लाइव टीवी

कोरोनावायरस: चीनी नागरिकों और विदेशियों के लिए भारत ने निलंबित की ई-वीजा सुविधा

भाषा
Updated: February 2, 2020, 4:52 PM IST
कोरोनावायरस: चीनी नागरिकों और विदेशियों के लिए भारत ने निलंबित की ई-वीजा सुविधा
कोरोनावायरस से 14,562 लोगों के संक्रमित होने की पुष्टि हुई है

भारत (India) ने दूसरी पाली में कोरोनावायरस (Coronavirus) से सबसे अधिक प्रभावित वुहान (Wuhan) में फंसे 323 भारतीय और मालदीव (Maldives) के सात नागरिकों को रविवार को निकाला.

  • Share this:
बीजिंग. भारत (India) ने रविवार को चीन (China) से आने वाले चीनी एवं अन्य विदेशी यात्रियों के लिए ई-वीजा (E-Visa) की सुविधा अस्थायी रूप से स्थगित कर दी. भारत ने यह कदम चीन में कोरोना वायरस (Coronavirus) के संक्रमण से 300 से अधिक लोगों की मौत, 14,562 लोगों के संक्रमित होने और भारत, अमेरिका (America), ब्रिटेन (Britain) सहित 25 देशों में इसके प्रसार के मद्देनजर उठाया है.

भारतीय दूतावास (Indian Embassy) ने यहां घोषणा की, 'हाल की गतिविधियों के मद्देनजर तत्काल प्रभाव से ई-वीजा के माध्यम से भारत की यात्रा पर रोक लगाई जाती है.'

इन लोगों पर लागू होगा फैसला
दूतावास ने कहा, 'यह फैसला चीनी पासपोर्ट धारकों और अन्य देशों के उन आवेदकों पर लागू होगा जो चीन की मुख्य भूमि में रहते हैं. इसी प्रकार से जिन लोगों को पहले ही ई-वीजा जारी किया जा चुका है वे ध्यान दें कि अब उनका ई-वीजा वैध नहीं है.'

भारतीय दूतावास ने आदेश में कहा, 'जिन लोगों के लिए भारत की यात्रा अपरिहार्य है वे बीजिंग स्थित भारतीय दूतावास और शंघाई एवं ग्वांगझोउ स्थित महा वाणिज्यदूतावास और इन शहरों में स्थित भारतीय वीजा आवेदन केंद्रों से संपर्क कर सकते हैं.'

भारतीय नागरिकों को निकाला गया
इस बीच, भारत ने दूसरी पाली में कोरोना वायरस से सबसे अधिक प्रभावित वुहान (Wuhan) में फंसे 323 भारतीय और मालदीव के सात नागरिकों को रविवार को निकाला. इस प्रकार भारत ने दो विमानों से 654 लोगों को वुहान से निकाला है.उल्लेखनीय है कि भारत ने एयर इंडिया (Air India) के जंबो बोइंग विमान 747 ने दो उड़ान वुहान के लिए भरी थीं. पहली उड़ान में शनिवार को 324 लोगों को निकाला गया जबकि रविवार को 323 भारतीय और सात मालदीवियाई नागरिकों को लेकर विमान वुहान से उड़ान भर चुका है.

कोरोनावायरस से 305 लोगों की मौत
घातक कोरोना वायरस के संक्रमण के कारण चीन के बाहर मौत का पहला मामला फिलीपीन (Philippines) में सामने आया है और इस विषाणु के कारण मरने वालों की संख्या बढ़कर 305 हो गई है. इस विषाणु से 14,562 लोगों के संक्रमित होने की पुष्टि हुई है.

फिलीपीन में कोरोना वायरस के कारण रविवार को एक व्यक्ति की मौत हो गई. इस विषाणु के कारण किसी व्यक्ति की चीन के बाहर मौत होने का यह पहला मामला है. विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने रविवार को यह जानकारी दी. इससे कुछ ही घंटे पहले चीन के राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग ने बताया था कि शनिवार तक इस विषाणु के कारण कुल 304 लोगों की मौत हुई है.

फिलीपीन में जिस व्यक्ति की मौत हुई है, वह चीन के वुहान शहर का रहनेवाला था.

चीन के बाहर पहली मौत
डब्ल्यूएचओ में फिलीपीन के प्रतिनिधि रवींद्र अबेयासिंघे ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘यह चीन के बाहर मौत का पहला मामला है.' इससे पहले, चीन के राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग (एनएचसी) ने अपनी दैनिक रिपोर्ट में बताया कि शनिवार तक इस बीमारी के कारण 304 लोगों की मौत हो गई और 14,562 लोगों के इस विषाणु से संक्रमित होने की पुष्टि हुई है.

चीन के एनएचसी के अनुसार सभी लोगों की मौत हुबेई प्रांत में हुई है. आयोग ने बताया कि शनिवार को इस संक्रमण के 4,562 नए संदिग्ध मामले सामने आए. इसने बताया कि शनिवार को 315 लोग गंभीर रूप से बीमार हो गए और 85 लोगों को स्वास्थ्य सुधार के बाद अस्पताल से छुट्टी दे दी गई.

ये भी पढ़ें-
मानवता की मिसाल, चीन से 323 भारतीयों के साथ मालदीव के 7 लोगों को किया एयरलिफ्ट

कोरोना वायरस के डर से पालतू जानवरों को घर से बाहर फेंक रहे लोग

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दुनिया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 2, 2020, 4:29 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर