इतनी दौलत के साथ हिंदुजा ब्रदर्स फिर बने ब्रिटेन के सबसे अमीर

हिंदुजा बंधुओं की संपत्ति में इस वर्ष 1.32 बिलियन पाउंड का इजाफा हुआ है जबकि लक्ष्मी मित्तल टॉप 10 में जगह नहीं बना सके.

News18Hindi
Updated: May 12, 2019, 5:50 PM IST
इतनी दौलत के साथ हिंदुजा ब्रदर्स फिर बने ब्रिटेन के सबसे अमीर
फाइल फोटो
News18Hindi
Updated: May 12, 2019, 5:50 PM IST
भारतीय मूल के श्रीचंद और गोपीचंद हिंदुजा एक बार फिर यूनाइटेड किंगडम (यूके) के सबसे अमीर लोगों की लिस्ट में टॉप पर हैं. संडे टाइम्स में टॉप 100 अरबपतियों पर छपी एक रिपोर्ट के अनुसार 2019 में 1,99,936 करोड़ रुपये (22 बिलियन पाउंड) की दौलत के साथ हिंदुजा ग्रुप ने ब्रिटिश बिजनेसमैन जिम रैटक्‍लिफ को पीछे छोड़ दिया है.

गौरतलब है कि इस साल हिंदुजा ग्रुप ने करीब 1.32 बिलियन पाउंड का मुनाफा कमाया है. इसके साथ ही भारतीय मूल के ही प्रॉपर्टी व्यवसायी डेविड और साइमन रूबेन इस लिस्ट में 18.6 बिलियन पाउंड की संपत्ति के साथ दूसरे स्‍थान पर हैं. वहीं स्टील किंग के नाम से मशहूर लक्ष्मी मित्तल और माइनिंग के बड़े व्यवसायी अनिल मेजर टॉप 20 में ही जगह बना पाए हैं. उद्योगपति स्वराज पॉल और उनका परिवार 2 बिलियन पाउंड की संपत्ति के साथ 69वें नंबर पर हैं.

ऑयल से लेकर प्रॉपर्टी तक का व्यवसाय
लंदन में रह रहे 83 साल के श्रीचंद और 79 साल के गोपीचंद हिंदुजा ग्रुप को संभालते हैं. इस ग्रुप का दखल ऑयल, गैस, आईटी और प्रॉपर्टी के साथ ही कई अन्य सेक्टर्स में भी है. पिछले कुछ समय से लगातार हिंदुजा ग्रुप की आय में इजाफा हो रहा है. इस लिस्ट को बनाने वाले रॉबर्ट वाट्स ने बताया कि इस साल अरबपतियों की संपत्ति में कमाल का उछाल दर्ज किया गया है. उन्होंने बताया कि इस लिस्ट में एंट्री लेवल ही 120 मिलियन पाउंड का रखा गया था.

ये भी पढ़ें: धमाके में पैर गंवाने के बाद जब मिला 'नया पैर' तो खुशी से नाचने लगा ये बच्चा
कई झेल रहे हैं अरबों का नुकसान भी
वहीं रॉबर्ट ने बताया कि ऐसा नहीं है कि सभी अरबपतियों को मुनाफा ही हुआ हो. स्टॉक मार्केट के उतार चढ़ाव और वेस्टमिंस्टर में चल रही राजनीतिक उठा पटक के बाद कई बिजनेसमैन ऐसे भी रहे जिन्हें अरबों का नुकसान भी झेलना पड़ा है वहीं देखने में आया है कि युवा व्यवसायी बाजार का रुख बदल रहे हैं. चाहे फिर वह फैशन रिटेल हो, डेटिंग ऐप हो या फिर यू ट्यूब वीडियोज हों.



यूके फिलहाल 151 अरबपतियों के साथ इस मामले में तीसरे पायदान पर है. वहीं अमेरिका 463 के साथ पहले नंबर पर है और चीन 294 के साथ दूसरे स्‍थान पर है. भारत में अभी 76 अरबपति मौजूद हैं. वहीं अकेले लंदन में 95 अरबपति हैं जो दुनिया भर में किसी भी शहर की तुलना में सबसे ज्यादा हैं. वहीं मुंबई में 33 और दिल्ली में 15 अरबपति रहते हैं.
एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी WhatsApp अपडेट्स

Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...