लाइव टीवी

कोरोना वायरस : चीन के दो और शहरों में लोगों की आवाजाही पर प्रतिबंध

भाषा
Updated: February 4, 2020, 1:23 PM IST
कोरोना वायरस : चीन के दो और शहरों में लोगों की आवाजाही पर प्रतिबंध
चीन में फैलेे कोरोना वायरस के संक्रमण से हुबेई प्रांत में सबसे अधिक लोगों की जान गई है.

इसके संक्रमण को देखते हुए हांगझोऊ के जिलों में अनिवार्य रूप से मास्क पहनने, आईडी साथ रखने और तापमान (बुखार) की जांच करते रहने जैसे अतिरिक्त उपाय भी सुझाए गए हैं.

  • Share this:
बीजिंग. चीन (China) में घातक कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप के मद्देनजर पूर्वी प्रांत झेजियांग (Zhejiang) के दो शहरों में लोगों की आवाजाही प्रतिबंधित लगा दिया गया है. शहर के अधिकारियों ने बताया कि ताइझू शहर और हांगझोऊ (Hangzhou) के तीन जिलों में हर घर से केवल एक व्यक्ति ही दो दिन में एक बार जरूरी सामान की खरीद के लिए बाहर जा सकता है.

चीन की ऑनलाइन कम्पनी 'अलीबाबा' का मुख्य कार्यालय भी यहां स्थित है. यहां करीब 90 लाख लोग रहते हैं. हुबेई (Hubei) प्रांत में इस वायरस से सबसे अधिक लोगों की जान गई है और ताइझू इससे करीब 850 किलोमीटर दूर स्थित है. शहर में मंगलवार से ट्रेन सेवाएं भी निलंबित कर दी गईं. बयान में कहा कि इसके अलावा सभी आवासीय समुदायों को केवल एक प्रवेश द्वार खुला रखना होगा और स्थानीय लोगों को आवाजाही के समय अपनी आईडी (Identity Card) साथ रखनी होगी.

चीन के कई शहरों में पहले भी प्रतिबंध लग चुका है. इसमें हुबेई प्रांत के 08 शहर, हुआगांग, एझाओ,चीबी, शिआताओ, झिजियांग, छिनजिआंग, लिचुआन और वुहान शामिल हैं.  वहीं हांगझोऊ के जिलों में अनिवार्य रूप से मास्क पहनने, आईडी साथ रखने और तापमान (बुखार) की जांच करते रहने जैसे अतिरिक्त उपाय भी सुझाए गए हैं.

इससे पहले रविवार को वेंगझोउ शहर के झेजियांग में भी स्थानीय लोगों की आवाजाही पर प्रतिबंध लगा दिया गया था. हुबेई प्रांत के बाद झेजियांग में इस विषाणु के संक्रमण के पुष्ट मामलों की संख्या सर्वाधिक है. झेजियांग में 829 मामले सामने आए है. चीन में अभी तक इस घातक कोरोना वायरस के कारण 425 लोगों की जान जा चुकी है और 20,438 मामलों की पुष्टि हुई है.



ये भी पढ़ें- सऊदी अरब में थियेटर की वापसी, महिलाएं रंगमंच पर अपनी कला को दिखाएंगी

              कोरोना वायरस से मरने वालों की संख्या 425 हुई, कुल मामले 20 हजार से ज्यादा

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दुनिया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 4, 2020, 1:15 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर