लाइव टीवी

कोराना वायरस का डर! जर्मन चांसलर से हाथ मिलाने से गृहमंत्री ने कर दिया इनकार- Video

News18Hindi
Updated: March 4, 2020, 8:12 AM IST
कोराना वायरस का डर! जर्मन चांसलर से हाथ मिलाने से गृहमंत्री ने कर दिया इनकार- Video
जर्मनी की चांसलर एंजेला मर्केल (फोटो-AP)

चीन से बाहर 70 देशों में कोरोना वायरस (Corona Virus) के कई मामलों की पुष्टि हुई है. इन देशों में थाईलैंड, भारत, ईरान, इटली, जापान, सिंगापुर, दक्षिण कोरिया, ऑस्ट्रेलिया, मलेशिया, अमेरिका, फ्रांस, जर्मनी, अमेरिका और संयुक्त अरब अमीरात शामिल हैं. जर्मनी में कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों की संख्या 157 से बढ़कर 188 हो गई है.

  • Share this:
बर्लिन. चीन से दुनियाभर को मिला जानलेवा कोरोना वायरस (Corona Virus) अब महामारी बन चुका है. लोगों में इस वायरस से संक्रमित होने का इस कदर डर बैठ गया है कि वो एक-दूसरे से दूरी बना रहे हैं. कुछ ऐसा ही जर्मनी की चांसलर एंजेला मर्केल (Angela Merkel) के साथ हुआ. दरअसल, एक मीटिंग के बाद जब एंजेला मर्केल गृह मंत्री से हाथ मिलाने के लिए आगे बढ़ीं, तो गृह मंत्री होर्स्ट सीहोफर (Horst Seehofer) ने चांसलर से हाथ मिलाने से इनकार कर दिया. इस घटना के तुरंत बाद एंजेला मर्केल ने अपना हाथ वापस खींच लिया. सोशल मीडिया पर इस घटना का वीडियो वायरल हो रहा है.

जर्मनी की चांसलर एंजेला मर्केल खुद इसे सही ठहराती हैं. उन्होंने कहा, 'यही करना सही है.' वहीं सीहोफर कहते हैं, 'मैंने जब से कोरोना वायरस के बारे में सुना है, तब से एहतिहात बरत रहा हूं. मैंने लोगों से हाथ मिलाना बंद कर दिया है. कोई हाथ मिला रहा है तो मैं नमस्ते कर देता हूं. मुझे लगता है कि ये एक अच्छा कल्चर है.' सीहोफर ने ये भी उम्मीद जताई कि कोरोना वायरस का वैक्सीन अगले महीने तक मिल जाएगा. वैज्ञानिक तेजी से इसपर काम कर रहे हैं.

बता दें कि चीन से बाहर 70 देशों में कोरोना वायरस के कई मामलों की पुष्टि हुई है. इन देशों में थाईलैंड, भारत, ईरान, इटली, जापान, सिंगापुर, दक्षिण कोरिया, ऑस्ट्रेलिया, मलेशिया, अमेरिका, फ्रांस, जर्मनी, अमेरिका और संयुक्त अरब अमीरात शामिल हैं. जर्मनी में कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों की संख्या 157 से बढ़कर 188 हो गई है.



क्या है कोरोना वायरस?
कोरोना वायरस (सीओवी) का संबंध वायरस के ऐसे परिवार से है, जिसके संक्रमण से जुकाम से लेकर सांस लेने में तकलीफ जैसी समस्या हो सकती है. इस वायरस को पहले कभी नहीं देखा गया है. इस वायरस का संक्रमण दिसंबर में चीन के वुहान में शुरू हुआ था. डब्लूएचओ के मुताबिक, बुखार, खांसी, सांस लेने में तकलीफ इसके लक्षण हैं. अब तक इस वायरस को फैलने से रोकने वाला कोई टीका नहीं बना है.

anjeka
होर्स्ट सीहोफर जर्मनी के गृहमंत्री हैं, (फोटो-AP)


क्या है लक्षण?
कोरोना वायरस के कारण अमूमन संक्रमित लोगों में सर्दी-जुक़ाम के लक्षण नज़र आते हैं लेकिन धीरे-धीरे इसके गंभीर लक्षण दिखना शुरू होते हैं. तब तक ये वायरस फेफड़ों पर घातक हमला कर चुका होता है. उसके बाद मरीज की हालत गंभीर हो जाती है. उसे बचाना मुश्किल होता है. यूनिवर्सिटी ऑफ़ एडिनबर्ग के प्रोफ़ेसर मार्क वूलहाउस का कहना है, "जब हमने ये नया कोरोना वायरस देखा तो हमने जानने की कोशिश की कि इसका असर इतना ख़तरनाक क्यों है. यह आम सर्दी जैसे लक्षण दिखाने वाला नहीं है, जो कि चिंता की बात है.

बचने के लिए करें ये 10 उपाय
विश्व स्वास्थ्य संगठन ने प्रभावित इलाके लोगों को जो हिदायतें दी हैं, वो इस तरह है
1. दिन में कई बार साबुन से हाथ धोएं.
2. अपने हाथों से आंख, नाक और मुंह को बार-बार नहीं छुएं.
3. अपनी और परिवार की इम्युनिटी को बरकरार रखने वाली चीजों का सेवन करें.
4. खांसते और छींकते समय अपने मुंह और नाक को अच्छी तरह से ढंककर रखें.
5. खांसी, बुखार और जुकाम के लक्षण होते ही तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें.
6. सांस की किसी तकलीफ़ से संक्रमित मरीज़ों के क़रीब जाने से बचें. मास्क लगाएं.
7. किसी संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आने के फौरन बाद, पालतू या जंगली जानवरों से दूर रहने की सलाह भी दी गई है.
8. कच्चा या अधपका मांस खाने से परहेज करें.
9. नियमित रूप से साफ-सफाई का ध्यान रखें
10. अगर बुखार और खांसी हो तो यात्रा से परहेज करें

ये भी पढ़ें: 70 देशों तक फैला कोरोना वायरस, अब तक 88 हजार लोग संक्रमित

क्या विटामिन C कोरोना वायरस से लड़ने में कारगर साबित हो सकता है, चीन में चल रहा प्रयोग

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दुनिया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 4, 2020, 7:51 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading