• Home
  • »
  • News
  • »
  • world
  • »
  • India-China Standoff: भारत-चीन सीमा पर तनाव कायम, इजराइल ने भी दी प्रतिक्रिया

India-China Standoff: भारत-चीन सीमा पर तनाव कायम, इजराइल ने भी दी प्रतिक्रिया

इजराइल ने भी उम्मीद जताई है कि भारत-चीन सीमा विवाद शांति से सुलझा लेंगे.

इजराइल ने भी उम्मीद जताई है कि भारत-चीन सीमा विवाद शांति से सुलझा लेंगे.

India-China Standoff: रूस के बाद अब इजराइल ( Israel) के विदेश मंत्रालय में एशिया-प्रशांत मामलों के उप महानिदेशक गिलाड कोहेन (Gilad Cohen) ने भी भारत-चीन के बीच जारी सीमा विवाद का शांति से हल निकालने की बात कही है. इजराइल ने उम्मीद जताई है कि सब शांति से निपट जाए.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:
    यरूशलम. भारत-चीन के बीच LAC पर तनावपूर्ण हालत (India-China Faceoof) बने हुए हैं. लद्दाख में पैंगॉन्ग सो लेक के दक्षिणी इलाके में भारतीय जवानों से मात खाने बाद चीन चीनी सेना ने अन उत्तरी इलाके में अपने सैनिक बढ़ाने शुरू कर दिए हैं. उधर भारत-चीन तनाव पर रूस की प्रतिक्रिया के बाद इजराइल (Israel) ने भी बुधवार को उम्मीद जतायी की भारत और चीन 'शांतिपूर्ण ढंग' से अपने मतभेद दूर कर लेंगे.

    इजराइल के विदेश मंत्रालय में एशिया-प्रशांत मामलों के उप महानिदेशक गिलाड कोहेन (Gilad Cohen) ने ऑनलाइन ब्रीफिंग के दौरान भारत और चीन के बीच सीमा पर तनाव को लेकर पूछे गए सवाल के जवाब में कहा, 'हम शांतिपूर्ण ढंग से सभी मुद्दों के समाधान की उम्मीद करते हैं. यही हमारी इच्छा है.' कोहेन ने कहा कि इजराइल के दोनों देशों से अच्छे संबंध हैं और वह उनके साथ व्यापारिक संबंध रखने का इच्छुक है. उन्होंने कहा, 'हम एशिया में सभी देशों के साथ अच्छे संबंध रखने की कोशिश करते हैं और यह हमारे लिये बेहद महत्वपूर्ण है. जैसा कि आप जानते हैं कि हमारे भारत के साथ अच्छे हैं. वैसे ही चीन के साथ भी अच्छे रिश्ते हैं.' भारत ने मंगलवार कहा कि चीन के सैनिकों ने सोमवार को पूर्वी लद्दाख में उसकी सीमा के करीब आने की कोशिश की और हवा में गोलियां भी चलाईं, जिसके बाद तनाव बढ़ गया. वास्तविक नियंत्रण रेखा पर 45 साल बाद गोलियां चली हैं.



    रूस ने भी जताई शांति की उम्मीद
    रूस ने मंगलवार को उम्मीद जतायी कि भारत और चीन बातचीत के जरिये सीमा विवाद सुलझा लेंगे. साथ ही उसने दोनों देशों की रजामंदी के बिना मध्यस्थता कराने की बात से भी इनकार कर दिया. भारत में रूसी दूतावास के उप प्रमुख रोमन बबुश्किन ने कहा कि उनकी सरकार बातचीत के जरिये पूर्वी लद्दाख में तनाव कम होते देखना चाहती है. बबुश्किन ने पत्रकारों के साथ ऑनलाइन बातचीत में कहा, 'हमें उम्मीद है कि भारत और चीन बातचीत के जरिये सीमा विवाद सुलझा लेंगे.' उन्होंने यह टिप्पणी पूर्वी लद्दाख में भारतीय और चीनी सैनिकों के बीच ताजा झड़प के बाद बढ़े तनाव के एक दिन बाद की है.

    बबुश्किन ने दोनों देशों के बीच तनाव कम करने में रूस द्वारा मध्यस्थ की भूमिका निभाने की संभावना से इनकार करते हुए कहा कि जब तक दोनों देश नहीं चाहते तब तक ऐसा नहीं हो सकता. उन्होंने कहा, 'हम दोनों देशों के बीच विवादों के समाधान की प्रक्रिया में शामिल नहीं है. हम इसके लिये सकारात्मक माहौल बनाने पर ध्यान केन्द्रित कर रहे हैं.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज