वैज्ञानिकों का खुलासा, ऐसे मेजबान कोशिकाओं की प्रतिरक्षा को भेदता है corona

वैज्ञानिकों का खुलासा, ऐसे मेजबान कोशिकाओं की प्रतिरक्षा को भेदता है corona
कॉन्सेप्ट इमेज.

जर्मनी (Germany) में म्युनिख विश्वविद्यालय के अनुसंधानकर्ताओं समेत वैज्ञानिकों के मुताबिक एनएसपी1 वायरस द्वारा इस्तेमाल किया जाने वाला मुख्य हथियार है जो मेजबान मानव कोशिकाओं में अपनी संख्या बढ़ाने और अपना प्रसार सुनिश्चित करने के लिये उपयोग किया जाता है.

  • Share this:
बर्लिन. वैज्ञानिकों ने इस बात का पता लगाया है कि कैसे कोविड-19 (Covid-19) बीमारी का कारक कोरोना वायरस संक्रमित कोशिकाओं में प्रोटीन के संश्लेषण को रोक देता है, और प्रभावी तरीके से रोग प्रतिरक्षा प्रणाली के एक भाग को प्रभावी रूप से अक्षम बना देता है. इस खोज से इस खतरनाक बीमारी के उपचार (Treatment) के विकास में मदद मिल सकती है. 'साइंस' जर्नल में छपे इस अध्ययन में दिखाया गया है कि मेजबान कोशिकाओं पर नए कोरोनावायरस सार्स-सीओवी-2 द्वारा बनाए गए 'ननस्ट्रक्चरल प्रोटीन1' (एनएसपी1) के विनाशकारी प्रभाव हो सकते हैं.

जर्मनी में म्युनिख विश्वविद्यालय के अनुसंधानकर्ताओं समेत वैज्ञानिकों के मुताबिक एनएसपी1 वायरस द्वारा इस्तेमाल किया जाने वाला मुख्य हथियार है जो मेजबान मानव कोशिकाओं म
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज