्रीय स्थिरता को नुकसान पहुंचाने तथा हालात को और भड़काने की कोशिश है.

यह भी पढ़ें: आतंकी हमले की आशंका के बाद अलर्ट पर नौसेना, तमिलनाडु में सुरक्षा बढ़ी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दुनिया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 26, 2019, 9:28 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...