पूर्व राष्ट्रपति जॉर्ज बुश ने बाइडन-कमला को दी बधाई, ट्रंप से कहा- अब हार मान लो

पूर्व राष्ट्रपति जॉर्ज बुश ने भी बाइडन को दी बधाई.
पूर्व राष्ट्रपति जॉर्ज बुश ने भी बाइडन को दी बधाई.

George W Bush on US Election Result: पूर्व राष्ट्रपति और रिपब्लिकन नेता रहे जॉर्ज बुश (George W Bush) ने रविवार को बाइडन (Joe Biden) को अमेरिका का नया राष्ट्रपति चुने जाने पर बधाई दी. उन्होंने ट्रंप (Donald Trump) के लिए लिखा- इससे क्या फर्क पड़ता है कि वोटिंग कैसे हुई, आपके पक्ष में जो वोट डाली गयीं थीं सब गिनीं जा चुकी हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 9, 2020, 7:02 AM IST
  • Share this:
वाशिंगटन. अमेरिका राष्ट्रपति चुनावों (US Election Result 2020) के नतीजें भले ही साफ़-साफ़ जो बाइडन (Joe Biden) के पक्ष में जा रहे हों लेकिन राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) ने इन्हें मानने से साफ़ इनकार कर दिया है. उधर पूर्व राष्ट्रपति और रिपब्लिकन नेता रहे जॉर्ज बुश (George W Bush) ने रविवार को बाइडन को अमेरिका का नया राष्ट्रपति चुने जाने पर बधाई दी. इस बधाई संदेश में उन्होंने ट्रंप से भी अब हार मान लेने की अपील की है. बुश ने कहा- मैंने बाइडन और कमला हैरिस की स्पीच देखी, वह शानदार थी.

बुश पहले रिपब्लिकन ने नेता हैं जिन्होंने बाइडन को सार्वजनिक तौर पर प्रेजिडेंट इलेक्ट कहकर संबोधित किया है. बुश ने लिखा- मैं जानता हूं हम दोनों में राजनीतिक मतभेद रहे हैं, लेकिन ये भी जानता हूं कि जो (बाइडन) अच्छे आदमी हैं, जिन्होंने इस देश का नेतृत्व करने और उसे जोड़ने की ये जिम्मेदारी जीती है. उन्होंने ट्रंप के लिए लिखा- इससे क्या फर्क पड़ता है कि वोटिंग कैसे हुई, आपके पक्ष में जो वोट डाली गयीं थीं सब गिनीं जा चुकी हैं. बुश के मुताबिक उन्होंने बाइडन और कमला हैरिस दोनों को फोन कर बधाई दी है. मैं दोनों के लिए प्रार्थना करूंगा जैसे मैंने अपने पुराने साथी बराक ओबामा के लिए की थी.


ट्रंप को दिया संदेश - बुश ने आगे लिखा- मैं ट्रंप और उनके समर्थकों को इस कड़ी लड़ाई के लिए बधाई देता हूं. 70 मिलियन अमेरिकी वोट पाना खुद में एक बड़ी बात है. लोगों ने रिपब्लिकन्स को अपना समर्थन दिखाया है और सरकार के कई स्तरों से हम उनकी आवाज़ बनकर सामने आते रहेंगे. हालांकि, इससे फर्क नहीं पड़ता कि वोट कैसे डाले गए, अब वोटों की गिनती हो चुकी है. ट्रंप को वोटो के रिकाउंट और अन्य कानूनी लड़ाई लड़ने का भी पूरा हक़ है. लेकिन अमेरिका के लोगों में भरोसा है कि इस चुनाव में मूल रूप से कोई हेरा-फेरी नहीं हुई है, इसकी पवित्रता भी बनी रही है और इसका नतीजा अब सबके सामने है. अब आगे बढ़कर प्रेजिडेंट इलेक्ट बाइडन को इसे देश आगे ले जाने में मदद करने का समय है. मेलानिया ने दिया ट्रंप का साथ- उधर राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और उनकी पत्नी मेलानिया ट्रंप ने अमेरिकी चुनाव के बारे में कुछ मिनटों के अंतर पर ट्वीट कर चुनाव के नतीजों को खारिज किया है. रविवार को ट्रंप वर्जीनिया के गोल्फ़ क्लब में थे जहां उन्होंने बाइडन को विजेता बताने के लिए मीडिया पर निशाना साधा. ट्रंप ने कहा "मीडिया कब से ये तय करने लगी कि हमारा अगला राष्ट्रपति कौन होगा.



बीते दो सप्ताह में हम सबने काफी कुछ सीखा है." इससे कुछ मिनट पहले ही ट्रंप की पत्नी मेलानिया ट्रंप ने एक ट्वीट कर कहा था कि सभी वोटों की गिनती होनी चाहिए. सीएनएन पर एक अपुष्ट रिपोर्ट प्रकाशित होने के बाद मेलानिया ट्रंप ने ट्वीट किया, "अमेरिकियों को पारदर्शी तरीके से कराए गए चुनावों का हक है. सभी वैध वोटों को गिना जाना चाहिए." सीएनएन की रिपोर्ट में दावा किया गया था कि मेलानिया, डोनाल्ड ट्रंप से चुनाव नतीजे मानने की गुज़ारिश कर रही हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज