9 करोड़ रुपये के लिए लड़की ने प्रेमी से करवाया ये खतरनाक काम

9 करोड़ रुपये के लिए लड़की ने प्रेमी से करवाया ये खतरनाक काम
स्लोवेनिया में एक महिला को अपना हाथ काटने पर दो साल की सजा दी गई. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

स्लोवेनिया की राजधानी ल्युब्ल्याना (Ljubljana ) की एक अदालत ने पाया कि 2019 की शुरुआत में जूलिजा एडेलेसिक ने राजधानी के अपने घर में अपने प्रेमी के साथ अपनी कलाई के ऊपर के हिस्से को काटने की साजिश रची थी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 12, 2020, 3:21 PM IST
  • Share this:
ल्युब्ल्याना. स्लोवेनिया में एक महिला को अपना हाथ काटने (Cut her Hand) पर दो साल की सजा दी गई. महिला ने बीमा की रकम (Insured Amount) वसूलने के लिए खुद ही आरी से अपना हाथ काट लिया था. स्लोवेनिया की राजधानी ल्युब्ल्याना (Ljubljana ) की एक अदालत ने पाया कि 2019 की शुरुआत में जूलिजा एडेलेसिक ने राजधानी के अपने घर में अपने प्रेमी के साथ अपनी कलाई के ऊपर के हिस्से को काटने की साजिश रची थी. जिला अदालत ने यह भी कहा कि 22 साल की जूलिजा एडेलेसिक ने हाथ में चोट लगने से एक साल पहले पांच अलग-अलग बीमा कंपनियों की बीमा पॉलिसी ली थीं. महिला का लक्ष्य 1 मिलियन यूरो से अधिक धनराशि इकट्ठा करने का था. उसके प्रेमी को तीन साल की जेल की सजा सुनाई गई, जबकि उसके पिता को एक साल की निलंबित सजा मिली.

दुर्घटना की कहानी कैसे बनाई

लड़की के प्रेमी और पिता उसे घायल अवस्था में अस्पताल ले और अस्पताल के डॉक्टरों और अधिकारियों से यह कहा कि वह इलेक्ट्रिक आरी से पेड़ काट रही थी और गलती से अपना हाथ काट बैठी। अस्पताल के अधिकारियों ने कहा कि ऐसे मामलों में मरीज के परिजन कटा हुआ अंग साथ लेकर आते हैं ताकि उसे दुबारा जोड़ा जा सके और मरीज विकलांग न हो जाये. इस मामले में लड़की के पिता प्रेमी ने ऐसा नहीं किया क्योंकि वे उसे विकलांग बने देना चाहते थे. पुलिस ने जाकर उसके हाथ को बरामद कर उसे दुबारा लगवा दिया. इस तरह मामले की जांच शुरू हुई.



ये भी पढ़ें: ताइवान के रक्षा मंत्री ने चेताया, कहा- सीमा रेखा ना लांघे चीन, अपनी हद में रहे तो बेहतर 
बर्थडे पर पिता से मिली व्हिस्की की बोतलें बेची, अब खरीद रहा है आलीशान घर

प्रॉस्क्यिूटर ने कोर्ट को बताया कि हाथ काटने की घटना के ​कुछ दिनों पहले जेसिका के ब्वॉयफ्रैंड ने इंटरनेट पर कृत्रिम हाथ के बारे में सर्च किया था और यह भी जानने की कोशिश की थी कि ​कृत्रिम हाथ किस तरह काम करते हैं? उन्होंने दावा किया यह साबित करता है कि यह सोच, समझकर किया गया अपराध है. मुकदमे के दौरान जेसिका लगातार इस बात का दावा करती रही है कि उसने अपना हाथ जानबूझ कर नहीं काटा है.

जेसिका ने कहा कि कोई भी अपंग नहीं होना चाहता है. मेरी जवानी तो नष्ट हो गई है. मैंने 20 साल की उम्र में ही अपना हाथ खो दिया है. अगर उनकी यह योजना सफल हो जाती तो उन्हें आधी रकम एकमुश्त 50 हजार मिलियन यूरो डॉलर यानि 4.5 करोड़ रुपये हासिल होता. बाकी की रकम मासिक किश्तों में मिलती.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज