जो बाइडेन बोले- राष्ट्रपति बना तो भारत को दूंगा ये खास तोहफा, मुस्लिम समुदाय को भी मिलेगी राहत

जो बाइडेन बोले- राष्ट्रपति बना तो भारत को दूंगा ये खास तोहफा, मुस्लिम समुदाय को भी मिलेगी राहत
अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में डेमोक्रेटिक उम्मीदवार जो बाइडेन (फाइल फोटो)

पूर्व उपराष्ट्रपति जो बाइडेन (Joe Biden) ने यह भी कहा कि वह मुस्लिम यात्रा प्रतिबंध को रद्द कर देंगे और संयुक्त राज्य अमेरिका के मूल्यों और ऐतिहासिक नेतृत्व के अनुरूप शरणार्थी प्रवेश को तुरंत बहाल करेंगे.

  • Share this:
वाशिंगटन. अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में डेमोक्रेटिक उम्मीदवार और अमेरिका के पूर्व उप-राष्ट्रपति जो बाइडेन (Joe Biden) का हाल ही में भारत को लेकर एक बयान सामवने आया है. उन्होंने कहा कि अगर वह नवंबर में राष्ट्रपति चुनाव जीतते हैं, तो भारतीय आईटी पेशेवरों में सबसे अधिक मांग वाले एच-1 बी वीजा (H-1B Visa) पर लगी स्थाई रोक वह हटा देंगे. दरअसल, 23 जून राष्ट्रपति ट्रंप ने एच -1 बी वीजा को 2020 के अंत तक निलंबित कर दिया था. ट्रंप ने अपने इस कदम के पीछे कोरोना वायरस लॉकडाउन में बेरोजगार हुए अमेरिकियों का हित बताया था. एनबीसी न्यूज द्वारा आयोजित एशियाई अमेरिकी और प्रशांत द्वीप समूह (एएपीआई) मुद्दों पर एक डिजिटल टाउन हॉल बैठक में बिडेन ने एच -1 बी वीजा धारकों के योगदान की प्रशंसा की.

एक सवाल के जवाब में बाइडेन कहा, 'मेरे कार्यकाल में ऐसा नहीं होगा. कंपनी वीजा पर लोगों ने इस देश का निर्माण किया है.' बता दें, H-1B वीजा एक गैर-आप्रवासी वीजा है जो अमेरिकी कंपनियों में विदेशी कर्मचारियों को काम करने की अनुमति देता है. प्रौद्योगिकी कंपनियां भारत और चीन जैसे देशों से हर साल हजारों कर्मचारियों को नियुक्त करती हैं. उन्होंने कहा कि मैं पहले दिन एक करोड़ से ज्यादा अनिर्दिष्ट अप्रवासियों के लिए नागरिकता का रोडमैप प्रदान करने के लिए कांग्रेस को लेजिस्लेटिव इमिग्रेशन रिफार्म बिल भेजने जा रहा हूं. ये अप्रवासी देश में बहुत योगदान देते हैं, जिसमें एएपीआई समुदाय से 1.7 मिलियन शामिल हैं.

मुस्लिम यात्रा प्रतिबंध को रद्द किया जाएगा
बाइडेन ने कहा "मेरी इमिग्रेशन पॉलिसी परिवारों को एक साथ रखने के लिए बनाई गई है, हमारे आव्रजन प्रणाली के स्तंभों के रूप में परिवारों, एकीकरण और विविधता को ध्यान में रखते हुए एक आव्रजन प्रणाली का आधुनिकीकरण किया गया है''.उन्होंने आरोप लगाया कि ट्रंप की इमिग्रेशन नीतियां क्रूर और अमानवीय हैं. बिडेन ने कहा कि वह सपने देखने वालों की सुरक्षा के लिए काम करेंगे, जिसमें पूर्व और दक्षिण एशिया के 100,000 से अधिक लोग शामिल हैं. पूर्व उपराष्ट्रपति ने यह भी कहा कि वह मुस्लिम यात्रा प्रतिबंध को रद्द कर देंगे और संयुक्त राज्य अमेरिका के मूल्यों और ऐतिहासिक नेतृत्व के अनुरूप शरणार्थी प्रवेश को तुरंत बहाल करेंगे.
ये भी पढ़ें: बेबी मूवमेंट के VIDEO में कैद हुई अजीब परछाईं, प्रेग्नेंट महिला की निकल गई चीख



हर साल अमेरिका 1,40,00 ग्रीन कार्ड देता है
बिडेन ने टाउन हॉल प्रतिभागियों से कहा कि वह योग्य ग्रीन कार्ड धारकों के लिए इस बैकलॉग के माध्यम से आगे बढ़ना आसान बना देंगे. अप्रैल में ट्रंप ने 90 दिनों के लिए ग्रीन कार्ड निलंबित करने का कार्यकारी आदेश दिया था. जून में, उन्होंने एक उद्घोषणा जारी की, जिसने निलंबन को 31 दिसंबर, 2020 तक बढ़ा दिया. अमेरिका हर साल परिवार के सदस्यों सहित सभी रोजगार-वरीयता आप्रवासियों के लिए केवल 1,40,000 ग्रीन कार्ड आवंटित करता है. वर्तमान में लगभग 10 लाख विदेशी नागरिकों का बैकलॉग है और परिवार के सदस्यों के साथ अमेरिका में वैध रूप से रहते हैं. इन आवेदकों को मंजूरी दे दी गई है लेकिन अभी तक रोजगार के लिए ग्रीन कार्ड प्राप्त नहीं हुए हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading