Home /News /world /

george bush in another goof up says us attack on iraq was brutal

जॉर्ज बुश की फिसली जुबान, बोले- इराक पर अमेरिकी हमला गलत और बर्बर, सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल

अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति जॉर्ज डब्ल्यू बुश (एएनआई)

अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति जॉर्ज डब्ल्यू बुश (एएनआई)

अमेरिका का पूर्व राष्ट्रपति जॉर्ज बुश ने यूक्रेन पर रूसी आक्रमण को 'इराक युद्ध' के रूप में संदर्भित करते हुए कहा कि इराक पर किया गया हमला बर्बर और गलत था. इस बीच बुश का यह वीडियो सोशल मीडिया में जमकर वायरल हो गया है.

वाशिंगटन. अमेरिका में टेक्सास के डलास स्थित जॉर्ज डब्ल्यू बुश इंस्टीट्यूट में गुरुवार को एक कार्यक्रम को संबोधित कर रहे पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति जॉर्ज डब्ल्यू बुश की जुबान अचानक फिसल गई और उन्होंने गलती से इस बात को मान लिया कि अमेरिका द्वारा इराक पर किया गया हमला गलत था. यूक्रेन पर रूसी हमले विषय पर भाषण दे रहे बुश ने रूसी आक्रमण को ‘इराक युद्ध’ के रूप में संदर्भित करते हुए कहा कि इराक पर किया गया हमला बर्बर और गलत था.

हालांकि बुश ने बाद में अपने बयान को ठीक कर लिया और कहा कि वह यूक्रेन पर रूस के हमले की बात कर रहे थे. इस बीच बुश का यह वीडियो सोशल मीडिया में जमकर वायरल हो गया है. लोग उनके वीडियो पर प्रतिक्रिया दे रहे हैं. वैसे यह पहला मौका नहीं है, जब बुश की जुबान फिसली हो.

यूक्रेन में संघर्ष के बीच रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन पर निशाना साधते हुए, दो बार के अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा, रूसी चुनावों में धांधली हुई है. वहां राजनीतिक विरोधियों को कैद किया जाता है या चुनावी प्रक्रिया से हटा दिया जाता है. इसके चलते रूस में नियंत्रण और संतुलन नहीं है और इराक पर अनुचित और क्रूर आक्रमण शुरू करने का निर्णय एक शख्स द्वारा लिया गया है.

उन्होंने सुधार करते हुए कहा कि मेरा मतलब यूक्रेन से है, उनके बयान पर जब वहां मौजूद भीड़ शांत हो गई, तो उन्होंने हंसते हुए कहा कि बुढ़ापे के कारण उनके जुबान फिसल गई. इसके बाद वहां मौजूद लोग हंसने लगे. बता दें कि बुश 2001 से 2009 तक अमेरिका के राष्ट्रपति रहे. उन्होंने 2003 में इराक पर सैन्य कार्रवाई का आदेश दिया था. अमेरिका ने इराक पर आरोप लगाया था कि इराक के पास विनाशकारी हथियार हैं.

पढ़ें – राष्ट्रपति जो बाइडन की बेटी एशले हुईं कोरोना संक्रमित, नहीं कर सकेंगी लातिन अमेरिका की यात्रा

हालांकि, इराक में इस तरह के कोई हथियार कभी नहीं मिले. इराक बॉडी काउंट के अनुसार इस हमले में लगभग पांच हजार अमेरिकी सैनिकों सहित ढाई लाख से ज्यादा लोग मारे गए थे.

Tags: America, Russia ukraine war

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर