लाइव टीवी

आज आसियान-भारत शिखर सम्मेलन को संबोधित करेंगे पीएम नरेंद्र मोदी

News18Hindi
Updated: November 3, 2019, 5:40 AM IST
आज आसियान-भारत शिखर सम्मेलन को संबोधित करेंगे पीएम नरेंद्र मोदी
बैंकाक में पीएम मोदी ने कहा कि दोनों देशों के बीच दिल और आत्मा का रिश्ता है. (फाइल फोटो)

अनुच्छेद 370 (Article 370) को समाप्त किए जाने का परोक्ष रूप से जिक्र करते हुए पीएम नरेंद्र मोदी ((Narendra Modi)) ने बैंकाक में कहा कि भारत ने आतंकवाद एवं अलगाववाद (Terrorism and Separatism) के पीछे के एक बड़े कारण को नष्ट कर दिया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 3, 2019, 5:40 AM IST
  • Share this:
बैंकाक. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने जम्मू-कश्मीर (Jammu and Kashmir) में अनुच्छेद 370 (Article 370) के अधिकतर प्रावधान निरस्त किए जाने और उसे दो केंद्र शासित प्रदेशों में विभाजित किए जाने का परोक्ष रूप से जिक्र करते हुए शनिवार को बैंकाक में कहा कि भारत ने आतंकवाद एवं अलगाववाद के पीछे के एक बड़े कारण को नष्ट कर दिया है. प्रधानमंत्री मोदी ने थाईलैंड की राजधानी में आयोजित भारतीय समुदाय के कार्यक्रम में जब कश्मीर के संबंध में बात की तो वहां मौजूद करीब 5000 लोगों ने खड़े होकर जबरदस्त तालियां बजाकर उनका अभिवादन किया. तीन दिवसीय दौरे पर यहां आए मोदी रविवार को आसियान-भारत शिखर सम्मेलन को संबोधित करेंगे.

मोदी बोले, जब फैसला सही होता है तो इसकी गूंज पूरी दुनिया में सुनाई देती है
पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा, ‘आप जानते हैं कि भारत ने आतंकवाद एवं अलगाववाद के बीज बोए जाने के पीछे के एक बड़े कारण से छुटकारा पाने का फैसला किया है.’ मोदी ने यहां एक इनडोर स्टेडियम में आयोजित ‘स्वस्ति पीएम मोदी’ कार्यक्रम में कहा, ‘जब फैसला सही होता है तो इसकी गूंज पूरी दुनिया में सुनाई देती है और मैं थाईलैंड में भी यह सुन सकता हूं.’ सरकार का कहना है कि राज्य में आतंकवाद एवं अलगाववाद का कारण जम्मू-कश्मीर को विशेष दर्जा देने वाला संविधान का अनुच्छेद 370 है. लोगों ने जैसे ही मोदी की इस बात पर खड़े होकर तालियां बजाईं, उन्होंने कहा कि ये तालियां भारत की संसद एवं उसके सांसदों के लिए हैं और उनका आशीर्वाद भारतीय सांसदों को देश के लिए और कड़ी मेहनत करने की ऊर्जा देगा.

यह भारत की संसद को सलामी है

मोदी ने कहा, आपके खड़े होकर तालियां बजाने से सांसदों का उत्साह बढ़ेगा. यह भारत की संसद को सलामी है. नरेंद्र मोदी ने करीब 50 मिनट के अपने भाषण में उनकी सरकार द्वारा लाई गई कल्याणकारी योजनाओं, लोकसभा चुनाव में उनकी सरकार के और बड़े जनादेश के साथ सत्ता में लौटने, भारतीय अर्थव्यवस्था की मजबूती, देश के समग्र विकास में भारतीय समुदाय की महत्ता और भारत के वैश्विक स्तर पर बड़ी ताकत के रूप में उभरने समेत कई मामलों पर बात की.

भारत एवं थाईलैंड के बीच दिल और आत्मा का रिश्ता है
पीएम मोदी ने कहा कि उनकी सरकार उन आकांक्षाओं को पूरा करने की कोशिश कर रही है जो पहले असंभव प्रतीत होती थीं. उन्होंने कहा कि जो लोग काम करके दिखाते हैं, उनसे लोगों की अपेक्षाएं भी बढ़ जाती हैं. मोदी ने भारत की एक्ट ईस्ट नीति और आसियान देशों के साथ देश के संबंधों की महत्ता को भी रेखांकित किया. उन्होंने भारत एवं थाईलैंड के बीच ऐतिहासिक संबंधों का भी जिक्र किया. तीन दिवसीय दौरे पर यहां आए मोदी रविवार को आसियान-भारत शिखर सम्मेलन को संबोधित करेंगे.
Loading...

अपने संबोधन में मोदी ने भारत एवं थाईलैंड के बीच ऐतिहासिक एवं सांस्कृतिक संबंधों का जिक्र करते हुए कहा कि यह ‘दिल और आत्मा’ का रिश्ता है. उन्होंने कहा कि उनकी सरकार पूर्वोत्तर क्षेत्र की थाईलैंड के साथ कनेक्टिविटी बढ़ाने पर ध्यान केंद्रित कर रही है. मोदी ने कहा, ‘भारत-म्यामांर-थाईलैंड त्रिपक्षीय राजमार्ग खुलने के बाद दोनों देशों के बीच निर्बाध संपर्क हो जाएगा.’

गुरु नानक देव की शिक्षाएं पूरी दुनिया की धरोहर हैं
पीएम मोदी ने कहा, ‘यह थाईलैंड की मेरी पहली आधिकारिक यात्रा है और मैं देश के विभिन्न पहलुओं में काफी भारतीयता देख सकता हूं-भले ही वह संस्कृति हो, खानपान की आदतें हों या सामाजिक मूल्य हों...पूरी दुनिया भारत के साथ दीपावली मना रही है और मैं देख सकता हूं कि यहां भी ऐसा ही है.’ प्रधानमंत्री ने थाईलैंड के शाही परिवार के साथ भारत के संबंधों का भी जिक्र किया और कहा कि राजकुमारी महा चक्री सिरिनधर संस्कृत की विद्वान हैं और उनका भारत से गहरा नाता है. मोदी ने अपने भाषण में सरकार द्वारा सिख धर्म के संस्थापक गुरु नानक देव का 550वां प्रकाश पर्व मनाए जाने का भी जिक्र किया और कहा कि उनकी शिक्षाएं केवल सिख समुदाय की ही निधि नहीं हैं बल्कि वे पूरी दुनिया की धरोहर हैं.

5 हजार अरब डॉलर की अर्थव्यवस्था बनने के लिए कड़ी मेहनत कर रहा है भारत
मोदी ने करतारपुर गलियारे की भी बात की और कहा कि अगले सप्ताह गलियारा खोले जाने के बाद श्रद्धालु पाकिस्तान स्थित गुरुद्वारा करतारपुर साहिब जा सकेंगे. उन्होंने कहा, ‘जब भारत बोलता है तो पूरी दुनिया उसे सुनती है क्योंकि 1.3 अरब भारतीय नए भारत का निर्माण कर रहे हैं. इन बदलावों के कारण ही भारत के लोगों ने इस बार लोकसभा चुनावों में हमें पहले से भी बड़ा जनादेश दिया है.’ प्रधानमंत्री ने कहा कि भारत विश्व की सबसे तेजी से विकास करती अर्थव्यवस्थाओं में शामिल है और देश 5 हजार अरब डॉलर की अर्थव्यवस्था बनने के लिए कड़ी मेहनत कर रहा है.

ये भी पढ़ें -
 
दिल्ली प्रदूषण: हल्की बारिश और हवा से प्रदूषण हुआ कुछ कम, AQI अब भी गंभीर स्तर

सहायक अध्यापक भर्ती: हाईकोर्ट ने कॉपियों के पुनर्मूल्यांकन का दिया आदेश

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दुनिया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 3, 2019, 5:40 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...