अपना शहर चुनें

States

Covid-19 Vaccination: बांग्लादेश को फ्री में कोविशील्ड की 20 लाख डोज देगा भारत, पाकिस्तान ने भी लगाई आस

पहले चरण में 20 जनवरी को स्पेशल प्लेन से ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका वैक्सीन (कोविशील्ड)  की 20 लाख डोज बांग्लादेश भेज सकता है.
पहले चरण में 20 जनवरी को स्पेशल प्लेन से ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका वैक्सीन (कोविशील्ड) की 20 लाख डोज बांग्लादेश भेज सकता है.

Covid-19 Vaccination: बांग्लादेश के स्वास्थ्य मंत्री जाहिद मलिक ने इस बात की पुष्टि करते हुए कहा है कि बांग्लादेश को भारत की तरफ से उपहार स्वरूप भारी मात्रा में कोरोना वैक्सीन की डोज मिलने वाली है. भारत पहले चरण में 20 जनवरी को स्पेशल प्लेन से ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका वैक्सीन (कोविशील्ड) की 20 लाख डोज बांग्लादेश भेज सकता.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 19, 2021, 11:24 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. भारत समेत दुनिया के ज्यादातर देशों में कोरोना वायरस को हराने के लिए वैक्सीनेशन चल रहा है. भारत में वैक्सीनेशन प्रोसेस (Covid-19 Vaccination Drive in India) के तीन दिन पूरे हो चुके हैं. भारत अपने पड़ोसी देशों को भी वैक्सीनेशन देने वाला है. भूटान के बाद अब भारत सरकार बांग्लादेश (Bangladesh) को कोविड-19 वैक्सीन की डोज मुफ्त में देगी. वहीं, पाकिस्तान (Pakistan) भी मेड इन इंडिया वैक्सीन पाने के लिए संभावनाओं की तलाश कर रहा है. हालांकि, अभी तक पाकिस्तान सरकार की तरफ से ऐसी कोई अपील नहीं की गई है.

बांग्लादेश के स्वास्थ्य मंत्री जाहिद मलिक ने इस बात की पुष्टि करते हुए कहा है कि बांग्लादेश को भारत की तरफ से उपहार स्वरूप भारी मात्रा में कोरोना वैक्सीन की डोज मिलने वाली है. भारत पहले चरण में 20 जनवरी को स्पेशल प्लेन से ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका वैक्सीन (कोविशील्ड) की 20 लाख डोज बांग्लादेश भेज सकता है. भारत में सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया कोविशील्ड बना रही है. बांग्लादेश में कोरोना के अब तक 5 लाख से ज्यादा केस हो चुके हैं. अब तक 7 हजार 900 लोगों की मौत हो चुकी है.

COVID-19 Vaccination: कमजोर इम्यूनिटी वाले बिल्कुल न लें कोवैक्सीन का डोज़- भारत बायोटेक ने जारी की फैक्टशीट



वहीं, पाकिस्तान में भी कोरोना वायरस के 8 लाख से ज्यादा केस आ चुके है, लेकिन ये मुल्क वैक्सीन तो छोड़िए बुनियादी चीजों के लिए भी जद्दोजहद कर रहा है. ऐसे में पाकिस्तान भी मेड इन इंडिया वैक्सीन के लिए संभावनाओं की तलाश कर रहा है. पाकिस्तान की ड्रग रेग्युलेटरी अथॉरिटी ने हाल ही में ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका वैक्सीन के इमरजेंसी इस्तेमाल की मंजूरी दी है. पाकिस्तान में कोरोना से अब तक 11 हजार लोगों की जान जा चुकी है.
इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के मुताबिक, पाकिस्तान ग्लोबल अलायंस फॉर वैक्सीन एंड इम्यूनिसेशन (GAVI) के तहत कोवैक्सीन मुफ्त में पा सकता है. GAVI एपिडेमिक प्रीपेयर्डनेस इनोवेशन (CEPI) और विश्व स्वास्थ्य संगठन की एक संयुक्त संस्था है. इसके तहत 190 देशों की 20 फीसदी आबादी का मुफ्त में वैक्सीनेशन किया जाएगा. इस लिस्ट में पाकिस्तान भी है.

हालांकि, पाकिस्तान द्विपक्षीय संबंधों के बल पर ही भारतीय कंपनी भारत बायोटेक की कोवैक्सीन भी चाहता है. पाकिस्तान वैसे तीसरे देश के जरिए मेड इन इंडिया वैक्सीन भी पा सकता है, लेकिन इसमें ज्यादा खर्चा आएगा.

Covid-19 in India: देश में मिले कोरोना के 10,064 नए मरीज और 137 लोगों की मौत, छह महीने बाद सबसे कम केस

बता दें कि कोरोना महामारी के बीच दुनिया के गरीब देशों को वैक्सीन का बेसब्री से इंतजार है. वहीं, वैक्सीन को लेकर कई देश अब भारत का रुख कर रहे हैं. भारत वैक्सीन के उत्पादन और आपूर्ति के लिए पूरी तरह तैयार है. ब्राजील, मोरक्को, सऊदी अरब, म्यांमार, बांग्लादेश, दक्षिण अफ्रीका जैसे देशों ने भारत से वैक्सीन की आधिकारिक तौर मांग की है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज