चीन में दंपति ने नशे की तलब पूरी करने के लिए बच्चे को ऑनलाइन बेचा, दोनों गिरफ्तार

चीन में दंपति ने नशे की तलब पूरी करने के लिए बच्चे को ऑनलाइन बेचा, दोनों गिरफ्तार
चीनी दंपति ने अपने नवजात शिशु को आनलाइन बेच डाला (प्रतीकात्मक तस्वीर)

चीन में एक दंपति ने नशे की तलब मिटाने के लिए अपने बच्चे को आनलाइन बेच (Online Sold Own Child) डाला. दंपति ने नवजात के पैदा होने की कुछ ही घंटों बाद उसे 7000 पाउंड यानि 6.60 लाख रुपये में बेच दिया.

  • Share this:
बीजिंग. नशे (Drugs) की तलब को पूरा करने के लिए लोगों को अपनी पत्नी के गहने गिरवी रखते देखा होगा, घर में मारपीट करते देखा होगा लेकिन अपने जिगर को टुकड़े को बेचने की खबर नहीं देखी और सुनी होगी. चीन में एक दंपति (Chinese Couple) ने नशे की तलब मिटाने के लिए अपने बच्चे को आनलाइन बेच (Online Sold Own Child) डाला. दंपति ने नवजात के पैदा होने की कुछ ही घंटों बाद उसे 7000 पाउंड यानि 6.60 लाख रुपये में बेच दिया. इस दंपति ने सोशल मीडिया पर एक दंपति से संपर्क साधा. बच्चा खरीदने वाले दंपति को बच्चा नहीं हो सकता था. यही वजह है कि वे बच्चा खरीदने को तैयार हो गए.

नशीले पदार्थ और नया फोन खरीदा

इस नशेड़ी दंपति ने अपना नवजात बच्चा बेचकर जो रकम हासिल की, उससे खूब सारे ड्रग्स लिया. उन्होंने नए फोन खरीदे और खूब सारी शॉपिंग की. इस दंपति पर नशीले पदार्थों के दुरुपयोग के चलते पहले से ही कई केस दर्ज हैं और यही वजह है कि वे पुलिस के निशाने पर थे. पुलिस को एक होटल में इनके ठिकाने के बारे में पता चला. यहां से उनके पास से ड्रग्स की कई बोतलें और नकदी के ढेर बरामद किए गए.



माता-पिता को हुई जेल
पुलिस ने बताया कि दक्षिण-पश्चिमी चीनी शहर नेइजियांग के रहने वाले वांग और झोंग लंबे समय से ड्रग के आदी थे और कर्ज में दबे थे. इस दंपति को बाल तस्करी के आरोप में सजा सुनाई गई है. पुलिस ने बताया कि दंपति के बच्चे को बचा लिया गया है और अब उसकी देखभाल दादा-दादी करते हैं.

ये भी पढ़ें: कोरोना संकट ने पायलट को बनाया डिलीवरी ब्वॉय, 6 लाख पाने वाला घर-घर पहुंचा रहा है सामान

डोनाल्ड ट्रंप की पहली चुनावी रैली में जुटे कम लोग, स्टेडियम के बाहर हो रहा था विरोध

अमेरिका में हमलावरों ने चलाई ताबड़तोड़ गोलियां, एक की मौत 11 घायल

इंग्लैंड में युवक ने भीड़ भरे पार्क में चाकू घोंपकर तीन की हत्या की और तीन को किया घायल

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार चीन में बच्चों की खरीद-फरोख्त के लिए अवैध तरीके से आनलाइन मार्केट विकसित किया गया है. पुलिस का कहना है कि हर साल करीब 20 हजार बच्चे इस अवैध आनलाइन मार्केट से मुक्त कराए जाते हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज