कोरोना के बाद अमेरिका में तबाही मचाने आए 2 तूफ़ान, 145 kmph की रफ़्तार से चल रही हवाएं

कोरोना के बाद अमेरिका में तबाही मचाने आए 2 तूफ़ान, 145 kmph की रफ़्तार से चल रही हवाएं
अमेरिका पहुंचे तूफ़ान हन्ना और डगलस

अमेरिका (US) के लिए दो चक्रवाती तूफ़ान और बुरी खबर लेकर आए हैं. तूफ़ान हन्ना (Hurricane Hanna) रविवार शाम को अमेरिका में दक्षिणी टेक्सस (Texas Region) पहुंच चुका है. इसके अलावा एक और तूफ़ान जिसका नाम डगलस (Hurricane Douglas) है, 140 किलोमीटर प्रति घंटा की स्पीड से चल रही हवाओं के साथ प्रशांत महासागर की तरफ से हवाई की ओर बढ़ रहा है.

  • Share this:
वाशिंगटन. कोरोना वायरस (Coronavirus) से सबसे ज्यादा बुरी तरह प्रभावित अमेरिका (US) के लिए दो चक्रवाती तूफ़ान और बुरी खबर लेकर आए हैं. तूफ़ान हन्ना (Hurricane Hanna) रविवार शाम को अमेरिका में दक्षिणी टेक्सस (Texas Region) पहुंच चुका है. इसके अलावा एक और तूफ़ान जिसका नाम डगलस (Hurricane Douglas) है, 140 किलोमीटर प्रति घंटा की स्पीड से चल रही हवाओं के साथ प्रशांत महासागर की तरफ से हवाई (Hawaii)  की ओर बढ़ रहा है. अमेरिकी अधिकारियों ने चेतावनी दी है कि खासकर हन्ना तूफ़ान जानलेवा रूप ले सकता है, क्योंकि इसकी वजह से तेज़ हवाएं चलेंगी और भारी बारिश हो सकती है.

टेक्सस के गवर्नर ग्रेग एबॉट ने 32 प्रांतों के लिए आपदा घोषित कर दी है. उन्होंने कहा है कि कोरोना वायरस के प्रकोप की वजह से आपातकालीन सेवाओं के काम में बाधा आएगी. हन्ना तूफ़ान शनिवार को पाड्रे द्वीप पर पहुंचा था और अब कोर्पस क्रिस्टि और ब्राउन्सविले के बीच के इलाक़े में अपना असर दिखा रहा है. इस तूफ़ान की वजह से 145 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से हवाएं चल रही हैं. जिसकी वजह से कई घरों की छतें उड़ गई हैं. हन्ना श्रेणी एक का तूफ़ान है, जो पांच चरणों वाली सैफिर-सिम्पसन स्केल पर सबसे निचला स्तर है, हालांकि ये भी बाढ़, भारी बारिश और तेज हवाओं के जरिए काफी नुकसान पहुंचा सकता है.


'हर तूफ़ान बड़ी चुनौती होता है'गवर्नर एबॉट ने शनिवार को कहा, 'हर तूफ़ान एक बड़ी चुनौती होता है. ये चुनौती और बड़ी होगी क्योंकि ये एक ऐसे क्षेत्र से गुज़र रहा है जो कोविड-19 से सबसे ज़्यादा प्रभावित है.' अमेरिका के नेशनल हरिकन सेंटर (एनएचसी) ने चेतावनी दी है कि ये ख़तरनाक़ तूफ़ान पोर्ट मैन्सफील्ड से सार्जेंट तक टेक्सास के तट के साथ लगने वाले इलाक़ों में पहुंचेगा. एनएचसी ने स्थानीय लोगों से अपील की है कि वो आपातकालीन सेवाओं की सलाह का पालन करें. ह्यूस्टन क्रॉनिकल की रिपोर्ट के मुताबिक़, तूफ़ान ह्यूस्टन क्षेत्र के ज़्यादातर किनारे वाले इलाक़ों में आएगा. एनएचसी के मुताबिक़, शनिवार को स्थानीय समयानुसार रात 11 बजे 120 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ़्तार से हवा चल रही हैं.



हालांकि मौसम वैज्ञानिक मां रहे हैं कि हन्ना के तेज़ी से कमज़ोर होने की उम्मीद है, क्योंकि वो टेक्सस से आगे जाकर रविवार को उत्तर-पूर्वी मेक्सिको की ओर बढ़ रहा है. उधर तूफान डगलस प्रशांत में हवाई की ओर बढ़ रहा है. इससे मौसम विभाग ने समुद्र में ख़तरनाक ऊंची लहरें उठने की चेतावनी जारी की है. अमेरिकी के राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप ने ट्वीट किया है कि उनका प्रशासन तूफ़ान पर क़रीब से नज़र बनाए हुए है. साथ ही उन्होंने कहा कि वो दोनों राज्यों से इस बारे में बातचीत कर रहे हैं. हन्ना ऐसे वक़्त में टेक्सस से टकराया है जब ये दक्षिणी राज्य कोरोना वायरस के प्रकोप से पहले ही जूझ रहा है. यहां अब तक तीन लाख 80 हज़ार से ज़्यादा संक्रमित मामले सामने आ चुके हैं और क़रीब पांच हज़ार लोगों की मौत हो चुकी है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading