यहां शादी के लिए की जाती हैं लड़कियां किडनैप, Video के बाद हरकत में आई सरकार

यहां शादी के लिए की जाती हैं लड़कियां किडनैप, Video के बाद हरकत में आई सरकार
कॉन्सेप्ट इमेज.

इस प्रथा (Custom) पर रोक लगाने के लिए महिला अधिकार समूहों की लंबे वक्त से मांग रही है. इसके बावजूद सुंबा के कुछ हिस्सों में यह अभी भी जारी है.

  • Share this:
सुंबा द्वीप. दुनिया के हर देश की अपनी अलग-अलग परंपराएं (Tradition) और रीति-रिवाज होते हैं. लेकिन कुछ देशों के रीति रिवाज इतने अधिक अजीब होते हैं जिन्हें सुनकर आपके होश ही उड़ जाएंगे. आज हम आपको इंडोनेशिया (Indonesia) स्थित सुंबा द्वीप की एक ऐसी परंपरा से रूबरू करवाएंगे जहां लड़कियों का पहले अपहरण किया जाता है फिर बाद में उनकी शादी करवाई जाती है. हालांकि इस परंपरा को समाप्त करने के लिए तमाम कोशिशें की जा रही है. शादी के लिए लड़की के अपहरण की एक ऐसी ही कहानी सामने आई है. जहां कुछ लोगों ने एक लड़की का अपहरण कर लिया. इस तरह की प्रथा को यहां काविन टांगकाप कहा जाता है जो सुंबा द्वीप की एक विवादास्पद प्रथा है. इस प्रथा का जन्म कहां हुआ इसको लेकर भी विवाद हैं. इस प्रथा में महिलाओं को शादी करने के इच्छुक पुरुष के परिवारवाले या दोस्त बलपूर्वक उठा लेते हैं.

इस प्रथा पर रोक लगाने के लिए महिला अधिकार समूहों की लंबे वक्त से मांग रही है. इसके बावजूद सुंबा के कुछ हिस्सों में यह अभी भी जारी है. सुंबा इंडोनेशिया का एक द्वीप है. लेकिन, दो महिलाओं के अपहरण की घटना वीडियो में कैद होने और इनके सोशल मीडिया पर बड़े पैमाने पर फैलने के बाद केंद्र सरकार हरकत में आ गई है और अब इस पर सख्ती से लगाम लगाई जा रही है. जिस लड़की का शादी के लिए अपहरण किया गया, उसने बताया कि कार के अंदर से वह अपने ब्वॉयफ्रेंड और माता-पिता को मैसेज करने में कामयाब रही. जिस घर में उसे ले जाया गया. वह उसके पिता के एक दूर के रिश्तेदारों का था. वह बताती है कि वहां पर कई लोग इंतजार कर रहे थे. जैसे ही मैं वहां पहुंची उन्होंने गाना शुरू कर दिया और शादी के कार्यक्रम शुरू कर दिए गए. बता दें कि सुंबा द्वीप पर ईसाई और इस्लाम के अलावा एक प्राचीन धर्म मारापू का भी बड़े पैमाने पर पालन किया जाता है. दुनिया को संतुलन में रखने के लिए इसमें आत्माओं को परंपराओं और बलियों के जरिए खुश किया जाता है. यहां के लोगों का मानना है कि जब पानी आपके माथे पर पहुंच जाता है तो आप घर छोड़ नहीं सकते हैं.

ये भी पढ़ें: 'Black List' से गायब आतंकी संगठनों के पाकिस्तानी चीफ, रिपोर्ट में खुलासा



तीन लड़किया खुशकिस्मत निकलीं
महिला अधिकार समूह पेरुआती ने पिछले चार साल में महिलाओं के अपहरण की इस तरह की सात घटनाओं को दर्ज किया है. समूह का मानना है कि इस द्वीप के दूर-दराज के इलाकों में ऐसी कई और घटनाएं भी इस दौरान हुई होंगी. लेकिन इनमें से सिर्फ तीन लड़कियां ही खुशकिस्मत निकली जो ऐसी शादी से बच निकलीं. अपहरण के सबसे ताजा दो मामलों में जिनके वीडियो जून में बने थे. उनमें से एक महिला ने इस तरीके से हुई शादी में ही बने रहने का फैसला कर लिया. पेरुआती की स्थानीय प्रमुख अप्रिसा तारानाउ कहती हैं, 'वे शादियों में बनी रहती हैं, क्योंकि उनके पास इसका कोई विकल्प नहीं होता है. काविन तांगकाप कई दफा एक अरेंज मैरिज का ही रूप होता है और महिलाएं इसमें सौदेबाजी की हैसियत में नहीं होती हैं.'
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading