कोरोना: सोशल डिस्टेंसिंग में छूट मिलते ही जर्मनी और साउथ कोरिया में बढ़े मामले

कोरोना: सोशल डिस्टेंसिंग में छूट मिलते ही जर्मनी और साउथ कोरिया में बढ़े मामले
सिंगापुर के कुछ वैज्ञानिकों ने कुछ देशों में कोरोना के खत्म होने की तारीख बताई है.

जर्मनी (Germany) और साउथ कोरिया (South Korea) में सोशल डिस्टेंसिंग (Social Distancing) के नियमों में छूट मिलते ही वहां कोरोना वायरस संक्रमण के मामले बढ़ गए हैं.

  • Share this:
जर्मनी (Germany) और साउथ कोरिया (South Korea) में सोशल डिस्टेंसिंग (Social Distancing) के नियमों में छूट मिलते ही वहां कोरोना वायरस (Coronavirus) के संक्रमण के मामले बढ़ गए हैं. ये दोनों ही देश कोरोना वायरस के संक्रमण को जल्दी से काबू में लाने में सफल रहे थे. लेकिन अब सोशल डिस्टेंसिंग के गाइडलाइन में छूट दिए जाने के बाद यहां भी संक्रमण के मामलों में तेजी आई है.

दोनों देशों ने प्रतिबंधों में छूट देने के बाद महामारी के दूसरे फेज से निपटने के लिए उपाय अपनाए हैं. साउथ कोरिया ने अपने करीब 2100 नाइट क्लब, बार और डिस्कोथेक पर पाबंदी लगाई है. पिछले हफ्ते क्लब जाने वाले दर्जनों लोग वायरस से संक्रमित पाए गए थे.

इसके बाद सरकार ने मनोरंजन उद्योग से सबंधित स्थलों पर सख्ती के निर्देश जारी कर दिए. इस बारे में मेयर पार्क वून सून ने प्रतिबंध जारी किए हैं. ऐसी जगहों पर लोगों को डिस्टेंस रखने, उनके तापमान को चेक करते रहने, ग्राहकों की लिस्ट बनाने और कर्मचारियों के मास्क पहनने को जरूरी बना दिया गया है.



साउथ कोरिया में एक शख्स से 18 लोगों को हुआ संक्रमण
मेयर की तरफ से कहा गया है कि नाइट कल्बों और डिस्कोथेक में बंदी तब तक प्रभावी रहेगी, जब तक की संक्रमण के मामलों में कमी नहीं आ जाती.

साउथ कोरिया की सेंटर्स फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन की तरफ से बताया गया है कि पिछले 24 घंटों में वायरस संक्रमण के 18 नए मामले सामने आए हैं. ये सभी मामले उस 29 साल के अकेले शख्स से संबंधित हैं, जो पिछले शनिवार को तीन क्लबों में गया था.

जर्मनी में जानवरों के कत्लगाहों में मिले संक्रमण के मामले
जर्मनी में जानवरों के कत्लगाहों में वायरस संक्रमण के नए मामले सामने आए हैं. जिसके बाद जर्मनी की अर्थव्यवस्था खोलने को लेकर नई चुनौती सामने आ गई है. हेल्थ डिपार्टमेंट के अधिकारियों ने जानवरों के तीन कत्लगाहों में वायरस संक्रमण की पहचान की है. इनमे से दो पश्चिमी जर्मनी और एक उत्तरी जर्मनी से संबंधित है.

जर्मनी में स्थानीय प्रशासन को संक्रमण के नए मामलों पर नजर रखने को कहा गया है. बुधवार को प्रतिबंधों में छूट देने के साथ ही नए मामलों पर ध्यान रखने की बात कही गई है, ताकि सामान्य व्यवस्था बहाल हो.

जर्मनी और साउथ कोरिया दोनों ही देशों ने बड़े पैमाने पर कोरोना टेस्टिंग की थी. इसके साथ ही दोनों देशों ने कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग का काम भी किया था. जिसकी वजह से यहां ज्यादा मौतें नहीं हुईं. हालांकि इस बीच नौकरियां बचाने और जान बचाने के बीच संतुलन रखने का संघर्ष जारी है.

ये भी पढ़ें:

ब्रिटेन के 90 फीसदी लोग नहीं चाहते लॉकडाउन में छूट- सर्वे

व्हाइट हाउस कोरोना टास्क फोर्स के 3 कर्मचारी क्वारंटाइन में गए, संक्रमितों के संपर्क में आए थे

महिला टीवी रिपोर्टर के अंकल कहने पर बिफरे सज्जन, सुना डालीं ऐसी-ऐसी बातें, देखें वीडियो

इजरायल ने सड़क को दिया रविन्द्रनाथ टैगोर का नाम, 159वें जन्म जयंती पर सम्मान

कोरोना से निपटने को लेकर ट्रंप पर भड़के ओबामा, लीक ऑडियो कॉल से हुआ खुलासा
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज