इमरान खान ने दी परमाणु युद्ध की गीदड़भभकी, बोले- भारत से बातचीत का कोई मतलब नहीं

News18Hindi
Updated: August 22, 2019, 11:47 AM IST
इमरान खान ने दी परमाणु युद्ध की गीदड़भभकी, बोले- भारत से बातचीत का कोई मतलब नहीं
इमरान खान ने चेतावनी दी कि अगर भारत ने पाकिस्तान के खिलाफ सैन्य कार्रवाई शुरू की तो पाकिस्तान जवाब देने के लिए मजबूर होगा. AP/PTI

इमरान खान (Imran Khan )ने चेतावनी दी कि अगर भारत ने पाकिस्तान(India-Paksitan) के खिलाफ सैन्य कार्रवाई शुरू की तो पाकिस्तान जवाब देने के लिए मजबूर होगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 22, 2019, 11:47 AM IST
  • Share this:
पाकिस्तान (Pakistan) के प्रधानमंत्री इमरान खान(Imran Khand) ने कहा है कि वह भारत (India) के साथ बातचीत जारी नहीं रखना चाहते हैं. अमेरिकी अखबार The New York Times को दिए इंटरव्यू में इमरान खान ने परमाणु हमले की  गीदड़भभकी भी दी.

NYT के अनुसार इमरान ने कहा- 'उनसे (भारत) बात करने का कोई मतलब नहीं है. मेरा मतलब है, मैंने सब कुछ कर लिया. दुर्भाग्य से, अब जब मैं पीछे मुड़कर देखता हूं, तो  शांति और संवाद के लिए जो मैं कर रहा था, मुझे लगता है उन्होंने इसे तुष्टीकरण माना.'

NYT के अनुसार इमरान खान ने चेतावनी दी कि अगर भारत ने पाकिस्तान के खिलाफ सैन्य कार्रवाई शुरू की तो पाकिस्तान जवाब देने के लिए मजबूर होगा.

इमरान खान ने कहा कि भारत पाकिस्तान के खिलाफ कार्रवाई को सही ठहराने के लिए कश्मीर में झूठा अभियान शुरू कर सकता है. उन्होंने न्यूयॉर्क टाइम्स को बताया,'मेरी चिंता यह है कि यह बढ़ सकता है और दो परमाणु-सशस्त्र देशों के लिए, यह दुनिया के लिए खतरनाक होगा.'

यह भी पढ़ें:  PAK में इमरान खान पर लगे PM मोदी को कश्मीर बेचने के आरोप

कश्मीर सुरक्षा की पहली पंक्ति 

इससे पहले इमरान खान ने मंगलवार को कहा था कि पाकिस्तान के लिये कश्मीर सुरक्षा की पहली पंक्ति है. उनकी कैबिनेट ने यह फैसला किया है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अगले महीने जब संयुक्त राष्ट्र महासभा को संबोधित करेंगे तब उस दौरान पाकिस्तान कश्मीर में स्थति को रेखांकित करेगा.
Loading...

खान की अध्यक्षता में मंगलवार को हुई कैबिनेट की बैठक के बाद यह घटनाक्रम सामने आया है. पाकिस्तान के प्रधानमंत्री की सूचना मामलों की विशेष सहायक फिरदौस आशिक अवान ने कहा कि कैबिनेट की बैठक के दौरान खान ने जोर दिया कि कश्मीर पाकिस्तान के लिये सुरक्षा की पहली पंक्ति है.

उन्होंने कहा कि मोदी 27 सितंबर को खान से पहले संयुक्तराष्ट्र महासभा को संबोधित करेंगे.

यह भी पढ़ें:  क्यों किया अमेरिका ने भारत-पाकिस्तान के बीच बातचीत का समर्थन

कश्मीर मुद्दे को यूएनएचआरसी में उठाने की योजना

वहीं पाकिस्तान के विदेश कार्यालय के प्रवक्ता मुहम्मद फैसल ने बुधवार को कहा कि इस्लामाबाद कश्मीर मुद्दे को संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद (यूएनएचआरसी) में उठाने की योजना बना रहा है. कश्मीर और गिलगित-बल्तिस्तान मामलों की सीनेट कमेटी को फैसल ने अवगत कराया कि यूएनएचआरसी फोरम के इस्तेमाल सहित विभिन्न विकल्पों को लेकर चर्चा की जा रही है.

उन्होंने कहा कि पाकिस्तान के लिए उपलब्ध दूसरा विकल्प मुद्दे को इस्लामी सहयोग संगठन (ओआईसी) के विदेश मंत्रियों की बैठक में उठाने का है. भारत द्वारा नियंत्रण रेखा पर कथित संघर्षविराम उल्लंघन किए जाने के मुद्दे पर उन्होंने कहा कि स्थिति खतरनाक है और दोनों पक्षों को जनहानि का सामना करना पड़ रहा है.

इस बीच, पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने बुधवार को नॉर्वे की विदेश मंत्री आइने मैरी एरिकसेन सोरीडे से फोन पर बात की और कश्मीर मुद्दे पर चर्चा की.

(भाषा इनपुट के साथ)

यह भी पढ़ें:  PAK का दावा- 6 भारतीय शहीद, सेना ने कहा- झूठ मत फैलाओ

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पाकिस्तान से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 22, 2019, 11:01 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...