होम /न्यूज /दुनिया /टिकटॉक की वजह से TICS का शिकार हो रहीं लड़कियां, डॉक्टर्स ने किया आगाह

टिकटॉक की वजह से TICS का शिकार हो रहीं लड़कियां, डॉक्टर्स ने किया आगाह

TIKTOK के चलते TICS के मामले सामने आ रहे हैं.

TIKTOK के चलते TICS के मामले सामने आ रहे हैं.

VOA News के मुताबिक Tourette syndrome एक तरीके का नर्वस सिस्टम से जुड़ा डिसऑर्डर होता है, जिसकी वजह से मांसपेशियों में ...अधिक पढ़ें

    नई दिल्ली. दुनिया के कई देशों में लड़कियों में सोशल मीडिया साइट्स के चलते एक खास किस्म की बीमारी पाई जा रही है. द वॉल स्ट्रीट जर्नल ने बताया कि कई किशोर लड़कियां TICS की शिकायत के साथ डॉक्टर्स के पास जा रही हैं. TICS का मतलब है लोग अचानक हिलने-डुलने लगते हैं या कोई आवाज करते हैं. लोग ऐसा बार-बार करते हैं. जिन लोगों को TICS की शिकायत है, वे अपने शरीर को इन चीजों को करने से नहीं रोक सकते. इसकी वजहों में तनाव, अवसाद के साथ टिकटॉक भी एक अहम वजह हो सकता है. ऐसे मामलों में इजाफे की शुरुआत कोरोना महामारी के दौरान तेजी से हुई है. कई सारे मेडिकल जर्नल ने इस बारे में आर्टिकल लिखा है कि किशोर युवतियां टिकटॉक पर ऐसे वीडियो देख रही हैं, जो Tourette syndrome से पीड़ित हैं.

    VOA News के मुताबिक Tourette syndrome एक तरीके का नर्वस सिस्टम से जुड़ा डिसऑर्डर होता है, जिसकी वजह से मांसपेशियों में खिंचाव (फड़कना), बार-बार मांसपेशियों का फड़कना, आवाज, हाथ और पांव में अचानक से ऐंठन और मरोड़ होना शुरू हो जाता है. ये डिसऑर्डर खासतौर किसी शख्स को युवावस्था में होता है और फिर धीरे-धीरे ये बढ़ता जाता है.

    जर्मनी की डॉक्टर ने क्या कहा?
    जर्मनी के हनोवर में स्थित एक डॉक्टर डॉ. कर्स्टन मुलर-वाहल ने जेरूसलम पोस्ट को बताया कि वह अधिक से अधिक किशोर और युवा वयस्क लड़कियों में TICS की शिकायत पा रही हैं. 25 वर्षों से टॉरेट का इलाज कर रहे डॉक्टर ने कहा कि जिन लोगों को शिकायत है, जरूरी नहीं है कि सबमें एक ही किस्म के लक्षण हैं. सबमें अलग-अलग लक्षण भी हो सकते हैं.

    उन्होंने जल्द ही पता लगा लिया कि मरीज एक जर्मन YouTuber के TICS की नकल कर रहे थे. यूट्यूबर अपने TICS के बारे में यूट्यूब पर लोगों को बताता है कि वह कैसे इस दिक्कत के साथ अपना जीवन जी रहा है.

    बता दें इस मुद्दे पर कोई राष्ट्रीय या अंतरराष्ट्रीय डेटा नहीं है हालांकि द जर्नल ने बताया कि कुछ चिकित्सा केंद्रों पर TICS के मामले सामान्य से 10 गुना अधिक आ रहे हैं. महामारी से पहले केंद्र महीने में एक या दो मामले आते थे लेकिन अब कुछ डॉक्टर्स कह रहे हैं कि अक्सर 10 से 20 मामले सामने आ रहे हैं.

    Tags: Health Budget, TikTok, TikTok Video

    टॉप स्टोरीज
    अधिक पढ़ें