हाफिज सईद उसी जेल में है जहां नवाज शरीफ को रखा गया है

इसी साल मार्च में हाफिज सईद के प्रतिबंधित संगठन जमात-उद-दावा के रावलपिंडी स्थित अस्पताल और मदरसे को सीज कर दिया गया था

News18Hindi
Updated: July 18, 2019, 11:53 AM IST
हाफिज सईद उसी जेल में है जहां नवाज शरीफ को रखा गया है
हाफिज सईद के संगठन जमात-उद-दावा को लश्कर-ए-तैयबा का मुख्य चेहरा माना जाता है
News18Hindi
Updated: July 18, 2019, 11:53 AM IST
मुंबई आंतकी हमले का मास्टरमाइंड और जमात-उद-दावा के सरगना हाफिज सईद को गुरुवार को लाहौर में गिरफ्तार किया गया था. 2009 में हुए टेरर फंडिंग के एक मामले में पंजाब पुलिस के आतंकवाद रोधी विभाग (सीटीडी) ने उसे गिरफ्तार किया. हाफिज को फिलहाल न्यायिक हिरासत में भेजा गया है.

एक ही जेल में दोनों

हाफिज सईद को लाहौर के बेहद सुरक्षित जेल कोट लखपत में रखा गया है. ये वहीं जेल है जहां पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज़ शरीफ भ्रष्टाचार के मामले में सजा काट रहे हैं. आतंकी हाफिज सईद पर आरोप है कि उन्होंने चंदे से जमा पैसे का इस्तेमाल आतंकवादी गतिविधियों में किया है.

अमेरिका ने रखा है 10 मिलियन डॉलर का इनाम

बता दें कि हाफिज सईद के संगठन जमात-उद-दावा को लश्कर-ए-तैयबा का मुख्य चेहरा माना जाता है. 2008 के मुंबई हमले का मास्टरमाइंड भी सईद ही है. सईद को ग्लोबल टेररिस्ट घोषित किया है. उस पर 10 मिलियन अमेरिकी डॉलर का इनाम भी रखा गया है.



जमात-उद-दावा के मस्जिद भी हो चुके हैं सीज़न
Loading...

इसी साल मार्च में हाफिज सईद के प्रतिबंधित संगठन जमात-उद-दावा के रावलपिंडी स्थित अस्पताल और मदरसे को सीज कर दिया गया था. साथ ही पाक सरकार ने आतंकी निरोध एक्ट-1997 के तहत हाफिज के संगठनों जमात-उद-दावा और फलाह-ए-इंसानियत पर भी प्रतिबंध लगा दिया था.

अमेरिका नाराज़

26/11 मुंबई हमले के मास्टरमाइंड हाफिज सईद की गिरफ्तारी के बाद डोनाल्ड ट्रंप के ट्वीट पर अमेरिका के विदेश मामलों की समिति ने करारा जवाब दिया है. समिति ने ट्वीट कर कहा है कि 26/11 मुंबई हमले के मास्टरमाइंड सईद को ढूंढा नहीं गया है. वह पिछले 10 साल से पाकिस्तान में खुलेआम घूम रहा था.

विदेश मामलों की समिति ने ट्वीट किया, पाकिस्तान पिछले 10 साल से हाफिज की कोई खोज नहीं कर रहा था. वह देश में आजादी से रह रहा था. उसे कई बार गिरफ्तार किया गया और छोड़ भी दिया गया. सईद को दिसंबर 2001, मई 2002, अक्टूबर 2002, अगस्त 2006 (दो बार), दिसंबर 2008, सितंबर 2009 और जनवरी 2009 में गिरफ्तार करने के बाद छोड़ दिया गया था.

ये भी पढ़ें:

देश की बड़ी आईटी कंपनी ने की घोषणा, देगी एक लाख का बोनस

कुलभूषण के अलावा पाकिस्तान की जेलों में बंद हैं 273 भारतीय
First published: July 18, 2019, 11:47 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...