लाइव टीवी

हांगकांग: नकाब प्रतिबंध के बावजूद खत्म नहीं हुई अराजकता, उल्लंघन पर प्रदर्शनकारी अदालत में पेश

भाषा
Updated: October 7, 2019, 12:12 PM IST
हांगकांग: नकाब प्रतिबंध के बावजूद खत्म नहीं हुई अराजकता, उल्लंघन पर प्रदर्शनकारी अदालत में पेश
विश्वविद्यालय के एक छात्र और 38 वर्षीय एक महिला को अवैध रूप से नकाब पहनने के मामले में सोमवार को अदालत में पेश किया गया.

बीजिंग समर्थक नेता कैरी लाम (Carrie Lam) ने औपनिवेशिक काल की आपातकालीन शक्तियों का प्रयोग करते हुए प्रदर्शन के दौरान चेहरा ढकने पर प्रतिबंध लगा दिया है.

  • Share this:
हांगकांग. पुलिस (Police) और प्रदर्शनकारियों (Protesters) के बीच हिंसक संघर्षों के बाद सोमवार को हांगकांग (Hong Kong) के दो प्रदर्शनकारी नकाब पहनने पर लगे नए प्रतिबंध का उल्लंघन करने के मामले में अदालत में पेश हुए. शहर की बीजिंग समर्थक नेता कैरी लाम ने औपनिवेशिक काल की आपातकालीन शक्तियों का प्रयोग करते हुए प्रदर्शन के दौरान चेहरा ढकने पर प्रतिबंध लगा दिया है. जिसके बाद से हांगकांग में पिछले तीन दिन से रैलियां और दंगे हो रहे हैं.

लाम ने कहा कि चार महीनों से जारी लोकतंत्र समर्थक रैलियों पर रोक लगाने के लिए यह प्रतिबंध लगाया गया है. इस प्रतिबंध के बावजूद शहर में अराजकता खत्म नहीं हुई है और यह नकाब पहनकर प्रदर्शन करने वालों की भीड़ को रोकने में नाकाम रहा है. एक विश्वविद्यालय के एक छात्र और 38 वर्षीय एक महिला को अवैध रूप से नकाब पहनने के मामले में सोमवार को अदालत में पेश किया गया.

हांगकांग में नकाब प्रतिबंध के विरोध में प्रदर्शन


नकाब प्रतिबंध मामले में अदालत में पेशी का पहला मामला

इस मामले में अदालत में किसी को पेश किए जाने का यह पहला मामला है. इस दौरान कई लोग अपना चेहरा ढककर अदालत की कार्यवाही देखने पहुंचे. दोनों प्रदर्शनकारियों पर अवैध रूप से एकत्र होने और नकाब पर लगाए गए प्रतिबंध का उल्लंघन करने का आरोप लगाया गया है. पहला आरोप साबित होने पर तीन साल और दूसरा आरोप साबित होने पर अधिकतम एक साल की सजा हो सकती है. फिलहाल दोनों को जमानत पर रिहा कर दिया गया.

कानून अनुचित है के लगे नारे
अदालत के बाहर प्रदर्शनकारियों ने नकाब पहनना अपराध नहीं है, कानून अनुचित है, के नारे लगाए. कई प्रदर्शनकारियों ने आशंका जताई कि इस प्रतिबंध के बाद और आपातकालीन आदेश लागू किए जा सकते है. इस बीच चीनी प्रसारक सीसीटीवी ने ह्यूस्टन रॉकेट के मैचों का प्रसारण रोकने की घोषणा की है. ह्यूस्टन रॉकेट अमेरिका की पेशेवर बास्केट बाल टीम है. हांगकांग प्रदर्शन के समर्थन में किए गए ट्वीट के बाद चीन में इसके खिलाफ विरोध शुरू हो गया था.
Loading...

खेल चैनल सीसीटीवी ने रविवार रात अपने चैनल वायबो पर एक बयान में कहा कि वह टीम के महाप्रबंधक डेरिल मोरे द्वारा ट्विटर पर डाले गए अनुचित बयान की कड़ी निंदा करते हैं. हांगकांग में चीनी शासन के खिलाफ लोगों की नाराजगी और प्रदर्शनकारियों पर पुलिस की कार्रवाई को लेकर पिछले 18 सप्ताह से अशांति का माहौल है.

ये भी पढ़ें: 

अमेरिका की शत्रुतापूर्ण नीतियों के खत्म होने तक वार्ता नहीं : उत्तर कोरिया

दुनिया की सबसे महंगी पार्टियों में इस भारतीय पार्टी प्लानर का है जलवा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दुनिया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 7, 2019, 12:12 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...