जर्मनी की चांसलर ने ठुकराया ट्रंप का आमंत्रण, जी-7 बैठक में नहीं लेंगी हिस्सा

एंजेला मर्केल ने ट्रंप के जी-7 बैठक में हिस्सा लेने का आमंत्रण ठुकरा दिया है.
एंजेला मर्केल ने ट्रंप के जी-7 बैठक में हिस्सा लेने का आमंत्रण ठुकरा दिया है.

जर्मनी (Germany) की चांसलर एंजेला मर्केल (Angela Merkel) ने डोनाल्ड ट्रंप के जी-7 की बैठक में हिस्सा लेने का आमंत्रण ठुकरा दिया है.

  • Share this:
मैड्रिड: जर्मनी (Germany) की चांसलर एंजेला मर्केल (Angela merkel) ने अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) के जी-7 (G-7) की बैठक में हिस्सा लेने का आमंत्रण ठुकरा दिया है. अमेरिका में विकसित देशों के संगठन जी-7 की बैठक होने वाली है. इसमें शामिल होने के लिए ट्रंप ने एंजेला मर्केल को आमंत्रण भेजा था. शुक्रवार को खबर आई है कि एंजेला मर्केल ने ट्रंप के प्रस्ताव को ठुकरा दिया है.

रॉयटर की एक रिपोर्ट के मुताबिक इस बारे में जानकारी देते हुए जर्मनी सरकार के प्रवक्ता स्टेफेन सीबेरेट ने कहा है कि जर्मनी की चांसलर एंजेला मर्केल ने जी-7 की बैठक में हिस्सा लेने के लिए ट्रंप के आमंत्रण पर धन्यवाद जताया है. जून के आखिर में वाशिंगटन में ये बैठक होनी है. लेकिन मौजूदा हालात में महामारी की हालत को देखते हुए मर्केल बैठक में हिस्सा लेने को राजी नहीं हुई हैं. एंजेला मर्केल कोरोना की महामारी के चलते वाशिंगटन की यात्रा नहीं करना चाहती हैं.

ट्रंप जून में करवाना चाहते हैं जी-7 की बैठक
प्रवक्ता की तरफ से कहा गया है कि एंजेला मर्केल महामारी पर नजर बनाए हुए हैं. इस बीच महामारी के बीच भी डोनाल्ड ट्रंप जी-7 की बैठक जारी रखने पर अड़े हैं. व्हाइट हाउस की तरफ से इस बारे में मंगलवार को कहा गया कि देश को दोबारा खोलने का इससे अच्छा मौका नहीं होगा.
जर्मनी कोरोना वायरस के चलते अमेरिका के हुए हाल को देखकर बैठक को स्थगित करने के पक्ष में है. जी-7 सात विकसित अर्थव्यवस्था वाले देशों का संगठन है. इसमें अमेरिका, यूनाइटेड किंगडम, फ्रांस, जर्मनी, इटली, जापान और कनाडा शामिल हैं.



अमेरिका कोरोना वायरस से बुरी तरह से प्रभावित
इसके पहले कोरोना वायरस की महामारी को देखते हुए अमेरिका ने जी-7 की बैठक को स्थगित कर दिया था. लेकिन अब कहा जा रहा है कि ये जून महीने में कैंप डेविड में आयोजित हो सकता है. पिछले हफ्ते भी अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा था कि अमेरिका विश्वभर के नेताओं की अगवानी की तैयारी पर विचार कर रहा है. कोरोना महामारी के बीच ये देश के सामान्य व्यवस्था बहाली में अच्छा साबित होगा.

इसके बाद जर्मनी की तरफ से एंजेला मर्केल ने कहा था कि उन्होंने बैठक में हिस्सा लेने पर अभी तक विचार नहीं किया है. वो इस बारे में निश्चित नहीं है कि वो व्यक्तिगत रूप से बैठक में शामिल होंगी कि वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए इसमें हिस्सा लेंगी.

अमेरिका में कोरोना वायरस ने जबरदस्त कहर बरपाया है. कोरोना के चलते अमेरिका में एक लाख से ज्यादा लोगों ने अपनी जान गंवाई है. यहां वायरस संक्रमण के 17 लाख से ज्यादा मामले सामने आ चुके हैं. अमेरिका में कुल 17 लाख 47 हजार 87 लोग वायरस के संक्रमण की चपेट में हैं. करीब 1 लाख 2 हजार 836 लोगों की जान जा चुकी है.

ये भी पढ़ें:

कोरोना से लड़ने में एकदूसरे की मदद के लिए WHO के साथ मिलकर 37 देशों ने की साझेदारी

कोरोना के मरीजों का इलाज करने वाले भारतीय डॉक्टर यूके के होटल में मृत पाए गए

जमीन खिसकने से मलबे में दफन हो गया नवजात, गांववालों ने जिंदा निकाला

दुनिया में कोरोना Live : ब्राजील में अब तक 27,944 की मौत, रेड जोन से बाहर हुआ पेरिस
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज