लाइव टीवी

जर्मनी : मस्जिद में जगह की थी कमी, चर्च ने नमाज के लिए खोल दिए दरवाजे

News18Hindi
Updated: May 23, 2020, 11:34 PM IST
जर्मनी : मस्जिद में जगह की थी कमी, चर्च ने नमाज के लिए खोल दिए दरवाजे
मस्जिद में जगह कम पड़ी तो चर्च ने नमाजियों के लिए जगह दी. फाइल फोटो

मस्जिद के इमाम मुहम्मद ताहा साबरी बताते हैं, 'चर्च प्रबंधन ने देखा कि मस्जिद में सामाजिक दूरी के कारण नमाज पढ़ने वाले परेशानी में थे, इसलिए उन्होंने हमसे पूछा कि क्या आपको नमाज के लिए जगह की जरूरत है? इस महामारी ने हमें एक समुदाय बना दिया है. संकट लोगों को एक साथ लाता है.'

  • Share this:
बर्लिन. जर्मनी (Germany) की राजधानी बर्लिन (Berlin) में स्थित एक चर्च ने जुमे की नमाज के वक्त मुस्लिमों के लिए अपने दरवाजे खोल दिए. चर्च के कदम को धार्मिक सद्भाव और एकजुटता की मिसाल के तौर पर देखा जा रहा है. गौरतलब है कि जर्मनी में कोरोना वायरस (Coronavirus) की वजह से सामाजिक दूरी (Social distancing) को बनाए रखना जरूरी किया गया है. दरअसल, मस्जिद के अंदर 5 फीट की सामाजिक दूरी बनाए रखकर नमाज पढ़ने की वजह से जगह की कमी हो गई, जिसके बाद पास के एक चर्च ने नमाजियों के लिए जगह दी.

इस महीने की शुरुआत में जर्मनी में पूजा स्थल फिर से खोल दिए गए थे. बर्लिन के न्यूक्वलिन जिले में दारुल सलाम मस्जिद में शुक्रवार की नमाज के लिए सैकड़ों लोग एकत्रित हुए थे, लेकिन सामाजिक दूरी के बाद मस्जिद में केवल 50 नमाजी ही आ सके. ऐसे में धार्मिक सद्भाव और एकजुटता दिखाते हुए पास के मार्था लूथरन चर्च ने अरबी और जर्मन भाषा में मुस्लिम नमाजियों की मेजबानी की.

'इस समय जो कुछ हमने किया वह मजबूती का रिश्ता है'
मस्जिद के इमाम मुहम्मद ताहा साबरी ने कहा कि 'एकजुटता के कारण ऐसी सभाएं होती हैं. चर्च प्रबंधन ने देखा कि मस्जिद में सामाजिक दूरी के कारण नमाज पढ़ने वाले परेशानी में थे, इसलिए उन्होंने हमसे पूछा कि क्या आपको नमाज के लिए जगह की जरूरत है?' यह इन दिनों एकजुटता की अद्भुत मिसाल है. इस महामारी ने हमें एक समुदाय बना दिया है. संकट लोगों को एक साथ लाता है.'



चर्च की पादरी मोनिका मैथिस ने कहा कि वह मुसलमानों का ध्यान इबादत की ओर दिलाने वाली अजान से प्रभावित हुई हैं. उन्‍होंने कहा कि 'मैंने इबादत में भाग लिया. मैंने जर्मन में तकरीरी की. उन्‍होंने कहा कि 'कोरोना वायरस हमें करीब लाया. मुझे लगता है कि एक-दूसरे को जानना और इस समय जो कुछ भी हमने किया वह मजबूती का रिश्ता है.'



ये भी पढ़ें - पाकिस्‍तान में राजनेताओं ने हद कर दी, मिल कर किसानों को लूटा : रिपोर्ट

                मकान मालिक ने घर से निकाला, सऊदी महिला ने बस में बनाया ठिकाना, वीडियो वायरल

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए अन्य देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: May 23, 2020, 10:58 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading