HIV संक्रमित मां ने बीमार बच्चे को बचाने के लिए डोनेट किया लीवर

प्रतीकात्मक फोटो
प्रतीकात्मक फोटो

विटवॉटरस्रैंड विश्वविद्यालय के विशेषज्ञों ने ट्रांसप्लांट की इस प्रक्रिया को एक लेख में समझाया है जो ‘एड्स’ पत्रिका में गुरुवार को प्रकाशित किया गया.

  • Share this:
दक्षिण अफ्रीका के डॉक्टरों ने गंभीर रूप से बीमार एक बच्चे को बचाने के लिए एचआईवी से संक्रमित उसकी मां के लीवर के एक हिस्से को उसके शरीर में ट्रांसप्लांट कर दिया. डॉक्टरों ने निष्कर्ष निकाला कि विषाणु के मां से बच्चे में फैलने का खतरा कम था जबकि उसकी जान बच सकने की संभावना बहुत ज्यादा थी.

जोहान्सबर्ग के विट्स डोनाल्ड गोर्डन मेडिकल सेंटर की टीम के मुताबिक मां और बच्चा दोनों 2017 में हुए इस ट्रांसप्लांट के बाद से स्वस्थ हैं. हालांकि अब तक यह नहीं पता चल सका कि क्या बच्चे में एड्स फैलाने वाला विषाणु मौजूद था.

विटवॉटरस्रैंड विश्वविद्यालय के विशेषज्ञों ने ट्रांसप्लांट की इस प्रक्रिया को एक लेख में समझाया है जो ‘एड्स’ पत्रिका में गुरुवार को प्रकाशित किया गया.



विश्वविद्यालय ने कहा कि उसका मानना है कि यह विश्व का पहला ऐसा लीवर ट्रांसप्लांट है जो एचआईवी से संक्रमित एक डोनर से लेकर उसके शरीर में किया गया. जिसमें यह विषाणु मौजूद था. साथ ही कहा कि इसकी सफलता अंग दान करने वाले जिंदा व्यक्तियों के संभावित समूह को तलाशने का रास्ता खोलता है जो दूसरों की जान बचा सकते हैं.
 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज