हैंड सैनिटाइजर कोरोना से बचाव की जगह फैला रहे कैंसर, 44 में मिले खतरनाक केमिकल्‍स

हैंड सैनिटाइजर में मिले खतरनाक केमिकल. (Pic- AP)

हैंड सैनिटाइजर में मिले खतरनाक केमिकल. (Pic- AP)

Coronavirus: ऑनलाइन फॉर्मेसी फर्म वैलिजर ने दुनियाभर के 260 हैंड सैनिटाइजर (Hand Sanitizer) पर यह अध्‍ययन किया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 25, 2021, 12:29 PM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. देश-दुनिया में कोरोना वायरस संक्रमण (Coronavirus) का कहर कम होने का नाम नहीं ले रहा है. दुनियाभर में इस जानलेवा वायरस से बचाव के तीन प्रमुख उपाय हैं- फेस मास्‍क, हैंड सैनिटाइजर (Hand Sanitizer) और सोशल‍ डिस्‍टेंसिंग. लेकिन अगर आपको यह पता चले कि दुनियाभर के 44 हैंड सैनिटाइजर ऐसे हैं, जो कोरोना से बचाव की जगह लोगों को कैंसर फैला रहे हैं तो आपका चिंतित होना लाजिमी है. लेकिन यह खुलासा एक अध्‍ययन में किया गया है.

न्‍यू हेवन में स्थित ऑनलाइन फॉर्मेसी फर्म वैलिजर ने दुनियाभर के 260 हैंड सैनिटाइजर पर यह अध्‍ययन किया है. इसमें पता चला है कि 44 हैंड सैनिटाइजर में ऐसे केमिकल का उपयोग हो रहा है, जो कि इंसानी स्‍वास्‍थ्‍य के लिए बेहद खतरनाक हैं. इन केमिकल के लगातार संपर्क में आने से कैंसर तक हो रहा है. यह केमिकल लोगों की त्‍वचा के लिए भी काफी खतरनाक हैं.

वैलिजर ने इस खतरे को देखते हुए चिंता व्‍यक्‍त की है और अमेरिकी खाद्य एवं औषधि विभाग (एफडीए) को पत्र लिखकर इसकी जानकारी दी गई है. पत्र में लिखा गया है कि कोरोना से बचने के लिए दुनियाभर में पिछले कुछ दिनों से हैंड सैनिटाइजर का इस्‍तेमाल बढ़ गया है. ऐसे में इन हैंड सैनिटाइजर के अध्‍ययन में इनमें बेंजीन समेत कैंसर का खतरा उत्‍पन्‍न करने वाले कई खतरनाक केमिकल पाए गए हैं.

बेंजीन स्‍वास्‍थ्‍य के लिए बेहद खतरनाक है. बेंजीन के उच्च स्तर के संपर्क में आने से शरीर में रक्त कणिकाएं सही तरीके से काम नहीं कर पाती हैं. कभी-कभी लाल रक्त कणिकाएं बनना बंद हो जाती हैं या फिर व्हाइट ब्लड सेल्स कम होने लगती हैं, जिससे प्रतिरक्षा प्रणाली बेहद कमजोर हो जाती है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज