लाइव टीवी

भारत ने हिंदू लड़की के अपहरण मामले में पाक उच्चायोग के अधिकारी को किया तलब, भेजा आपत्ति पत्र

भाषा
Updated: January 28, 2020, 7:25 PM IST
भारत ने हिंदू लड़की के अपहरण मामले में पाक उच्चायोग के अधिकारी को किया तलब, भेजा आपत्ति पत्र
भारत ने पाकिस्तान से कहा है कि वह अल्पसंख्यक हिन्दू समुदाय सहित अपने नागरिकों की रक्षा एवं सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए तत्काल कार्रवाई करे.

भारत (India) ने सिंध प्रांत के थारपरकर में 26 जनवरी को माता रानी भटियानी मंदिर में हुई तोड़फोड़ की घटना को लेकर भी पाकिस्तान (Pakistan) को आपत्ति पत्र जारी किया.

  • Share this:
नई दिल्ली. भारत (India) ने पाकिस्तान (Pakistan) के सिंध प्रांत में शादी के मंडप से एक हिंदू लड़की का अपहरण होने की घटना पर कड़ी प्रतिक्रिया जताते हुए मंगलवार को पाक उच्चायोग के एक वरिष्ठ अधिकारी को तलब किया और कड़े शब्दों में आपत्ति पत्र जारी किया. भारत  ने पाकिस्तान सरकार (Pakistan Government) से यह भी कहा कि वह मामले की जांच करे और अल्पसंख्यक हिंदू समुदाय सहित अपने नागरिकों की रक्षा एवं सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए तत्काल कार्रवाई करे.

भारत ने कहा- तुरंत कदम उठाए पाक
भारत ने पाकिस्तान से घृणित और जघन्य अपराध के दोषियों को तुरंत न्याय के कठघरे में लाने के लिए त्वरित कदम उठाने को कहा. इस बारे में एक आधिकारिक सूत्र ने कहा, "भारत ने पाकिस्तान उच्चायोग के एक वरिष्ठ अधिकारी को तलब किया और सिंध प्रांत के हाला शहर में 25 जनवरी को स्थानीय पुलिस की मदद से विवाह समारोह से एक हिंदू लड़की के अपहरण पर कड़े शब्दों में आपत्ति पत्र जारी किया."

भारत ने सिंध प्रांत के थारपरकर में 26 जनवरी को माता रानी भटियानी मंदिर में हुई तोड़फोड़ की घटना को लेकर भी आपत्ति पत्र जारी किया.

पिछले हफ्ते किया गया था अगवा
गौरतलब है कि पाकिस्तान के सिंध प्रांत में सशस्त्र हमलावरों ने 24 साल की हिंदू लड़की को उसके विवाह स्थल से कथित तौर पर अगवा कर लिया और जबरन धर्मांतरण कराके उसकी शादी एक मुस्लिम युवक से करा दी थी. सिंध के अल्पसंख्यक मामलों के मंत्री हरिराम किशोरी ने मंगलवार को घटना का संज्ञान लिया जो पिछले हफ्ते सिंध प्रांत में मटियारी जिले के हाला कस्बे में घटी थी. उन्होंने पुलिस से रिपोर्ट मांगी है.

ऑल पाकिस्तान हिंदू काउंसिल (All Pakistan Hindu Council) ने रविवार को कहा कि भारती बाई को पिछले सप्ताह उसके विवाह स्थल से अपहृत किया गया और उसे जबरन इस्लाम धर्म कबूल करवा कर उसकी शादी शाहरुख गुल से करा दी गई. भारती के पिता किशोर दास ने बताया कि उनकी बेटी की उम्र 24 साल है.दिसंबर 2019 में हुआ था लड़की का धर्मांतरण
स्थानीय खबरों के अनुसार हथियारबंद लोगों ने लड़की को अगवा किया जिनमें से कुछ पुलिस की वर्दी में थे. इस बीच गुल ने सोशल मीडिया पर दस्तावेजों की तस्वीरें डाली हैं जिनमें बताया गया है कि भारती का दिसंबर 2019 में धर्मांतरण हुआ था और उसने बुशरा नाम रख लिया था. दस्तावेजों के अनुसार बनोरी कस्बे के जमीयत-उल-उलूम इस्लामिया में धर्मांतरण किया गया. पुलिस इस बात की तफ्तीश कर रही है कि क्या लड़की प्रमाणपत्र में अंकित तारीखों के आसपास कराची गई थी.

ये भी पढ़ें:-

लाहौर : खालिस्तानी नेता 'हैप्पी PhD' की हत्या, RSS नेताओं की हत्या का था आरोपी

पाकिस्तान के सिंध में मंदिर पर हमला, माता रानी की मूर्ति से तोड़फोड़

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 28, 2020, 6:19 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर