घोटाले और फर्जीवाड़े के आरोपों के बाद भी कैसे जीत रहे हैं बेंजामिन नेतन्याहू

घोटाले और फर्जीवाड़े के आरोपों के बाद भी कैसे जीत रहे हैं बेंजामिन नेतन्याहू
बेंजामिन नेतन्याहू पर धोखाधड़ी और विश्वासघात के आरोप लगे हैं

इजरायल (Israel) में पिछले 11 महीनों में तीसरी बार चुनाव हुए हैं. इजरायल के तीन टेलीविजन चैनल्स ने अपने एग्जिट पोल (exit poll) में बताया है कि नेतन्याहू (Benjamin Netanyahu) के नेतृत्व वाली दक्षिणपंथी लिकुद पार्टी एग्जिट पोल में बढ़त बनाए हुए है

  • Share this:
इजरायल (Israel) के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू (Benjamin Netanyahu) की पार्टी चुनाव में जीत की ओर बढ़ रही है. नेतन्याहू ने एग्जिट पोल (Exit Poll) के नतीजे देखने के बाद अपनी जीत का दावा भी किया है. हालांकि कहा जा रहा है कि बेंजामिन नेतन्याहू की पार्टी बहुमत से कुछ सीटें कम हासिल करती दिख रही है. एग्जिट पोल के नतीजों में उन्हें बहुमत से कुछ सीटें कम मिलती दिख रही हैं.

इजरायल में पिछले 11 महीनों में तीसरी बार चुनाव हुए हैं. इजरायल के तीन टेलीविजन चैनल्स ने अपने एग्जिट पोल में बताया है कि नेतन्याहू के नेतृत्व वाले दक्षिणपंथी लिकुद पार्टी एग्जिट पोल में बढ़त बनाए हुए है. लिकुद पार्टी के मुकाबले पूर्व आर्मी चीफ बेनी गैंट्ज की ब्लू एंड वॉइट पार्टी पीछे चल रही है. अपडेटेड एग्जिट पोल में बेंजामिन नेतन्याहू की लिकुद पार्टी को बहुमत से दो सीटें कम मिलती दिख रही हैं. अगर ऐसा होता है तो इजरायल में डेडलॉक की स्थिति पैदा हो जाएगी.

घोटाले और फर्जीवाड़े के आरोपों के बावजूद कैसे आगे निकल गए बेंजामिन
इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू पर चुनावों के दौरान घोटाले, फर्जीवाड़े और गलत तरीके से पैसों के लेन देन के गंभीर आरोप लगाए गए. इजरायल में चुनाव प्रचार के दौरान पॉलिसी के बजाय नेताओं के चरित्र को ज्यादा प्रमुखता मिली.



नेतन्याहू के ऊपर घूस देने, भरोसे को तोड़ने और फर्जीवाड़ा करने के संगीन आरोप लगे. उन पर आरोप लगाए गए कि उन्होंने अपनी पॉजिटिव मीडिया कवरेज के लिए वहां के मीडिया संस्थानों को लाखों डॉलर्स दिए. बेंजामिन ने गलत तरीके से उपहार हासिल किए.



बेंजामिन नेतन्याहू के ऊपर धोखाधड़ी और फर्जीवाड़े का पहला ट्रायल 17 मार्च से शुरू होने वाला है. हालांकि नेतन्याहू ने किसी भी तरह के गलत काम करने से इनकार किया है. किसी इजरायली प्रधानमंत्री पर चलने वाला ये अपने तरह का पहला ट्रायल होगा.

चुनावों के दौरान ब्लू एंड वॉइट पार्टी के नेता बेनी गैंट्ज़ ने बेंजामिन नेतन्याहू को अभियुक्त करार दिया. उन्होंने आरोप लगाया कि नेतन्याहू गलत तरीके से सत्ता हासिल करने की कोशिश में लगे हैं. वो कानून में बदलाव करके ऐसी स्थिति लाना चाहते हैं, जिसमें पद पर बैठे प्रधानमंत्री को किसी भी तरह के ट्रायल का सामना ना करना पड़े. बेनी गैंट्ज़ ने चुनाव प्रचार के दौरान नेतन्याहू पर तीखे हमले किए.

वहीं नेतन्याहू ने 60 साल के गैंट्ज़ को कायर बताया. उन्होंने कहा कि उन्हें सरकार बनाने के लिए संसद में अरब नेताओं की जरूरत पड़ेगी और वो उनके हाथ बांध देंगे.

क्या बता रहे हैं एग्जिट पोल के नतीजे
एग्जिट पोल के नतीजों के मुताबिक नेतन्याहू की लिकुद पार्टी को 36 से 37 सीटें मिलती दिख रही हैं. वहीं ब्लू एंड वॉइट पार्टी को 32 से 34 सीटें मिलने का अनुमान जताया गया है. इसके पहले सितंबर में हुए चुनाव में ब्लू एंड वॉइट पार्टी ने 33 सीटें हासिल की थीं, जबकि लिकुद पार्टी को 32 सीटें ही मिल पाई थीं. लेकिन बेनी गैंट्ज़ सरकार बनाने के लिए नेतन्याहू की तरह गठबंधन नहीं बना पाए.

क्या डोनाल्ड ट्रंप ने नेतन्याहू की मदद की
इस बात को लेकर चर्चा चल रही है कि क्या अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू की मदद की है. नेतन्याहू के सत्ता संभालते ही ट्रंप मिडिल ईस्ट प्लान लेकर आ गए. इस प्लान में यरुशलम को इजरायल की अखंड राजधानी बताया गया है. इसके मुताबिक वेस्ट बैंक और जॉर्डन में इजरायल को हर तरह के सेटलमेंट करने की हरी झंडी दी गई है. इस प्लान पर फिलीस्तीन ने विरोध जताया था.

इस प्लान को नेतन्याहू के राजनीतिक और निजी जीवन की लाइफलाइन बताया गया. अमेरिका का झुकाव इजरायल की दक्षिणपंथी विचारधारा की तरफ बढ़ा. हालांकि कहा जा रहा है कि इसकी वजह से चुनावों पर असर कम ही पड़ा है.

बेनी गैंट्ज़ ने भी अमेरिका के प्लान का समर्थन किया था. हालांकि उन्होंने कहा था कि वो इस प्लान में अंतरराष्ट्रीय समुदाय को भरोसे में लेकर चलेंगे. चुनाव प्रचार के आखिरी चरणों में नेतन्याहू ने वादा किया कि यरुशलम के सेटलमेंट लोकेशन के नजदीक वो नई हाउसिंग यूनिट्स बनवाएंगे.

ये भी पढ़ें:

इस दवा कंपनी ने किया कोरोना वायरस का इलाज ढूंढ लेने का दावा
कोरोना वायरस: संक्रमण के डर से हैंडशेक से लेकर ‘किस’ तक को किया इन देशों ने बैन
कोरोना वायरस से अमेरिका में 6 लोगों की मौत, उपराष्ट्रपति पेंस बोले- गर्मी आने तक मिल सकेगा इलाज
इटली में बढ़ा कोरोना वायरस, मरने वालों की संख्या हुई 52, 2000 से ज्यादा संक्रमित
कोराना वायरस: इटली में फंसे भारत के 85 छात्र, सरकार से मांगी मदद
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading