अपना शहर चुनें

States

अमेरिका में सिख पुलिस अधिकारी धालीवाल के नाम पर खुलेगा पोस्ट ऑफिस, सीनेट ने दी मंजूरी

पुलिस अधिकारी संदीप सिंह धालीवाल.
पुलिस अधिकारी संदीप सिंह धालीवाल.

पिछले साल 27 सितंबर को संदीप सिंह धालीवाल (Sandeep Singh Dhaliwal) ने ड्यूटी करते दौरान अपने प्राण गंवाए. धालीवाल के पिता प्यारा सिंह धारीवाल ने कहा, ‘हमारा परिवार बेटे के कार्यों के प्रति प्यार और समर्थन के लिए अभारी है.’

  • Share this:
वॉशिंगटन. अमेरिकी संसद के उच्च सदन सीनेट (Senate) ने सर्वसम्मति से ह्यूस्टन के उस पोस्ट ऑफिस (Houston Post Office) का नाम सिख पुलिस अधिकारी संदीप सिंह धालीवाल के नाम पर करने के लिए एक विधेयक को मंजूरी दे दी, जहां पिछले साल नियमित जांच के लिए वाहन रोकने पर उनकी गोली मारकर हत्या कर दी गई थी. अब इस विधेयक को राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प (Donald Trump) के हस्ताक्षर के लिए व्हाइट हाउस (White House) भेजा जाएगा.

कांग्रेस के निम्न सदन प्रतिनिधि सभा सितंबर में ही द्विदलीय समर्थन से ह्यूस्टन के 315 एडिक्स हावेल रोड स्थित पोस्ट ऑफिस का नाम ‘डिप्टी संदीप सिंह धालीवाल पोस्ट ऑफिस बिल्डिंग’ करने को अपनी मंजूरी दे चुकी है. इस विधेयक के अमल के बाद ह्यूस्टन स्थित धालीवाल दूसरा पोस्ट ऑफिस होगा जिसका नाम किसी भारतीय के नाम पर होगा. इससे पहले दक्षिण कैलिफोर्निया में कांग्रेस सदस्य रहे दलीप सिंह सौंध को वर्ष 2006 में यह सम्मान मिला था.

गौरतलब है कि धालीवाल वर्ष 2015 में हैरिस काउंटी शेरिफ कार्यालय में कार्यरत पहले सिख अमेरिकी थे जिन्हें पगड़ी के साथ कार्य करने के नीतिगत फैसले के तहत नियुक्ति मिली. पिछले साल 27 सितंबर को उन्होंने ड्यूटी करते दौरान अपने प्राण गंवाए. धालीवाल के पिता प्यारा सिंह धारीवाल ने कहा, ‘हमारा परिवार बेटे के कार्यों के प्रति प्यार और समर्थन के लिए अभारी है.’



यह भी पढ़ें: अमेरिकी खुफिया निदेशक का बड़ा खुलासा, आर्थिक और तकनीकी रूप से दुनिया पर हावी होने का प्लान बना रहा है चीन!
दिवंगत धालीवाल के अलावा सीनेट ने टेक्सास स्थित कैस्टरविल में अमेरिकी पोस्ट ऑफिस का नाम बदलने का भी बिल पास किया है. इस दफ्तर का नाम लांस कॉर्रपोरल रोनाल्ड डैन रैर्डन करने का प्रस्ताव है. सीनेटर रेड क्रूज ने बताया 'अब ह्यूस्टन के एडिक्स हॉवेल रोड स्थित अमेरिकी पोस्टल ऑफिस कानून व्यवस्था में शामिल अल्पसंख्यक और सिख-अमेरिकियों की श्रद्धांजलि के तौर पर रहेगा.' उन्होंने कहा 'जबकि कैस्टरविल का पोस्ट ऑफिस लांस कॉर्पोरल रैर्डन और उनके साथी सिपाहियों के स्मारक के तौर पर रहेगा.'

उन्होंने कहा 'हमने इन दोनों शानदार अमेरिकी नागरिकों को जल्दी खो दिया है. उनकी याद हमेशा रहेगी, क्योंकि हम उनके देश और समुदायों के लिए योगदानों का हमेशा सम्मान करेंगे.' क्रूज ने कहा 'मैं उम्मीद कर रहा हूं कि आगे राष्ट्रपति ट्रंप इन्हें कानून बनाने के लिए हस्ताक्षर कर देंगे.'
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज