अपना शहर चुनें

States

अमेरिका के भावी विदेश मंत्री ने की डोनाल्ड ट्रंप की तारीफ, कहा- चीन पर उनका रवैया सही

डोनाल्ड ट्रंप और जो बाइडेन
डोनाल्ड ट्रंप और जो बाइडेन

US Presidential Election: एंथनी ब्लिंकन पहले भी चीन को अमेरिका के लिए बड़ी चुनौती बता चुके हैं. उन्होंने कहा कि हमें दमखम के साथ अपने फैसले लेने चाहिए. इस दौरान उन्होंने अमेरिका के दूसरे देशों से भी अच्छे संपर्क होने पर भी जोर दिया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 20, 2021, 10:46 AM IST
  • Share this:
वॉशिंगटन. अमेरिका के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति जो बाइडेन (Joe Biden) आज पद एवं गोपनीयता की शपथ लेने वाले हैं. इससे पहले विदेश मंत्री पद के उम्मीदवार एंथनी ब्लिंकन (Antony Blinken) ने डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) के समर्थन में बात कही है. उन्होंने चीन को लेकर ट्रंप के मत की तारीफ की है. हालांकि, इस दौरान उन्होंने रिपब्लिकन नेता के तरीकों पर सवाल भी उठाए हैं. इधर, शुरू से ही रिपब्लिकन पक्ष बाइडेन को चीन के प्रति नर्म रवैया रखने वाला बता रहा है.

सीनेट के फॉरेन रिलेशन कमेटी से बातचीत में एंथनी ब्लिंकन ने कहा 'मुझे यह कहने दो कि मैं भी चीन को लेकर उठाए कड़े कदमों के मामले में राष्ट्रपति ट्रंप सही थे. हालांकि, मैं कई मामलों में उनके किए गए काम के तरीकों से मैं असहमत हूं, लेकिन मूल सिद्धांत काफी सही था और यह हमारी विदेश नीति के लिए जरूरी है.' इस दौरान ब्लिंकन ने यह साफ नहीं किया कि वे किस क्षेत्र में ट्रंप के फैसलों के समर्थन में थे.

Farewell Speech: डोनाल्ड ट्रंप ने अपने विदाई भाषण में कहा- मेरे आंदोलन की यह बस शुरुआत



ब्लिंकन पहले भी चीन को अमेरिका के लिए बड़ी चुनौती बता चुके हैं. उन्होंने कहा कि हमें दमखम के साथ अपने फैसले लेने चाहिए. इस दौरान उन्होंने अमेरिका के दूसरे देशों से भी अच्छे संपर्क होने पर भी जोर दिया. उन्होंने कहा कि ताकतवर हालात तब तैयार होंगे, जब अमेरिका सहयोगियों के साथ मिलकर काम करेगा, अंतरराष्ट्रीय संस्थाओं का नेतृत्व करेगा, बेहतर घरेलू निवेश करेगा और मानवाधिकार के लिए खड़ा होगा.

उन्होंने कहा, 'अगर हम एकसाथ आकर काम करते हैं, तो मुझे लगता है कि हम कमजोर के बजाए शक्तिशाली स्थिति से चीन की तरफ से तैयार की गई चुनौतियों से निपट सकेंगे.' इधर, ट्रंप के बेटे जूनियर ट्रंप ने बाइडेन को चीन को लेकर नर्म रवैया रखने पर भारत के खिलाफ खतरा बताया है. उन्होंने कहा था 'हमें चीन के संकट को समझना होगा और शायद भारतीय-अमेरिकियों से बेहतर इन्हें कोई नहीं जानता.' वहीं, रिपब्लिकन भी बाइडेन के कैबिनेट का मजाक उड़ा चुके हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज