अच्छी खबर! माउथवॉश से कुल्ला करने से कोरोना संक्रमण से बचा जा सकता है

अच्छी खबर! माउथवॉश से कुल्ला करने से कोरोना संक्रमण से बचा जा सकता है
माउथवाश इस्तेमाल करने से कोरोना से बचा जा सकता है.

Coronavirus को बाजार में उपलब्ध माउथवॉश (Gargling with Mouthwash) के इस्तेमाल से निष्क्रिय किया जा सकता है. एक अध्ययन में यह दावा किया गया है जिसके मुताबिक इन उत्पादों से कुल्ला करने से मुंह और गले में मौजूद वायरल कण घट सकते हैं और संभवत: कुछ समय के लिए कोविड-19 (Covid-19) के प्रसार के जोखिम को कम कर सकते हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 11, 2020, 1:57 PM IST
  • Share this:
बर्लिन. कोरोना वायरस (Coronavirus) को बाजार में उपलब्ध माउथवॉश (Gargling with Mouthwash) के इस्तेमाल से निष्क्रिय किया जा सकता है. एक अध्ययन में यह दावा किया गया है जिसके मुताबिक इन उत्पादों से कुल्ला करने से मुंह और गले में मौजूद वायरल कण घट सकते हैं और संभवत: कुछ समय के लिए कोविड-19 (Covid-19) के प्रसार के जोखिम को कम कर सकते हैं. हालांकि इस रिसर्च में स्पष्ट कहा गया है कि माउथवाश से कुल्ला करना मास्क पहनने जैसा है, ये संक्रमण की दवा नहीं है बस उससे बचे रहने का एक तरीका है.

जर्मनी के रुह्र यूनिवर्सिटी बोचम (Ruhr University Bochum in Germany) के अनुसंधानकर्ताओं समेत अन्य ने कहा कि कोविड-19 के कुछ मरीजों के गले और मुंह में वायरस के कण या वायरल लोड की अत्यधिक मात्रा देखने को मिल सकती है. उन्होंने कहा कि वायरस के संक्रमण का मुख्य मार्ग संक्रमित व्यक्ति के खांसने, छींकने या बात करने के दौरान उसकी सांस की बूंदों से सीधे संपर्क में आने से और बाद में उसका संपर्क स्वस्थ व्यक्ति के नाक, मुंह या आंख की झिल्लियों से होकर गुजरता है. अध्ययन में इसे लेकर भी आगाह किया गया है कि माउथवॉश कोरोना संक्रमण के इलाज के लिए उपर्युक्त नहीं हैं और न ही ये कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाते हैं.






संक्रमण से बचने में मिलती है मदद
अनुसंधानकर्ताओं का मानना है कि अध्ययन के परिणाम संक्रमण के इस तरीके के जोखिम को घटाने में मदद कर सकते हैं और संभवत: दंत चिकित्सा के लिए प्रोटोकॉल विकसित करने में मददगार हो सकते हैं. उन्होंने कहा कि परिणाम, 'उस विचार का समर्थन करते हैं कि कुल्ला करने से लार में वायरस के कण घटते हैं और इससे सार्स-सीओवी-2 का प्रसार घट सकता है.' यह अध्ययन 'जर्नल ऑफ इंफेक्शस डिजीजेज' में प्रकाशित हुआ है.

कई स्वास्थ्य अधिकारियों ने नौकरी छोड़ी या निकाला गया
उधर कोरोना माहामारी के दौरान अमेरिका में कई राज्य और स्थानीय जन स्वास्थ्य अधिकारी या तो नौकरी छोड़ रहे हैं या उन्हें निकाला जा रहा है. इसका एक ताजा मामला रविवार को समाने आया, जब कैलिफोर्निया की जन स्वास्थ्य निदेशक, डॉ. सोनिया एंगेल ने बिना कोई कारण बताए नौकरी छोड़ दी. इससे वायरस के परिणाम जारी करने में देरी हुई. इस जानकारी का इस्तेमाल व्यवसाय और स्कूलों को दोबारा खोलने का निर्णय लेने के लिए किया जाता है. वहीं पिछले सप्ताह न्यूयॉर्क सिटी के स्वास्थ्य आयुक्त को पुलिस विभाग और सिटी हॉल के साथ कई महीने से चले आ रहे विवाद के बाद उनके पद से हटा दिया गया था.

'कैसर स्वास्थ्य समाचार' सेवा और एसोसिएटेड प्रेसएसोसिएटेड प्रेस (एपी) द्वारा की गई समीक्षा में पाया गया कि अप्रैल से 23 राज्यों में कम से कम 49 राज्य और स्थानीय जन स्वास्थ्य कर्मियों ने इस्तीफा दिया, सेवानिवृत्त हो गए या उन्हें निकाल दिया गया. एपी और केएचएन के जून में नजर रखना शुरू करने के बाद से इस सूची में 20 से अधिक लोग शामिल हुए हैं. 'नेशनल एसोसिएशन ऑफ काउंटी एंड सिटी हेल्थ ऑफिशल्स' के सीईओ लोरी ट्रेम्मेल फ्रीमैन ने कहा कि इन स्वास्थ्य अधिकारियों के जाने से स्थिति खराब हो रही है, वो भी ऐसे समय पर जब अमेरिका को अच्छे स्वास्थ्य नेतृत्व की सबसे अधिक जरूरत है. फ्रीमैन ने कहा कि अधिकतर लोग मास्क पहनने और सामाजिक दूरी बनाने के आदेशों पर विवाद को लेकर इस्तीफा दे रहे हैं. वैज्ञानिक सबूतों और स्वास्थ्य विशेषज्ञों की सलाह के विपरीत, कई राजनेताओं और आम अमेरिकियों ने तर्क दिया है कि इस तरह के उपायों की आवश्यकता नहीं है. उन्होंने कहा, 'यह चिकित्सकीय विभाजन नहीं. यह राजनीतिक विभाजन है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज