Home /News /world /

कोरोना वायरस का एक मरीज कितनों को संक्रमित कर सकता है?

कोरोना वायरस का एक मरीज कितनों को संक्रमित कर सकता है?

वुहान में संक्रमण का एक भी नया मामला नहीं मिला है लेकिन वहां लॉक डाउन की स्थिति बरकरार रहेगी.

वुहान में संक्रमण का एक भी नया मामला नहीं मिला है लेकिन वहां लॉक डाउन की स्थिति बरकरार रहेगी.

ऐसा बताया जा रहा है कि इस बार कोरोना वायरस (Coronavirus) की महामारी में ट्रांसमिशन रेट (transmission rate) कम है. यानी कोरोना वायरस का संक्रमण ज्यादा तेजी से स्वस्थ लोगों में नहीं फैल रहा है.

    कोरोना वायरस (Coronavirus) को लेकर तरह-तरह की जानकारी सामने आ रही है. एक सवाल ये उठ रहा है कि कोरोना वायरस से संक्रमित एक मरीज दूसरे कितने स्वस्थ लोगों को संक्रमित (infected) कर सकता है? क्या एक मरीज दर्जनों लोगों को बीमार कर सकता है? हालांकि ऐसा बताया जा रहा है कि इस बार कोरोना वायरस की महामारी में ट्रांसमिशन रेट कम है. यानी कोरोना वायरस का संक्रमण ज्यादा तेजी से स्वस्थ लोगों में नहीं फैल रहा है.

    संक्रमण के फैलने में कई फैक्टर काम करते हैं. वायरस ट्रांसमिशन को लेकर अंग्रेजी का एक शब्द प्रचलित है- super spreaders, यानी वैसे संक्रमित मरीज जो सबसे ज्यादा तेजी से दूसरों में संक्रमण फैलाते हैं. ये वायरस ट्रांसमिशन के स्टैंडर्ड रेट से बहुत ज्यादा होता है. पिछली बार जब सार्स और मर्स जैसी महामारी फैली थी तो super spreaders से बड़ी तेजी से वायरस का संक्रमण फैला था.

    क्या super spreaders हैं सबसे बड़ा खतरा
    एएफपी की एक रिपोर्ट के मुताबिक कोरोना वायरस के संक्रमण के मामले में super spreaders कम पाए गए हैं. यानी ऐसे संक्रमित मरीज कम हैं, जिन्होंने ज्यादा तेजी से दूसरे स्वस्थ लोगों में वायरस संक्रमण को फैलाया. एएफपी से बात करते हुए जॉन हॉपकिंस यूनिवर्सिटी के एक्सपर्ट अमेश अदलजा कहते हैं कि super spreaders कोई साइंटिफिक टर्म नहीं है. इस बात का कोई तय पैमाना नहीं है, जिसके आधार पर किसी संक्रमित मरीज को super spreaders कहा जाए. लेकिन ये कहा जा सकता है कि super spreaders बाकी संक्रमित मरीजों की तुलना में वायरस का संक्रमण ज्यादा तेजी से फैलाते हैं.

    वायरस का संक्रमण फैलना कई बातों पर निर्भर करता है. मसलन संक्रमित मरीज कितने स्वस्थ लोगों के संपर्क में आया, कितना नजदीकी संपर्क हुआ और कितने देर का संपर्क रहा. नोवल कोरोना वायरस के मामले में कहा जा रहा है कि एक संक्रमित मरीज 2 से 3 स्वस्थ लोगों में संक्रमण फैला रहा है. औसत तौर पर ट्रांसमिशन रेट 2 से 3 ही है.

    कोरोना वायरस के कुछ super spreaders  भी मिले हैं
    हालांकि कुछ संक्रमित मरीज ऐसे भी मिले हैं, जिन्होंने बड़ी तेजी से और बड़ी संख्या में स्वस्थ लोगों को बीमार बनाया. इसी तरह का एक संक्रमित मरीज एक ब्रिटिश नागरिक मिला. इस ब्रिटिश नागरिक ने दर्जनों स्वस्थ लोगों को बीमार किया. जब वो सिंगापुर से लौटा तब भी उसने संक्रमण फैलाया और जब वो आल्प्स की पहाड़ियों में स्कीईंग करने गया, तब भी उसने संक्रमण फैलाया. घर लौटने के बाद उसने पांच लोगों में कोरोना वायरस का संक्रमण फैलाया.

    इसी तरह से साउथ कोरिया में एक संक्रमित महिला ने दर्जनों लोगों को बीमार किया. उस महिला को पेशेंट नंबर 31 कहा जा रहा है. चीन और इटली के बाद साउथ कोरिया में नोवल कोरोना वायरस का संक्रमण सबसे ज्यादा फैला है. हालांकि इसके बाद भी एक व्यक्ति से कितनों में संक्रमण फैला, इसको लेकर एकदम निश्चित रिकॉर्ड नहीं दिया जा सकता.

    इसी तरह से कहा जा सकता है कि बच्चों में कोरोना वायरस के लक्षण हल्के पाए गए हैं, लेकिन वो भी दूसरों में संक्रमण फैलाने की क्षमता रखते हैं, इसलिए दुनियाभर में स्कूलों को बंद किया गया है.

    एक और विशेषज्ञ के मुताबिक वायरस का ट्रांसमिशन रेट बहुत उतार चढ़ाव वाला हो सकता है. क्योंकि हम सभी एकसमान नहीं हैं. हम सबका इम्यून सिस्टम एकजैसा नहीं है. हम अपने व्यवहार में अलग हैं. ये सारे फैक्टर वायरस के संक्रमण में काम करते हैं. इसी आधार पर वायरस का संक्रमण एक आदमी से दूसरे में फैलता है.

    कई विशेषज्ञ super spreaders के अस्तित्व से ही इनकार करते हैं. उनका कहना है कि ऐसा कोई संक्रमित मरीज नहीं होता, जो औरों से ज्यादा तेज गति या बड़ी संख्या में लोगों को संक्रमित करता हो. कुछ विशेषज्ञों का कहना है कि ट्रांसमिशन में वातावरण का अहम रोल होता है. अगर आबादी ज्यादा घनी हो तो संक्रमण ज्यादा तेजी से फैलता है.

    ये भी पढ़ें:

    कोरोनो वायरस: मरीज ने आइसोलेशन में जाने से इनकार किया तो चलेगा हत्या का मुकदमा

    अब अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप भी कोरोना वायरस का टेस्ट करवाने को हुए तैयार

    कोरोना वायरस से मरने वालों में ज्यादातर की उम्र 81 के आसपास, इटली की इस रिपोर्ट से खुलासा

    घरों में कैद इटली के लोगों के लिए पॉर्न साइट ने फ्री किए प्रीमियम कंटेट

    ऐसे पकड़ा गया चीन में कोरोना वायरस का पहला मरीज, डॉक्टर रह गए थे हैरान

    Tags: Corona, Corona Virus, World news

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर