Choose Municipal Ward
    CLICK HERE FOR DETAILED RESULTS

    पाकिस्तान: कचरे से निकालकर सुई लगाता था डॉक्टर! 900 बच्चों को हुआ HIV

    एचआईवी संक्रमण इस कदर फैलने के पीछे डॉ. घंघरू की लापरवाही को ही मुख्य कारण माना गया
    एचआईवी संक्रमण इस कदर फैलने के पीछे डॉ. घंघरू की लापरवाही को ही मुख्य कारण माना गया

    इम्तियाज जिलानी के दो बच्चों की मौत हो चुकी है, जबकि बाकी के चार एचआईवी (HIV) से पीड़ित हैं. उन्होंने बताया कि उन्होंने जब डॉक्टर को रोकने की कोशिश की तो उसने पूछा कि क्या नई सूई के लिए उसके पास पैसे हैं?

    • News18Hindi
    • Last Updated: October 28, 2019, 1:32 PM IST
    • Share this:
    इस्लामाबाद. पाकिस्तान के एक शहर में 900 बच्चे एचआईवी से पीड़ित पाए गए हैं. खबर है कि यहां एक झोलाछाप डॉक्टर ने अपने गरीब मरीज़ों को एक ही सीरिंज से सूई लगा दी, जिस कारण शहर में एचआईवी का प्रकोप इस कदर फैल गया.

    इस मामले में रतोडेरो के डॉक्टर मुजफ्फर घंघरू को गिरफ्तार किया गया. उस पर काम में लापरवाही बरतने और इंसानी जीवन को खतरे में डालने का मामला दर्ज किया है. आरोपी डॉक्टर खुद को बेकसूर बता रहा है, हालांकि गुस्साएं मरीजों का आरोप है कि वह अक्सर बच्चों को यूज़्ड सीरिंज लगा दिया करता था.

    एचआईवी संक्रमण इस कदर फैलने के पीछे डॉ. घंघरू की लापरवाही को ही मुख्य कारण माना गया




    छह बच्चों में से दो की मौत, चार बीमार
    इम्तियाज जिलानी के छह बच्चों का इसी डॉक्टर ने इलाज किया था. न्यूयॉर्क टाइम्स ने जिलानी के हवाले से बताया कि डॉक्टर घंघरू ने उसके सामने कचरे के डब्बे से सूई निकाली और उनके छह वर्षीय बच्चे को इंजेक्शन लगाया. जिलानी ने बताया कि उन्होंने जब डॉक्टर को रोकने की कोशिश की तो उसने पूछा कि क्या नई सूई के लिए उसके पास पैसे हैं. इसके बाद वह चुप हो गए.

    वह बताते हैं कि उनका बच्चा इसके बाद और बीमार पड़ गया और फिर उसके एचआईवी संक्रमित होने का पता चला. जिलानी के दो बच्चों की मौत हो चुकी है, जबकि बाकी के चार एचआईवी से पीड़ित हैं.

    पाकिस्तान के इस शहर में एचआईवी संक्रमण इस कदर फैलने के पीछे डॉ. घंघरू की लापरवाही को ही मुख्य कारण माना गया. हालांकि अधिकारियों ने अपनी राय बदलते हुए इस पीछे कई कारणों की पड़ताल कर रहे हैं.

    न्यूयॉर्क टाइम्स की खबर के मुताबिक, यहां नाई एक ही रेज़र से कई लोगों की हजामत बनाते दिखते हैं, वहीं डेंटिस्ट अस्वच्छ औज़ारों का इस्तेमाल करते पाए जाते हैं.
    अगली ख़बर

    फोटो

    टॉप स्टोरीज